Header 300×250 Mobile

यात्रियों से खचाखच भरी नौका गंगा नदी में डूबी

दो यात्रियों की लाशें मिली, 5-6 लोग अब भी लापता, तलाश जारी

- Sponsored -

426

- Sponsored -

- sponsored -

नौका में सवार थे करीब 3 दर्जन लोग, ओवरलोडिंग के कारण हुआ हादसा

खगड़िया (voice4bihar news)। बिहार के खगड़िया जिला अंतर्गत परबत्ता प्रखंड में गंगा नदी की उपधारा में यात्रियों से भरी एक नौका डूबने से कम से कम दो लोगों की मौत हो गयी, वहीं कई लोग लापता हो गए। मंगलवार की शाम परबत्ता के नयागांव स्थित सीढ़ी घाट के पास यह दर्दनाक हादसा हुआ। नौका में करीब 3 दर्जन से अधिक यात्री सवार थे। माना जा रहा है कि नौका में ओवरलोडिंग के कारण यह हादसा हुआ। देर शाम तक एसडीआरएफ की टीम बचाव अभियान में जुटी थी।

दियारा क्षेत्र से लौट रही नौका पर सवार थे किसान व पशुपालक

बताया जाता है कि यात्रियों से भरी यह नौका दियारा क्षेत्र से लौट रही थी। दियारा क्षेत्र में फसल बोने वाले एवं अन्य पशुपालक इस पर सवार थे। नौका पर क्षमता से अधिक 35-40 लोग सवार थे और गहरे पानी में संतुलन खोने की वजह से नौका डूब गई। स्थानीय लोगों के सहयोग से तुरंत बचाव कार्य शुरू हुआ। परबत्ता के अंचलाधिकारी अंशु प्रसून पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। खगड़िया के डीएम डॉ. आलोक रंजन समेत कई अफसर घटनास्थल पर पहुंचकर रेस्क्यू का जायजा ले रहे थे।

एसडीआरएफ की टीम बचाव कार्य में जुटी

विज्ञापन

जिलाधिकारी ने इस दुर्घटना की खबर प्राप्त होने के उपरांत एसडीआरएफ की टीम को स्पीड बोट के साथ घटनास्थल पर रवाना किया। एसडीआरएफ की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचते ही त्वरित ढंग से राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। गोगरी अनुमंडल के एसडीओ अमन कुमार सुमन भी घटनास्थल पर पहुंचे। अपर समाहर्ता शत्रुंजय कुमार मिश्रा और आपदा प्रभारी पदाधिकारी टेस लाल सिंह जिलाधिकारी के निर्देशानुसार तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे एवं बचाव और राहत कार्य का मार्गदर्शन किया।

मृतकों की संख्या बढ़ने का अंदेशा

बहरहाल, अंधेरा होने की वजह से एसडीआरएफ की टीम को राहत एवं बचाव कार्य में थोड़ी परेशानी हो रही है, किंतु टीम अंधेरे में भी बचाव अभियान में जुटी रही। अभी तक 2 शव बरामद हुए हैं, जिसमें एक शव महिला का और दूसरा पुरुष का है। माना जा रहा है कि इस हादसे में मृतकों की संख्या अभी बढ़ सकती है।

खुद ही तैरकर बाहर निकल गए अधिकांश यात्री

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार अधिकांश लोग तैरकर सुरक्षित ढंग से किनारे पहुंच गए जबकि 5-6 यात्री अभी भी लापता हैं और उन्हें खोजने के लिए बचाव और राहत कार्य किया जा रहा है। सुरक्षित बचे लोगों को चिकित्सीय उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, परबत्ता भेजा गया है। जिलाधिकारी ने स्वयं वहां पहुंचकर सुरक्षित बचे हुए यात्रियों का हालचाल लिया और उनके परिजनों को ढांढ़स बंधाया। सुरक्षित बचे हुए यात्रियों को प्राथमिक उपचार के बाद छोड़ा गया।

यह भी देखें : सिटी SP के बेटे की सड़क दुर्घटना में मौत, पानी से भरे गड्‌ढे में पलटी कार

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored