Header 300×250 Mobile

UPSC टॉपर शुभम कुमार के इंतजार में पलक-पावड़े बिछाये खड़ा था कुम्हड़ी गांव, पिता से मिलकर छलकीं आंखें

बागडोगरा हवाई हड्‌डा से लेकर कुम्हड़ी गांव तक स्वागत के लिए उमड़े सैकड़ों लोग

- Sponsored -

2,325

- sponsored -

- Sponsored -

पिता देवानंद सिंह ने सीने से लगाया तो दोनों की आंखों से टपकने लगे खुशी के आंसू

कुम्हड़ी गांव में दिखा भावुक क्षण, मां पूनम देवी व परिवार की महिलाओं ने उतारी आरती

कटिहार (voice4bihar news)। बिहार के कटिहार जिले का कुम्हड़ी गांव आज खुशी से फुला नहीं समा रहा था। आरती की थाल हाथ में लिए महिलाएं, फुलों की पंखुड़ियां बिखेरती किशोरियां व बड़े-बुढ़ों की आंखों में खुशी के आंसू….। यहां इंतजार हो रहा था अपने होनहार लाल UPSC टॉपर शुभम कुमार का। आखिरकार इंतजार की घड़ियां खत्म हुई और देश की सबसे प्रतिष्ठित प्रतियोगिता परीक्षा UPSC में देश स्तर पर अव्वल स्थान लाने वाले शुभम कुमार रविवार को अपने पैतृक गांव में पहुंचे।

20 साल बाद किसी बिहारी युवा ने टॉप की UPSC की परीक्षा

उल्लेखनीय है कि UPSC परीक्षा में 20 साल के अंतराल पर किसी बिहारी युवा ने टॉप किया है। कटिहार जिले के कदवा प्रखंड अंतर्गत कुम्हड़ी गांव में ही शुभम कुमार की मां व उनका परिवार रहता है। IIT मुंबई से B.Tech करने के बाद फिलहाल सेना में अधिकारी के पद पर शुभम का चयन हो गया था। वहां अभी ट्रेनिंग ही चल रही थी कि UPSC परीक्षा में देश स्तर पर टॉप कर शुभम ने लंबी छलांग लगा दी। अपने लाल के स्वागत में पूरा गांव-जवार आज पलक पावड़े बिछाये खड़ा था।

UPSC  टॉपर शुभम कुमार के स्वागत में हवाई अड्‌डा तक पहुंचे थे दर्जनों ग्रामीण

विज्ञापन

रविवार को शुभम कुमार के आगमन पर कन्या मध्य विद्यालय कुम्हड़ी के प्रांगण में भव्य स्वागत समारोह आयोजित किया गया। इससे पहले उनके स्वागत के लिए कुम्हड़ी से बागडोगरा तक भारी संख्या में लोग पहुंचे। जैसे हीं शुभम हवाई जहाज से उतरकर हवाई अड्डा से बाहर आये तो जब उनके पिता देवानंद सिंह ने दौड़ कर सीने से लगा लिया और दोनों की आंखों से आंसू टपकने लगे। कुम्हड़ी गांव से हवाई अड्‌डा पहुंचे दर्जनों की संख्या लोगों ने शानदार स्वागत किया।

UPSC टॉपर शुभम कुमार के गांव कुम्हड़ी में आरती की थाल लिये इंतजार करतीं महिलाएं।
UPSC टॉपर शुभम कुमार के गांव कुम्हड़ी में आरती की थाल लिये इंतजार करतीं महिलाएं।

किशनगंज व पूर्णिया की पुलिस ने किया स्कॉट

हवाई अड्‌डा पर स्वागत की औपचारिकताएं होने पर शुभम कुमार अपने गांव कुम्हड़ी के लिए निकले। उनके साथ स्थानीय लोगों का काफिला था और स्कॉट के लिए किशनगंज एवं पूर्णिया पुलिस प्रशासन के दस्ते साथ थे। कदवा की धरती पर पहुंचते ही वहां पहले से तैनात कदवा थानाध्यक्ष ने किशनगंज और पूर्णिया से आए स्कॉट दस्ते का भरपूर सहयोग किया। जैसे ही उनकी गाड़ियों का काफिला कुम्हड़ी बाजार पहुंचा। UPSC टॉपर शुभम कुमार को देखने पूरे प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न जगहों से आये लोगों की भाड़ी संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी।

इस दौरान ज्यों-ज्यों गाड़ियों का काफिला उनके घर के नजदीक पहुंचता गया, त्यों-त्यों लोगों का हुजूम बढ़ता गया। जैसे ही शुभम अपने आंगन तक पहुंचे, उनकी माता गृहिणी पूनम देवी एवं उनकी बहन सहित पूरे परिजन ने आरती की थाल एवं फूलों से भरपूर स्वागत किया। गांव-घर की महिलाएं स्वागत के दौरान फोटो खिंचाने में व्यस्त दिखीं।

रिश्तेदारों व ग्रामीणों ने किया खुशी का इजहार

वहीं इस दौरान शुभम कुमार को बधाई के लिए पहुंचे उनके रिश्तेदारों ने कहा कि शुभम की यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। इनकी इस उपलब्धि से हम सब बहुत ही खुश हैं। IIT मुंबई में दाखिला लेने के बाद से ही हमें यकीन हो गया था कि शुभम कुमार और भी ऊंचे मुकाम हासिल करेंगे। गांव के लोगों ने बताया कि शुभम की इस उपलब्धि से कुम्हड़ी गांव का नाम पूरे भारत वर्ष में नाम रौशन हुआ। इससे हम सभी का दिल गदगद हो गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT