Header 300×250 Mobile

भारत-नेपाल के बीच होगा रोचक मुकाबला, चर्चित फुटबॉल खिलाड़ी सुनील क्षेत्री करेंगे भारतीय टीम की कप्तानी

काठमांडू के दशरथ रंगशाला में होगा अंतरराष्ट्रीय सीनियर फुटबॉल मैच, दो दिन पहले ही टिकट फुल

- Sponsored -

547

- Sponsored -

- sponsored -

भारत व नेपाल के बीच अब तक हो चुकी हैं 19 प्रतिस्पर्धा, भारत ने 13 मैच किये अपने नाम

6 वर्ष के बाद नेपाल गयी है भारत की सीनियर फुटबॉल टीम, दो फैंसी मैच खेले जाएंगे

फुटबॉल मैच को लेकर दर्शकों में उत्साह, नेपाल में ही है भारतीय कप्तान का ननिहाल

काठमांडू से राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

Voice4bihar news. कोरोना काल की त्रासदी से राहत मिलते ही भारत व नेपाल के रिश्तों में गर्माहट लाने के लिए इंटरनेशनल फैंसी मैच की पहल शुरू हुई। नेपाल के साथ दो मैत्रीपूर्ण फुटबॉल मैच को खेलने के लिए भारतीय सीनियर फुटबॉल टीम काठमांडू पहुंच चुकी है। नेपाल के विरुद्ध खेला जाने वाला यह मैत्रीपूर्ण मैच चर्चित फुटबॉल खिलाड़ी सुनील क्षेत्री की कप्तानी में होगा। प्रतिस्पर्धा में भाग लेने के लिए भारत से 25 खिलाड़ी काठमांडू पहुंचे हैं।

काठमांडू स्थित दशरथ रंगशाला के मैदान में होगी प्रतिस्पर्धा

बताया जाता है कि नेपाल व भारत की टीमें आगामी चैंपियनशिप की तैयारी स्वरूप दो मैत्रीपूर्ण खेल खेलेंगी। अखिल नेपाल फुटबॉल संघ (एन्फा) की ओर से मिली जानकारी के अनुसार काठमांडू के दशरथ रंगशाला में शुक्रवार व शनिवार को उक्त दोनों मैत्री मैच खेले जाएंगे। दोनों प्रतिस्पर्धा भारतीय समयानुसार शाम 5:15 बजे से प्रारंभ होंगी। 6 वर्ष के बाद हो रहे अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल मैच को लेकर दर्शकों में काफी उत्साह है। बता दें कि नेपाली मूल के भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील क्षेत्री का प्रदेश एक के झापा जिले में ननिहाल है।

6 वर्षों के बाद भारत की सीनियर फुटबॉल टीम नेपाल में

विज्ञापन

भारत की सीनियर फुटबॉल टीम 6 वर्ष के बाद नेपाल आयी है। लम्बे अंतराल के बाद नेपाल व भारत के बीच हो रहे इस खेल को देखने के लिए लोगों में काफी उत्सुकता है। इससे पूर्व 2018 में रसिया विश्वकप में चयन से पूर्व 2015 में भारत की टीम नेपाल गयी थी। इसके बाद भारत की सीनियर फुटबॉल टीम नेपाल नहीं आयी थी। 2015 के मार्च में काठमांडू के दशरथ रंगशाला में विश्वकप चयन अंतर्गत हुए खेल के पहले लीग में भारत ने नेपाल को 2-0 के अंतर से हराया था तो दूसरे खेल में गोलरहित बराबरी का खेल हुआ था।

कप्तान सुनील क्षेत्री।

तीन सप्ताह के कड़ी अभ्यास के बाद नेपाली टीम मैदान में उतरेगी

एक तरफ नेपाली फुटबॉल टीम पोखरा में तीन सप्ताह के कड़े अभ्यास के बाद काठमांडू आयी है तो दूसरी तरफ भारत की टीम कोलकाता से पूर्व अभ्यास के बाद दिल्ली होते हुए काठमांडू पहुंची है। ऐसे में पूरी संभावना है कि दर्शकों को शानदार मैच देखने को मिलेगा। आंकड़े के अनुसार भारत व नेपाल के सीनियर टीम के बीच अब तक 19 मैच खेले गए हैं, जिसमें भारत ने नेपाल को 13 बार हराया है जबकि दो मैच नेपाल की टीम जीती है। वहीं चार मैच बराबरी पर समाप्त हुई थी। दूसरी ओर भारत व नेपाल के बीच तीन बार अंतरराष्ट्रीय मैत्रीपूर्ण खेल हुआ है जिसमें भारत ने दो मैच अपने नाम किये तो एक मैच बराबरी पर खत्म हुआ था।

भारत की ओर से ये खिलाड़ी पहुंचे हैं नेपाल

गोलकीपर : अमरिन्दर सिंह, धीरज सिंह मोइरामथेम, गुरप्रीत सिंह सन्धु
रक्षापंक्ति : प्रीतम कोटल, चिललेसाना सिंह कुशुम, मन्दर राव देसाई, आकाश मिश्रा, राहुल भेके, सुभाषित बोस, सिरिटो फर्नांडीज
मिडफिल्ट : लालेगमावई, विपिन सिंह, अनिरुद्ध थापा, साहल अब्दुल रामाद, ब्रान्डन फर्नान्डेज, लिस्टन कोलासो, यासिर मोहम्मद, म्लान मार्टिन्स, सुरेश सिंह वागजम, जेक्सन सिंह, प्रणय हलधर
स्ट्राइकर : मनवीर सिंह, रहीम अली, सुनील क्षेत्री व फारुख चौधरी

मीडिया से बात करते अखिल नेपाल फुटबल संघ (एन्फा) के अध्यक्ष कर्माछिरिड़ शेरपा।

फुटबॉल मैच को लेकर जबर्दस्त उत्साह, सभी टिकटें बिक गयीं

नेपाल व भारत के बीच होने वाले अंतरराष्ट्रीय मैत्रीपूर्ण फुटबॉल खेल में पांच हजार एक दर्शकों को प्रवेश की अनुमति मिली है। बुधवार को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय संचार माध्यमों के पत्रकार को संबोधित करते हुए अखिल नेपाल फुटबल संघ (एन्फा) के अध्यक्ष कर्माछिरिड़ शेरपा ने कहा कि दर्शकों के प्रवेश के लिए प्रशासन व कोविड -19 संकट व्यवस्थापन केन्द्र ( सीसीएमसी) से अनुमति प्राप्त हो चुकी है। वही अनुमति मिलने के साथ ही गुरुवार को खेल की सभी टिकट भी बिक चुकी हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored