Header 300×250 Mobile

रोहतास में फिर पकड़ी गयी गांजा की बड़ी खेप, गांजा लोडेड ट्रक के साथ एक धराया

सात महीने में जिले के मुफस्सिल, नोखा व करगहर थाना क्षेत्रों से कई बार हुई गांजा की बरामदगी

- Sponsored -

473

- sponsored -

- Sponsored -

करगहर के परसथुआ में पुलिस-प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई में मिली बड़ी कामयाबी

जिले में पकड़ी जा रही गांजा की खेप, लेकिन कई तस्कर अब भी गिरफ्त से बाहर

अभिषेक कुमार के साथ बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। रोहतास जिले में एक बार फिर गांजा की बड़ी खेप पकड़ी गयी है। जिले के पुलिस कप्तान आशीष भारती को मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने गांजा लोडेड ट्रक को परसथुआं में दबोच लिया है। छतीसगढ़ से आ रही करीब तीन क्विंटल की यह खेप कुदरा, परसथुआ होते हुए भोजपुर जा रहा था। सफेद रंग के भूसा लदे ट्रक को कोचस अंचलाधिकारी व परसथुआ ओपी पुलिस की संयुक्त टीम ने घेराबंदी कर जब्त किया।

परसथुओं में पकड़ा गया 390 किलोग्राम गांजा

जब्त किये गए ट्रक के अंदर बरामद गांजा का कुल वजन 390.4 किलो बताया जा रहा है। पुलिस व प्रशासन की टीम ने मौके से भोजपुर के सिकरहट्टा थाना क्षेत्र के बेलडिहरी निवासी स्व. हीरा सिंह के पुत्र विवेक कुमार सिंह उर्फ मुन्ना सिंह को धर दबोचा है। दबोचे गये ब्यक्ति को परसथुआ थाना कांड संख्या 107/21 दर्ज करते हुए नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटेंस एक्ट (NDPS Act) के तहत जेल भेज दिया गया है। पुलिस इस तस्करी के गिरोह को खंगालने में जुटी है।

गांजा तस्करों की तलाश में लगातार जारी है अभियान

रोहतास पुलिस ने गांजा तस्करों के विरुद्ध लगातार अभियान चला रखा है, जिसका नतीजा है कि पिछले कई महीनों में गांजा के कई छोटे-बड़े तस्कर पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं। इस दौरान पुलिस को एक बोलेरो और एक ट्रक को जप्त करने में भी सफलता मिली थी। पुलिस को पिछले कुछ महीनों से शराब सप्लायर लाइनर सहित गांजा तस्करों को दबोचने में कामयाब रही है।

पिछले दिनों रोहतास पुलिस ने करगहर थाना क्षेत्र के सोनवर्षा में एक घर की घेराबंदी कर छापेमारी की थी जिसमें 315 बोर के चार जिंदा कारतूस और एक देशी रायफल सहित 250 ग्राम गांजा बरामद किया गया था। इसके साथ ही गृहस्वामी रमेश सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

यह भी देखें : देशी रायफल, गांजा व कारतूस के साथ एक गिरफ्तार

ट्रक से उतारा गया बोरे में बंद गांजा।
ट्रक से उतारा गया बोरे में बंद गांजा।

विज्ञापन

नोखा से भी पकड़ा गया था गांजा, अभियुक्त पुलिस की गिरफ्त से बाहर

आपको याद होगा कि बीते दिनों रोहतास पुलिस ने नोखा थाना क्षेत्र के गम्हरिया गांव में पुआल में छुपा कर रखा गया भारी मात्रा में गांजा बरामद किया था। बरामद गांजा में 10 किलो के 16 पैकेट सहित 12 किलो बीज भी शामिल था। समझा जाता है कि तस्करों की योजना इस क्षेत्र में गांजा की खेती करने की थी। इस मामले में हरिवंश पांडे के पुत्र राकेश पांडे को नामजद अभियुक्त बनाते हुए पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू की थी लेकिन सफलता अबतक नहीं मिली है।

यह भी देखें : नोखा में 160 किलो गांजा और 12 किलो बीज बरामद

पुलिस और तस्करों के बीच जारी है आंख मिचौली का खेल

रोहतास पुलिस और गांजा तस्करों के बीच आंख मिचौली का खेल एक वर्ष से जारी है, जिसमें कई बार बड़ी कामयाबी पुलिस के हाथ लगी है। सासाराम मुफस्सिल थाना क्षेत्र में पिछले 2 मार्च को पुलिस ने थाना क्षेत्र के रामपुर नहर पर घेराबंदी करते हुए एक बोलेरो को भागने के दौरान क्षतिग्रस्त होने पर दबोचा था, जिसमें चार व्यक्ति सवार थे। दो व्यक्ति भागने में सफल रहे जबकि दो लोगों को गांजा के साथ पुलिस ने धर दबोचा था।

गांजा के साथ दबोचे गए व्यक्तियों में नागेंद्र पांडे और अजीत कुमार पांडे शामिल थे, जो मुफस्सिल थाना क्षेत्र के छोटका मोर निवासी थे। हालांकि दो अन्य फरार ब्यक्तियों को अबतक पुलिस नहीं दबोच सकी है। इतना ही नहीं पिछले दिनों आंध्र प्रदेश से रोहतास पहुंची गांजा की खेप बरामदगी मामले में भी पुलिस की कार्रवाई सुस्त रही। इस मामले में गिरफ्तार चालक व खलासी के बयान में कई तस्करों के नाम सामने आए, लेकिन रोहतास पुलिस अब तक उन तस्करों को दबोचने में नाकाम रही है।

आंध्र प्रदेश से रोहतास पहुंची गांजा की खेप भी हुई थी जब्त

आंध्र प्रदेश से रोहतास पहुंचे ट्रक से पुलिस ने केला के अंदर छुपा कर रखे गए 852 किलो गांजा पिछले वर्ष 7 दिसंबर को जब्त किया था। पुलिस को यह सफलता मुफस्सिल थाना क्षेत्र के आदमापुर से मिली थी। जीटी रोड किनारे खड़े ट्रक से 852.96 किलो गांजा बरामदगी मामले में आधा दर्जन लोगों पर मुफस्सिल थाना कांड संख्या 377/20 में एफआईआर दर्ज की थी।

इस केस में पुलिस ने कैमूर जिले के सलथुआ गांव निवासी स्व. राम इकबाल सिंह के पुत्र दिनेश कुमार सिंह, अदमापुर निवासी मेला बिंद, सासाराम निवासी मनोज साह, ट्रक मालिक भोजपुर जिला बरनाव के दक्षिणी मठिया निवासी महादेव गिरी के पुत्र विनोद कुमार गिरी, ट्रक चालक ओमप्रकाश सिंह व सहचालक निरंजन कुमार को नामजद अभियुक्त बनाया था।

इसे भी देखें : नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो रांची के राडार पर रोहतास के गांजा तस्कर

फरार तस्करों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए चुनौती

रोहतास जिले में गांजा तस्करी की भंडाफोड़ करने में पुलिस को भले ही उल्लेखनीय कामयाबी मिली है, लेकिन गांजा तस्करों को उनके अंजाम तक पहुंचाने की कार्रवाई शिथिल रही। कई तस्कर अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। नोखा थाना क्षेत्र के गम्हरिया और मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रामपुर नहर सहित अदमापुर से बरामद गांजा बरामदगी मामले में अब तक फरार आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। यह पुलिस के लिए बड़ी चुनौती के साथ ही कार्यशैली पर बड़ा सवाल भी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored