Header 300×250 Mobile

आग में जिंदा जल गए दो मासूम, फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां नहीं बचा सकी जान

रोहतास जिले के परसथुआं से अपने ननिहाल आए थे दोनों सहोदर भाई

- Sponsored -

172

- Sponsored -

- sponsored -

बक्सर जिले के इटाढ़ी में शॉर्ट सर्किट से लगी आग, छह झोपड़ियां राख

Voice4bihar news. बक्सर जिले के इटाढ़ी में रविवार की रात हुई भीषण अगलगी में जहां दो मासूम जिंदा जल गए, वहीं छह झोपड़ियां भी आग की भेंट चढ़ गयीं। यह हृदयविदारक घटना इटाढ़ी के करमी गांव में हुई। मरने वाले दोनों बच्चे सहोदर भाई थे, जो अपने गांव रोहतास जिले के परसथुआं से चलकर अपने ननिहाल करमी गांव आए हुए थे।

मिली जानकारी के अनुसार करमी गांव में अगलगी की यह घटना बिजली की शॉर्ट सर्किट से हुई। देखते ही देखते छह झोपड़ियां राख हो गयीं। वैसे ग्रामीणों की सूचना पर यहां फायर ब्रिगेड की तीन – तीन गाड़ियां पहुंची थी, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। कुछ ही देर में आग ने आस – पास की झोपड़ियों और फूस के मकानों तक पहुंच गई। सब धू-धू कर जल उठा।

विज्ञापन

बताया जाता है कि बक्सर जिले के करमी गांव निवासी जनार्दन यादव ने अपनी बेटी की शादी रोहतास जिले के परसथुआं निवासी रामबली यादव से की है। करीब एक माह पहले बेटी अपने दोनों बेटों आकांक्षू ( 6 वर्ष ) और रितिक ( 3 वर्ष ) के साथ अपने मायके आई थी। रविवार को दोनों बच्चे झोपड़ी में खेल रहे थे। इसी बीच बिजली के शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। जब तक घरवालों को खबर लगती तब तक आग ने भीषण रूप अख्तियार कर लिया था। दोनों भाई झोपड़ी से उठ रही लपटों में जलने लगे।

तत्काल पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई। बीडीओ, सीओ, थानेदार और फायर ब्रिगेड की तीन – तीन गाड़ियां मौके पर पहुंची। काफी मशक्कत के बाद आग बुझाई गई, लेकिन तब तक दोनों भाई जलकर राख हो चुके थे। इटाढ़ी के थानेदार और प्रशिक्षु डीएसपी शिवनंदन सिंह तो काफी गमगीन नजर आए। प्रशिक्षु सह इटाढ़ी थानाध्यक्ष शिवनन्दन सिंह ने बताया कि शार्ट सर्किट से आग लगी है। दो बच्चों की जलने से मौत हुई है। मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें : भीषण अगलगी में जिंदा जल गए छह मासूम

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored