Header 300×250 Mobile

कैमूर की घाटियों में उड़ने लगा उत्पाद विभाग का ड्रोन, शराब के ठिकाने नेस्तनाबूद करने की तैयारी

उत्पाद विभाग व पुलिस की टीम रखेगी धरातल पर नजर

- Sponsored -

878

- Sponsored -

- sponsored -

रोहतास में ड्रोन कैमरे के सहारे शराबबंदी की होगी निगरानी

हर महीने दो दिन ड्रोन भरेगा जिले में उड़ान, धंधेबाजों का छुपना मुश्किल

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice bihar news)। रोहतास जिले में शराब माफियाओं पर शिकंजा कसने के लिए शराब निर्माण केंद्रों की पहचान शुरू की जा चुकी है। इसके लिए रोहतास में भी उत्पाद विभाग का ड्रोन आकाश में उड़ने लगा है। इस ड्रोन कैमरे की खासियत है कि 7 से 10 किलोमीटर की परिधि में हो रही गतिविधियों को अपने मॉनिटरिंग स्क्रीन पर प्रदर्शित करेगा।

इसके बाद कैमरे की मॉनिटरिंग कर रहे उत्पाद विभाग और पुलिस विभाग की टीम संबंधित ठिकानों पर पहुंचकर शराब माफियाओं के मंसूबों को नाकाम करने और शराब निर्माण के लिए बनाई गई अवैध भठ्ठियां ध्वस्त करने का कार्य करेंगे। ड्रोन उड़ान की मानिटरिंग उत्पाद अधीक्षक अमृता कुमारी के निर्देशन पर की जा रही है।

शराबबंदी पर निगरानी के लिए आया ड्रोन कैमरा

विज्ञापन

उत्पाद अधीक्षक श्रीमती कुमारी के अनुसार फिलवक्त हर महीने दो दिन जिले में ड्रोन उड़ान भरेगा। फिलहाल कुछ भी बोले जाने को जल्दबाजी करार देते हुए उत्पाद अधीक्षक ने कहा कि भविष्य में वरीय अधिकारियों के आदेश निर्देश पर रणनीति तय होगी जिसकी जानकारी आवश्यकतानुसार उचित माध्यम से मीडिया को भी जरूर शेयर की जाएगी।

कैमूर पहाड़ी से शुरू हुआ अभियान

जिले के कैमूर पहाड़ी पर बड़े पैमाने पर शराब निर्माण कार्य जारी है जिसका खुलासा पहाड़ी घाटियों से उतरने वाले शराब बरामद की के बाद हो चुका है पुलिस की पहुंच से दूर और मोबाइल नेटवर्क कार्य नहीं करने के कारण पहाड़ी इलाकों में शराब निर्माण कार्य पर नकेल कसने का अभियान ज्यादा कारगर साबित नहीं हो सका है लेकिन ड्रोन कैमरे की उड़ान से शराबबंदी कानून को सफल बनाने की कवायद शुरू की गयी है।

शराब की भट्ठी पर छापेमारी के लिए पहुंची पुलिस।

शराब निर्माण कार्य के लिए चिन्हित ईलाको मे ड्रोन कैमरे से निगरानी और कारवाई की शुरूआत के बाद कैमूर पहाडी पर ताराचंडी मांझर कुंड ईलाके से शुरूआत की गयी है । पहाडी पर नदी किनारे भारी मात्रा में शराब निर्माण मैटेरियल सहित भट्ठियों को ध्वस्त करने की कारवाई भी उत्पाद विभाग ने की है। टीम में मनोज कुमार उमी कुमारी दीपनारायण सिंह सहित सैफ जवान शामिल थे।

बिक्रमगंज दियारा इलाके में ड्रोन ने भरी उड़ान

बिक्रमगंज राजपुर संझौली दावथ इलाके में काव नदी के दियारा इलाके में झाड़ियों के बीच भी उत्पाद विभाग के ड्रोन ने उड़ान भरी है हालांकि दियारा ईलाके में उत्पाद विभाग को कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है। उत्पाद विभाग की कारवाई का नेतृत्व धीरेन्द्र श्रीवास्तव कर रहे थे। श्री श्रीवास्तव ने बताया कि ड्रोन कैमरे का लगातार विभाग प्रयोग कर रहा है और अवैध शराब निर्माण पर शिकंजा कसना हीं ड्रोन की उड़ान का उद्देश्य है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT