Header 300×250 Mobile

कटिहार के निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान को गोलियों से भून डाला

संतोषी मंदिर अज्ञात अपराधियों मारी तीन गोली, मौके पर ही मौत

- Sponsored -

682

- sponsored -

- Sponsored -

नगर थाना परिसर में तनाव की स्थिति, भारी संख्या में पुलिस की तैनाती

कटिहार (voice4bihar news) । कटिहार नगर निगम के निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान को अपराधियों ने बृहस्पतिवार को सरेशाम गोलियों से भून डाला। वे अल्प समय के लिए कटिहार नगर निगम के मेयर बने थे। इस घटना से जहां पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है, वहीं शिवराज पासवान के समर्थकों में आक्रोश भर गया। देर रात को सैकड़ों की संख्या में लोग नगर थाना पहुंचे और शिवराज पासवान का शव रखकर प्रदर्शन कर करने लगे। लोगों की मांग है कि उनके हत्यारों की गिरफ्तारी जल्द हो।

देर रात तक समर्थकों का उमड़ता रहा हुजूम

बताया जा रहा है कि नगर थाना क्षेत्र के संतोषी मंदिर के समीप अज्ञात लोगों ने निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान को गोली मारी है। उनके शरीर में लगभग 3 गोली लगी है, जिसके कारण उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही उनके चाहने वालों का हुजूम उमड़ पड़ा और गंभीर रूप से घायल मेयर को उठाकर इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे थे। हालांकि मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। माना जा रहा है कि घटना स्थल पर ही मेयर की मौत हो चुकी थी।

संबंधित खबर : मनीषा ने ही निवर्तमान मेयर को फोन पर बुलाया

कटिहार शहर में भारी तनाव

दूसरी ओर उनकी मौत के बाद कटिहार शहर में स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। उनकी मौत की सूचना मिलने के बाद कई जगह से लोग देर रात को नगर थाना परिसर पहुंच रहे हैं। इस घटना के बाद लोगों में काफी आक्रोश व्याप्त है। लोग नगर थाना परिसर में जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। फिलहाल निवर्तमान मेयर को गोली मारने वाले अपराधियों का पता नहीं चला है।

विज्ञापन

मेयर की हत्या के विरोध में नगर थाना के पास जुटी समर्थकों की भीड़

यह भी देखें : कटिहार के निवर्तमान मेयर की हत्या में विधायक का भतीजा भी नामजद

निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान की पत्नी भी हैं निगम पार्षद

गौरतलब है कि शिवराज पासवान वार्ड संख्या 16 के वार्ड पार्षद थे। उनकी पत्नी मंजू देवी 17 नंबर वार्ड के पार्षद हैं। जब विजय सिंह विधायक बन गए तो उनके बाद अल्प समय के लिए वह मेयर बने थे। उनका कार्यकाल एक माह का ही था। इसी दौरान उन्होंने अपनी जगह लोगों के बीच बनाया था। 26 जून को मेयर का कार्यकाल समाप्त हुआ था। उस वक्त से नये मेयर का चुनाव नहीं हुआ था।

उग्र लोगों को समझाने में जुटी पुलिस

फिलहाल इस घटना के बाद उनके वार्ड और अन्य जगह से लोग बड़ी संख्या में पहुंच रहे है। फिलहाल सभी लोग उनके शव को नगर थाना लेकर पहुंचे हुए है। इस जगह स्थिति काफी तनावपूर्ण है। शहर की शांति भंग होने की आशंका को देखते हुए  बड़ी संख्या में पुलिस बल को नगर थाना परिसर बुलाया गया है। इस मामले को लेकर पुलिस भी कुछ भी बोलने से कतरा रही है। फिलहाल पुलिस की स्थिति को सामान्य करने में जुटी हुई है। उग्र लोगों को पुलिस समझाने बुझाने का प्रयास पुलिस कर रही है।

यह भी देखें : दुकान बंद करते वक्त आभूषण व्यवसायी को सीने में सटाकर दाग दी गोली

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT