Header 300×250 Mobile

नेपाल में फिर बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, स्मार्ट लॉकडाउन लगाने की चल रही तैयारी

प्रदेश एक के झापा जिले में एक सप्ताह के लिए लगाया गया पूर्ण लॉकडाउन

- Sponsored -

356

- sponsored -

- Sponsored -

स्मार्ट लॉकडाउन के दौरान जहां कोरोना के केस बढ़ेंगे, वहां लगेगा लॉकडाउन

जोगबनी/अररिया (voice4bihar news)। भारत के निकटतम पड़ोसी देश नेपाल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर फिर से लॉकडाउन लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। भारत-नेपाल के बीच जोगबनी सीमा से सटे से प्रदेश एक के कई जिलों में नेपाल प्रशासन पुन: स्मार्ट लॉकडाउन लगाने की तैयारी करने जा रही है।

हालांकि अभी प्रदेश एक के झापा जिले में एक सप्ताह के लिए पूर्णतः लॉक डाउन है तो बंगाल सीमा से विदेशी नागरिकों को आवागमन पर पूर्ण रूप से रोक लगा दिया गया है। हालांकि जिन जगहों पर स्मार्ट लॉक डाउन होगा, उस नगर, वार्ड या गांव में मरीजों की संख्या बढ़ने पर लॉकडाउन लागू हो जाएगा। इसके लिए नेपाल सरकार ने स्थानीय प्रशासन की इसकी इजाजत दी है।

कोविड-19 संकट प्रबंधन केंद्र (सीसीएमसी) के निदेशक मंडल की बैठक में स्मार्ट लॉकडाउन का प्रस्ताव रखा। जिसमें काठमांडू में 10 दिन और निषेधाज्ञा जारी करने के साथ सीमावर्ती जिलों में मरीजों की संख्या के अनुसार कड़ाई के निर्देश दिए।

विज्ञापन

सीसीएमसी के प्रवक्ता नूर हरि खातिवाड़ा ने कहा कि सीसीएमसी ने एक अवधारणा प्रस्तावित की है, जिसे संबंधित जिला या स्थानीय स्तर पर लागू किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि वैज्ञानिक और व्यवहारिक तरीके से लॉकडाउन की अवधारणा स्मार्ट लॉकडाउन है। अब तक जो लॉकडाउन चल रहा है वह जिला प्रशासन कार्यालय के माध्यम से किया गया है, लेकिन यह केंद्र के नियंत्रण में रहा है। आगामी लॉकडाउन में जिला प्रशासन स्वयं निर्णय ले सकता है।

उन्होंने कहा कि स्मार्ट लॉकडाउन की अवधारणा में जहां कोरोना का संक्रमण बढ़ता है, वहां लॉकडाउन रहेगा। लेकिन जहां कम होता है, वहां खुला रहेगा। मोरंग जिले के प्रमुख जिला अधिकारी कोष हरि निरौला ने बताया कि मोरंग जिले के लेटांग में संक्रमण बढ़ने पर 7 अगस्त तक लॉकडाउन लगाया गया है तो उदयपुर में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत के बाद गांवपालिका को सील किया गया है। आगे संक्रमण को देखते हुए निर्णय लिया जाएगा।

क्या है स्मार्ट लॉकडाउन

नेपाल की केंद्र सरकार जिन जिलों में संक्रमण बढ़ रहा है उन जिलों मे स्मार्ट लॉकडाउन लगाने जा रही है, जिसमें सभी दुकानें, दफ्तर आदि कोविड गाइडलाइंस के तहत खुले रहेंगे। एक जिले से दूसरे जिले में आवागमन बंद रहेगा। नागरिकों पर सख्त नियम लगाए जाएंगे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT