Header 300×250 Mobile

रोहतास में मेडिकल स्टोर की मालकिन को मारी गोली

अस्पताल सूत्रों ने कहा- मौसमी बोस को नहीं बचा सके डॉक्टर

- Sponsored -

3,405

- Sponsored -

- sponsored -

  1. डेहरी में बोस मेडिकल स्टोर की मालकिन हैं मौसमी बोस
  2. मेडिकल स्टोर बंद करके घर लौटत वक्त हुई वारदात, हालत गंभीर
  3. अपराधियों ने महिला के पति पर भी किया था चाकू से हमला

अभिषेक कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar desk)। रोहतास जिले के पुलिस मुख्यालय डेहरी में मंगलवार को दिन में पुलिस कप्तान आशीष भारती अपने मातहतों को अपराध नियंत्रण के टिप दे रहे थे। इधर, शाम में अपराधियों ने महिला कारोबारी को सरेशाम गोली मार दी। घायल महिला व्यवासायी डेहरी के प्रसिद्ध् मेडिकल स्टोर की मालकिन मौसमी बोस बताई जाती हैं।  घटना से रोहतास जिले के व्यवसायियों में खौफ भर गया है।

यह वारदात डेहरी नगर थाने से आधे किलोमीटर की दूरी पर नील कोठी मोहल्ले में प्रवेश करने वाली गली में तिराहे पर हुई है। घटना उस समय की बताई जा रही है जब महिला व्यवसायी अपने मेडिकल स्टोर को बंद करा कर घर लौट रही थी। जख्मी हालत में महिला को नारायण मेडिकल कॉलेज अस्पताल जमुहार भेजा गया है। घटना की वजह का पता नहीं चल पाया है। उधर सूत्रों के अनुसार मौसमी की मौत हो चुकी है। हालांकि मौत की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है। पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गयी है।

मौसमी बोस की दवा दुकान बोस मेडिकल।

विज्ञापन

घटना के बारे में सूत्रों ने बताया कि बोस परिवार पहले से ही अपराधियों के निशाने पर था। इससे पूर्व भी महिला के पति सुदीप बोस पर अपराधियों ने धारदार हथियार से हमला किया था। रोहतास SP आशीष भारती ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मामले की सूचना मिलते ही घटना के आलोक में त्वरित पुलिसिया कार्रवाई की जा रही है। वहीं महिला की मौत होने की जानकारी अस्पताल सूत्रों ने दी है। मिली जानकारी के मुताबिक घटना को बाईक सवार अपराधियों ने अंजाम दिया है।

इसे भी पढ़ें : कर्नाटक में छुपे थे मौसमी बोस हत्याकांड के तीन अभियुक्त

इसे भी पढ़ें : रोहतास में अब अपराधियों के जमानतदारों का होगा वेरिफिकेशन

दिन में ही अपराध नियंत्रण के तरीके समझा रहे थे एसपी

डेहरी में मेडिकल स्टोर की मालकिन मौसमी बोस को गोली मारने की घटना संयोग से उस दिन हुई, जब दिन में ही रोहतास एसपी आशीष भारती ने सभी थानाध्यक्षों को पुलिसिंग का पाठ पढ़ाया। पुलिस के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ  क्राइम मीटिंग में जिले में अपराध को बेहतर ढंग से नियंत्रित करने के तरीके बताते हुए एसपी ने बेहतर पुलिसिंग के कारण जिले के क्राइम ग्राफ में आई गिरावट पर संतोष भी जताया। क्राइम मीटिंग में जिले के विभिन्न थानों में दर्ज आपराधिक मामलों की समीक्षा के दौरान फरार व वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी व कुर्की जब्ति की कार्रवाई में तेजी लाने का निर्देश दिया।

बैठक में बताया गया कि जिले में जनवरी में 453 फरार आरोपित और शराब तस्कर गिरफ्तार किए गए हैं। जघन्य अपराध कांडों के वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद मिली जमानत के मामले में जमानतदार और उनके जमानत में प्रयुक्त कागजातों का सत्यापन संबंधित थानाध्यक्ष न्यायिक कार्य में प्रतिनियुक्त पुलिस पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए करेंगे। ऐसा फरमान रोहतास एसपी ने जारी किया है। विदित हो कि फर्जी दस्तावेजों के आधार पर कुख्यात अपराधियों के जमानत पर रिहा होने के कई मामले बिहार में उजागर हो चुके हैं।

 

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT