Header 300×250 Mobile

सुशांत राजपूत सुसाइड केस में चर्चित रहे आईपीएस विनय तिवारी को मिली भोजपुर पुलिस की कमान

बुधवार को हटाये गए भोजपुर व औरंगाबाद के एसपी की जगह भेजे गए पटना के दो एसपी

- Sponsored -

469

- sponsored -

- Sponsored -

कांतेश कुमार मिश्रा को बनाया गया औरंगाबाद का पुलिस अधीक्षक

राज्य के गृह विभाग ने किया पांच पुलिस अफसरों का तबादला

पटना (voice4bihar news )। राज्य में दो एसपी समेत पांच प्रशासनिक अफसरों को मुख्यालय बुलाए जाने के तत्काल बाद सरकार ने भोजपुर व औरंगाबाद का पुलिस कप्तान नियुक्त कर दिया है। पटना में बतौर एसपी तैनात विनय तिवारी को भोजपुर का नया एसपी बनाया गया है। पिछले वर्ष अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस में जांच अधिकारी बनकर मुंबई गए विनय तिवारी काफी चर्चा में रहे थे। कोरोना की पहली लहर के दौरान मुंबई पहुंचने पर वहां की पुलिस ने विनय को जबरन क्वारेंटाइन कर दिया था।

दूसरी ओर औरंगाबाद के एसपी के रूप में कांतेश कुमार मिश्रा को नियुक्त किया गया है। अब तक ये पटना में ग्रामीण एसपी का पदभार संभाल रहे थे। विनय व कांतेश समेत पांच पुलिस अफसरों का तबादला राज्य के गृह विभाग ने बुधवार को कर दिया है। हालांकि अवैध बालू खनन रोकने में कोताही के कारण हटाये गए रोहतास, पटना व औरंगाबाद के डीटीओ की जगह नयी पदस्थापना बुधवार को नहीं हो सकी। माना जा रहा है शीघ्र ही इन खाली पदों पर अफसरों की नियुक्ति सामान्य प्रशासन विभाग जल्द ही करेगा।

अश्वारोही विशेष सशस्त्र पुलिस का अतिरिक्त पदभार संभालेंगे विनय तिवारी

विज्ञापन

राज्य के गृह विभाग ने बुधवार को जारी नोटिफिकेशन में कहा है कि पुलिस प्रशासन को और भी चुस्त-दुरूस्त करने के मकसद से ये तबादले किये गए हैं। इनमें पटना के ग्रामीण एसपी कान्तेश कुमार मिश्रा को औरंगाबाद जिले का पुलिस अधीक्षक बनाया गया है, जबकि पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को भोजपुर पुलिस की कमान सौंपते हुए आरा भेजा गया है। भोजपुर से हटाये गए एसपी राकेश कुमार दुबे तरह ही विनय तिवारी के पास भी एक अतिरिक्त प्रभार रहेगा। श्री तिवारी को अश्वारोही विशेष सशस्त्र पुलिस, आरा के समादेष्टा पद का अतिरिक्त प्रभार भी सौंपा गया है।

एएसपी स्वर्ण प्रभात को बनाया गया भागलपुर का सिटी एसपी

इन दो महत्वपूर्ण तबादलों के अलावा पटना में एसएसपी (विधि-व्यवस्था) का पद संभाल रहे स्वर्ण प्रभात को भागलपुर का सिटी एसपी बनाया गया है। आईपीएस स्वर्ण प्रभात भोजपुर जिले के पीरो के रहने वाले हैं और यूपीएससी में चयन के बाद ट्रेनिंग के दौरान से ही पटना में कार्यरत थे। दूसरी ओर कांतेश मिश्रा व विनय तिवारी के तबादले से खाली पद पर पटना में ही तैनात दो अफसरों को नियुक्त किया गया है। दानापुर के एसडीपीओ विनीत कुमार को पटना का ग्रामीण एसपी बनाया गया है, वहीं बाढ़ के एसडीपीओ अंबरीष राहुल को पटना का सिटी एसपी (मध्य) बनाया गया है।

यह भी देखें : अवैध बालू खनन मामले में बड़ी कार्रवाई, भोजपुर व औरंगाबाद के एसपी समेत पांच अफसर हटाये गए

अवैध बालू खनन को प्रश्रय देने वालों पर राज्य सरकार ने की बड़ी कार्रवाई

उल्लेखनीय है कि बिहार सरकार ने बालू के अवैध उत्खनन मामले में औरंगाबाद व भोजपुर जिले के पुलिस अधीक्षक समेत पटना व औरंगाबाद के जिला परिवहन पदाधिकारी तथा रोहतास में डेहरी के एसडीओ को पद से हटाकर पटना बुला लिया है। औरंगाबाद के एसपी सुधीर कुमार पोरिका और भोजपुर के एसपी राकेश कुमार दुबे को पुलिस मुख्यालय, पटना में योगदान देने को निर्देश दिया गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored