Header 300×250 Mobile

सीवान में जिंदा जले प्रेमी युगल के मामले में यू टर्न, युवक की मौत के बाद प्रेमिका ने पल्ला झाड़ा

मौसेरी भाभी के इश्क में धोखा खाने के बाद यूपी के युवक ने खुद ही लगाई थी आग

- Sponsored -

340

- Sponsored -

- sponsored -

कथित प्रेमिका ने कहा- शादी के बाद से ही भाभी पर गलत नीयत रखता था रामू

करता था एकतरफा प्यार, घर से लेकर भागने के लिए बना रहा था दबाव

सीवान (voice4bihar news) । सीवान जिले के एमएच नगर थाना क्षेत्र में प्रेमी युगल को जिंदा जलाने के मामले ने उस वक्त यू टर्न ले लिया, जब युवक की मौत हो गयी और कथित प्रेमिका का बयान सामने आया। बताया जाता है कि मौसेरी भाभी से एकतरफा प्यार व इश्क में धोखा खाने के बाद युवक ने खुद ही आग लगाकर जान दे दी। अब तक हत्या का मामला प्रतीत हो रहा यह प्रकरण एकतरफा प्यार के दुखद अंत की कहानी लेकर सामने आया है।

आग से झुलसे युवक ने देर रात को तोड़ा दम

शुक्रवार को एमएच नगर थाना क्षेत्र के कन्हौली गांव में अपने मौसेरे भाई की ससुराल में आए उत्तर प्रदेश के युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में जलने से मौत हो गयी। घटना शुक्रवार की सुबह हुई थी और देर रात बसंतपुर के अफराद व सिसई गांव के बीच युवक ने दम तोड़ दिया। इस घटना में उसकी कथित प्रेमिका ( मौसेरी भाभी ) भी झुलस गयी थी, जिसकी इलाज के बाद जान बच गयी।

कथित प्रेमिका ने किये चौंकाने वाले खुलासे

युवक की कथित प्रेमिका व मौसेरी भाभी ने इलाज के बाद दिये अपने फर्द बयान में चौंकाने वाले खुलासे किये हैं। उसने बताया है कि मेरी शादी करीब पांच सात साल पूर्व इटहरवा उत्तर प्रदेश के नागेद्र राम के साथ हुई है। उनके एक संबंधी रामू राम (31) की अपनी मौसेरी भाभी के प्रति शुरू से ही नीयत खराब थी। वह यूपी के जालौन जिले में उरई के तुलसी नगर निवासी सीताराम का पुत्र है।

मौसेरी भाभी को घर से भगाने के लिए मायके तक आ पहुंचा

विज्ञापन

महिला ने अपने फर्द बयान में बताया कि राम राम उससे एकतरफा प्यार करता था और बार – बार अपने साथ भागने के लिए कहता था। उसके इनकार के बावजूद वह बीते एक जुलाई को कन्हौली गांव में भाभी के मायके तक आ पहुंचा। यहां आकर फिर से अपने साथ भागने के लिए कहने लगा। इस पर महिला ने स्पष्ट इनकार कर दिया। रिश्तेदारी होने के कारण रामू राम उस रात कन्हौली में ही रुक गया।

बाजार से लाया पेट्रोल और लगा दी आग

अगले दिन सुबह 7:00 बजे वह घर से कहीं चला गया और फिर करीब 1 घंटे बाद लौटकर आया। महिला ने बताया कि उस वक्त वह हैंडपंप पर स्नान कर रही थीं। सामने खड़े रामू के दोनों हाथों में दो बोतलें थी, जिसमें पेट्रोल जैसा कुछ तरल पदार्थ था। उसने वह तरल पदार्थ अपने व महिला के शरीर पर उड़ेल कर माचिस जला दी। आग लगते ही दोनों छटपटाने लगे। महिला अपने शरीर की आग बुझाने का प्रयास कर रही थी तो रामू राम जलते हुए घर से बाहर भाग गया।

विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम में इकट्‌ठे किये साक्ष्य

गंभीर रूप से जली महिला को उसकी मां इतिसरा देवी इलाज के लिए आंदर ले गयी। वहां से उसे सदर अस्पताल सीवान रेफर कर दिया गया । उधर शुक्रवार की देर रात में रामू की मौत हो गयी। घटना स्थल का जायजा लेने के बाद पुलिस ने तहकीकात आगे बढ़ाई । देर शाम में विधि विज्ञान प्रयोगशाला टीम ने भी जांच की । इस दौरान युवक के जहां – तहां जले राख के टुकड़े व पेट्रोल से सने तीन बोतल को जांच करते हुये अपने साथ ले गयी।

फर्जी पत्रकार था रामू, पुलिस ने मृतक के परिजनों को बुलाया

इस बीच एक और चौंकाने वाला तथ्य सामने आया । बताया जाता है कि एक तरफा प्यार में जान गंवाने वाला युवक रामू एक फर्जी पत्रकार था। उरई जलौन स्थित ‘ स्पष्ट आवाज ‘ में इस नाम का कोई पत्रकार कार्यरत नहीं है। इस संबंध में स्पष्ट आवाज ‘ के पदाधिकारियों व स्थानीय पत्रकारों से बात की गयी तो यह तथ्य सामने आया । फिलहाल मृत युवक के परिजनों को पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया है। ऐसे में देखना है कि युवक के परिजनों का बयान इस वारदात को क्या रूप देते हैं।

यह भी पढ़ें : भाभी से प्यार करना पड़ा महंगा, लोगों ने पत्रकार व उसकी प्रेमिका को जिंदा जलाया!

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT