Header 300×250 Mobile

मिस्टर बिहार प्रतियोगिता में गोल्ड पर रोहतास का कब्जा

सासाराम के गौरव ने 2.5 सौ प्रतियोगियों को पछाड़ते हुए जीता खिताब

- Sponsored -

1,285

- sponsored -

- Sponsored -

मिस्टर इस्टर्न इंडिया में फर्स्ट रनर अप का खिताब प्राप्त कर चुके हैं गौरव चौहान

राजधानी पटना में आयोजित हुई प्रतियोगिता, रोहतास के युवाओं में भरा जोश

रोहतास से अभिषेक कुमार सुमन की रिपोर्ट

voice4bihar news. बिहार की राजधानी पटना आयोजित मिस्टर बिहार 2021 प्रतियोगिता में रोहतास के युवक ने सवा दो सौ से अधिक प्रतिभागियों को पछाड़ते हुए गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया है। पटना के आराधना मैरिज हॉल में विगत सात मार्च को मिनी जिम के संचालक राजू राज की मॉनिटरिंग में बिहार फिजिक रिलायंस के बैनर तले यह प्रतियोगिता हुई। गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाने वाला नौजवान गौरव चौहान सासाराम के गौरक्षणी मुहल्ले के संतोषी पथ निवासी अधिवक्ता मरकंडेय सिंह का पौत्र है। गौरव के पिता अरविंद सिंह एक साधारण किसान हैं।

बीएमडब्ल्यू जिम संचालक की मानिटरिंग में मिली सफलता

बॉडी बिल्डिंग एंड फिजिक्स चैंपियनशिप 2021 में मिस्टर बिहार प्रतियोगिता के इस तगड़े मुकाबले के बीच गौरव ने अपना स्थान प्राप्त करते हुए गोल्ड मेडल जीता। गौरव ने गोल्ड मेडल प्राप्त करने की सफलता पर चर्चा के दौरान बताया कि गोल्ड मेडल प्राप्त करना कठिन परिश्रम के पश्चात संभव हो सका है। आने वाले समय में इससे भी बड़े मुकाम को हासिल करने की इच्छा जताई।

गौरव ने सासाराम के धर्मशाला रोड स्थित बीएमडब्ल्यू जिम के संचालक शिव मौर्य को इस मुकाम तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाने का श्रेय दिया और बताया कि बिना मार्गदर्शन के कोई भी किसी लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर सकता। इसके पहले गौरव चौहान ने मिस्टर इस्टर्न इंडिया में फर्स्ट रनर अप का खिताब प्राप्त किया है, जो पिछले 28 फरवरी को देवघर में आयोजित किया गया था।

विज्ञापन

मिस्टर बिहार प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल विजेता गौरव चौहान के साथ कोच व अन्य प्रतियोगी।

मेधावी छात्र होने के बावजूद बॉडी बिल्डिंग में रूचि

मिस्टर बिहार 2021चैंपियनशिप प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाने वाले गौरव चौहान मेधावी छात्र रहे हैं। 9.5 सीजीपीए के साथ मैट्रिक की परीक्षा पास करने के बाद गौरव ने रांची से 12वीं तक की पढ़ाई की। 12वीं की शिक्षा प्राप्त करते के साथ में आईआईटी की तैयारी में जुटे लेकिन अच्छे अंक आने के बावजूद कॅरियर की दिशा बदल दी। गौरव ने मुंबई जाकर के-11 इंस्टीट्यूट से बॉडी बिल्डिंग के लिए फॉर इंटरनेशनल स्टूडेंट्स एंड डिप्लोमा का कोर्स किया और इस क्षेत्र में सक्रिय हो गए।

मिस्टर बिहार प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल विजेता गौरव चौहान।
मिस्टर बिहार प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल विजेता गौरव चौहान खिताब के साथ।

सरकारी प्रोत्साहन नहीं मिलने के बावजूद युवाओं के हौसले बुलंद : शिव मौर्या

मिस्टर बिहार प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल प्राप्त करने पर बीएमडब्ल्यू जिम के संचालक शिव मौर्या ने गौरव को बधाई दी है। श्री मौर्या ने कहा कि सरकारी सुविधाओं के अभाव और अब तक बॉडी बिल्डिंग को किसी भी तरह से सरकारी प्रोत्साहन नहीं मिलने के बावजूद जिम संचालकों द्वारा आयोजित प्रतियोगिता के आधार पर युवाओं में जोश बरकरार रखा गया है। वह दिन दूर नहीं जब रोहतास के नौजवानों को बॉडी बिल्डिंग के क्षेत्र में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पहचान मिलेगी। इसके लिए शहर के सभी जिम संचालक सक्रिय हैं, जिसमें प्रतिभागी नौजवानों के हौसले काफी बुलंद हैं।

यह भी पढ़ें : नेशनल ताइक्वांडो प्रतियोगिता में रोहतास की आंचल का गोल्ड पर कब्जा

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored