Header 300×250 Mobile

इलाके में मिली शराब तो नपेंगे चौकीदार व दफादार

दरभंगा रेंज के पुलिस निरीक्षक की दो टूक चेतावनी, थानेदारोें पर भी गिरेगी गाज

- Sponsored -

547

- sponsored -

- Sponsored -

शराब बनाने के धंधे में लिप्त पाये गए चौकीदार-दफादार तो होगी गिरफ्तारी

शराबबंदी कानून पर पूर्ण सख्ती के लिए आईजी अजिताभ कुमार ने की बैठक

दरभंगा (voice4bihar news)। राज्य में जहरीली शराब से मौत की एक-एक कर सामने आई कई घटनाओं के बाद सरकार की सख्ती के बाद अफसरों ने भी कड़े तेवर अपनाने शुरू कर दिये हैं। दरभंगा रेंज के आईजी अजिताभ कुमार ने मातहतों के साथ बैठक में दो टूक चेतावनी दे डाली। उन्होंने कहा कि अगर किसी इलाके में शराब मिली तो पहली नजर में वहां के चौकीदार व दफादार जिम्मेदार होंगे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में दरभंगा के जिलाधिकारी व वरीय पुलिस अधीक्षक के साथ पुलिस निरीक्षक शामिल थे।

अफसरों ने कहा- बिना चौकीदार-दफादार की जानकारी के नहीं हो सकता शराब का धंधा

विज्ञापन

बैठक में इस बात पर बल दिया गया कि बिना ग्रामीण चौकीदार व दफादार की जानकारी के क्षेत्र में कोई भी शराब या जहरीली शराब का कारोबार नहीं कर सकता है। इसलिए सर्वप्रथम किसी भी क्षेत्र में शराब की बरामदगी या शराब से संबंधित कोई घटना घटती है, तो उसके लिए सीधे-सीधे चौकीदार व दफादार को दोषी माना जाएगा। उन्हें सेवा से बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी और यदि उनका नाम कारोबार के संलिप्तता में पाई जाएगी, तो उन पर प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तारी भी की जाएगी।

राज्य या जिला स्तरीय टीम ने पकड़ी शराब तो नपेंगे थानेदार

उसी प्रकार यदि राज्य स्तरीय अथवा जिला स्तरीय टीम ने अगर किसी थाना क्षेत्र में छापेमारी के दौरान शराब या जहरीली शराब बरामद की तो सीधे-सीधे थानाध्यक्ष दोषी माने जाएंगे। इस केस में थानेदार के खिलाफ निलंबन व बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी। बैठक में स्पष्ट किया गया कि सरकार शराब या जहरीली शराब के अवैध कारोबार को किसी भी हालत में अब बर्दाश्त नहीं करने जा रही है। स्वयं मुख्यमंत्री द्वारा इस पर लगातार समीक्षा की जा रही है।

संबंधित खबर : बिहार में फिर ‘जानलेवा शराब’ का कहर

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored