Header 300×250 Mobile

84 ग्राम ब्राउन शुगर के साथ जोगबनी का युवक नेपाल में गिरफ्तार

जोगबनी से ब्राउन शुगर ले जाकर नेपाल में बेचने की बात सामने आई

- Sponsored -

316

- sponsored -

- Sponsored -

नेपाल नारकोटिक्स ब्यूरो व स्थानीय पुलिस ने ब्राउन शुगर तस्कर को दबोचा

राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

जोगबनी (voice4bihar news)। भारत-नेपाल सीमा पर नशीले पदार्थ व अन्य वस्तुओं की बढ़ती तस्करी के बीच नेपाल पुलिस ने शनिवार को एक भारतीय युवक को ब्राउन शुगर के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया शख्स बिहार के अररिया जिला अंतर्गत जोगबनी के वार्ड-10 निवासी सूरज चौधरी बताया जाता है। भारत से ब्राउन शुगर लाकर नेपाल में खपाने की सूचना पर नेपाल नारकोटिक्स ब्यूरो की टीम ने उसे धर दबोचा है।

विराटनगर में किराये पर मकान लेकर चला रहा था नशे का कारोबार

बताया जाता है कि ब्राउन शुगर के तस्कर सूरज की गिरफ्तारी नेपाल के सुनसरी जिला अंतर्गत ईटहरी उपमहानगरपालिका के वार्ड संख्या-16 स्थित पूर्व पश्चिम राजमार्ग से हुई। इसकी पुष्टि नेपाल प्रदेश एक के पुलिस कार्यालय विराटनगर ने की है। पुलिस कार्यालय के अनुसार ब्राउन शुगर के कारोबार में संलिप्त 34 वर्षीय सूरज चौधरी विराटनगर के बरगाछी में किराए के मकान में रहकर कारोबार का संचालन करता था।

गिरोह के अन्य तस्करों की तलाश में जुटी नेपाल पुलिस

भारत से ब्राउन शुगर लाकर नेपाल में बेचे जाने की सूचना के आधार पर नारकोटिक्स ब्यूरो काकडभिट्टा की टीम व इलाका पुलिस कार्यालय ईटहरी ने संयुक्त कार्रवाई की। इस टीम ने पूर्व से पश्चिम की दिशा में एक टेम्पो के पीछे सवार होकर जा रहे सूरज चौधरी को पकड़ा। उसके पास से 84 ग्राम ब्राउन शुगर की बरामदगी की बात कही गयी है। वहीं गिरफ्तार ब्राउन शुगर तस्कर को हिरासत में रखते हुए गिरोह के अन्य शातिरों के बारे में नेपाल पुलिस तहकीकात कर रही है।

विज्ञापन

जोगबनी में सक्रिय हैं ब्राउन शुगर के कारोबारी, नेपाल में होती रही है गिरफ्तारी

ब्राउन शुगर का कारोबार हो या अन्य नशीली दवा का कारोबार, इससे जुड़े तस्करों की नेपाल में गिरफ्तारी की कोई नई बात नहीं है। इनमें अधिकतर मौकों पर जोगबनी में बैठे तस्करों की संलिप्तता सामने आई है। इसे अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तैनात जोगबनी पुलिस की मेहरबानी कहें या फिर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अवस्थित थाने का कमजोर सूचना तंत्र, लेकिन हर कोई जानता है कि ऐसी तस्करी बिना मिलीभगत के संभव नहीं है। क्योंकि नशे के कारोबार से जुड़े तस्कर बिहार में मशरूफ रहते हैं और सीमा पार होते ही गिरफ्तार हो जाते हैं, जो कि सवाल खड़े करता है।

पहले भी हो चुकी है तस्करों की गिरफ्तारी

इससे पूर्व भी भारत-नेपाल सीमा स्थित नेपाल के रानी के पेट्रोल पंप के समीप से गुप्त सूचना के आधार पर नारकोटिक्स ब्यूरो ने ब्राउन शुगर की खेप पकड़ी है। बीते दिनों अंतरराष्ट्रीय सीमा की तरफ से साइकिल पर सवार होकर विराटनगर की ओर से आ रहे जोगबनी (भारत) के इस्लामपुर निवासी 20 वर्षीय तारिक अनवर को पकड़ा गया था। उसके पास से 35 ग्राम ब्राउन शुगर बरामद किया था।

वहीं दूसरी घटना में नेपाल पुलिस के अनुसंधान विभाग ने नेपाल सीमा से तीन लोगों को ब्राउन शुगर के साथ गिरफ्तार किया था। इनमें सीमा से पैदल नेपाल भाग में प्रवेश कर चुके मटेरुवा के 27 वर्षीय लद्दिफूल मियाँ के पास से 13 ग्राम ब्राउन बरामद हुआ था। इसी तरह जोगबनी के वार्ड संख्या 9 के 32 वर्षीय सुरजेश कुमार राय व 13 वर्षीय मो. आशिक मियाँ के पास भी 05 ग्राम ब्राउन शुगर बरामद हुआ था।

तस्कर गिरोह के सरगना तक नहीं पहुंच रहे बिहार पुलिस के हाथ

ऐसे दर्जनों मामले हैं जिसमें ब्राउन शुगर के साथ जोगबनी थाना क्षेत्र के युवकों की गिरफ्तारी नेपाल में प्रवेश होने के साथ ही होती रही है, लेकिन जोगबनी से ब्राउन शुगर के कारोबार को कौन संचालन कर रहा है, इस तक पहुंचने में न तो जोगबनी पुलिस ने दिलचस्पी दिखाई और न अनुमंडल प्रशासन ने गंभीरता से लिया। क्योंकि जिस तरह से कारोबारी अपने कारोबार को संचालित कर रहे हैं, उसे देखकर ऐसा नहीं लगता कि उनमें पुलिस-प्रशासन का कोई खौफ है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored