Header 300×250 Mobile

सासाराम व डेहरी में बैठे अवैध लॉटरी माफिया, औरंगाबाद तक फैला कारोबार

डेहरी में होती है डुप्लीकेट लॉटरी की छपाई, सासाराम में बैठा मेन सप्लायर

- Sponsored -

613

- Sponsored -

- sponsored -

अवैध लॉटरी के धंधेबाजों को पकड़ने के लिए रोहतास पहुंची दाउदनगर पुलिस

सासाराम नगर थाना क्षेत्र में भी होता है लॉटरी का काला धंधा

रोहतास से बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)| अवैध लॉटरी की बिक्री एवं डुप्लीकेट लॉटरी छपाई के मामले में औरंगाबाद जिले के दाउदनगर की पुलिस टीम गुरुवार को सासाराम पहुंची। यहां पहुंच कर नगर थाना के पुलिसकर्मियों से स्थानीय स्तर पर लॉटरी के धंधे से जुडे़ सुराग टटोलने की कोशिश की। हालांकि नगर थानाध्यक्ष कामख्यानारायण सिंह के छुट्टी पर रहने के कारण अंदरूनी कार्रवाई की सूचना नहीं मिल सकी है। औरंगाबाद जिले में जोर पकड़ते लॉटरी के धंधे का सरगना रोहतास जिले के होने की सूचना पर औरंगाबाद पुलिस यहां पहुंची थी।

गिरफ्तार लाटरी विक्रेता के स्वीकारोक्ति बयान पर दबिश

मिली जानकारी के मुताबिक गुप्त सूचना के आधार पर विगत 22 मार्च को अवैध लॉटरी विक्रेताओं के खिलाफ दाउदनगर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दाउदनगर स्थित कृष्णा होटल के नजदीक से अवैध लॉटरी बेचते हुए उमेश चौधरी को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान गिरफ्तार उमेश चौधरी ने खुलासा किया था कि दाउदनगर के ही मेराज अहमद लॉटरी बेचने का कार्य करते हैं जो रोहतास जिला अंतर्गत सासाराम के चौखंडी निवासी सिराजुद्दीन से लॉटरी लेते हैं।

विज्ञापन

गिरफ्तार लॉटरी कारोबारी ने बताया कि लॉटरी की छपाई रोहतास जिला अंतर्गत डिहरी निवासी पवन झुनझुनवाला के माध्यम से की जाती है, जिसके आधार पर रोहतास के डेहरी और सासाराम में औरंगाबाद की दाउदनगर पुलिस ने दबिश दी है। हालांकि इस मामले में नगर थानाध्यक्ष कामाख्या नारायण सिंह ने पूरे मामले में अनभिज्ञता जताई है।

वही दाउदनगर थानाध्यक्ष अरविंद कुमार गौतम ने बताया कि अवैध लॉटरी बिक्री के मामले में गिरफ्तार व्यक्ति के के आधार पर कांड संख्या 151/21 केस दर्ज किया गया था। दाउदनगर पुलिस द्वारा गिरफ्तार व्यक्ति के स्वीकारोक्ति बयान के आधार पर रोहतास में खुलासा किए गए लॉटरी माफियाओं के नाम पता संबंधित सत्यापन एवं जानकारी के लिए दाउदनगर थाना से एक दल रोहतास भेजे जाने की पुष्टि की है।

पुलिस की एफआईआर में दर्ज लॉटरी माफियाओं का काला चिट्‌ठा।

पहले भी जेल जा चुका है पवन झुनझुनवाला

बता दें कि रोहतास में अवैध लॉटरी की बिक्री एवं डुप्लीकेट लॉटरी छपाई एवं संचालन के लिए रोहतास कैमूर एवं औरंगाबाद का लॉटरी माफिया कहे जाने वाला पवन झुनझुन इसके पूर्व भी अवैध लॉटरी के कारोबार में जेल जा चुका है। सूत्रों के अनुसार पवन झुनझुनवाला के विरुद्ध डेहरी नगर थाने में मामले दर्ज हैं आर्थिक अपराध इकाई पूरे मामले में अनुसंधान भी जारी रखे हुए हैं। हालांकि मामले में वर्षो बीत जाने के बावजूद कार्रवाई नहीं होने के कारण लॉटरी माफियाओं का मनोबल बढ़ा हुआ बताया जा रहा है।

सासाराम में भी होता है धंधा

नगर थाना क्षेत्र के चौखंडी सहित शेरगंज के कई इलाकों में अवैध लॉटरी का धंधा संचालित होता है जिसमें कई सफेदपोश शामिल हैं। औरंगाबाद पुलिस के साथ आराम नगर में दबिश के बाद सफेदपोशो के होश फाख्ता हैं । औरंगाबाद पुलिस के द्वारा की जा रही कार्रवाई के बाद कई और लोगों के ऊपर कानूनी शिकंजा कस सकता है। बहरहाल देखना होगा कि औरंगाबाद पुलिस द्वारा नोटरी माफियाओं के विरुद्ध शुरू की गई कार्रवाई क्या रंग दिखाता है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT