Header 300×250 Mobile

रोहतास में हर्ष फायरिंग, कैमरामैन की मौत

सीने में गोली लगने से मौके पर ही गयी जान

- Sponsored -

673

- sponsored -

- Sponsored -

सरकार व अदालत की सख्त पाबंदी के बावजूद नहीं थम रही हर्ष फायरिंग

समाज में अपनी धाक जमाने व रसूख दिखाने के लिए मौत बांट रहे रईसजादे

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

विज्ञापन

सासाराम (voice4bihar desk)। जिले के नोखा थाना क्षेत्र के कदवा गांव में आयोजित तिलकोत्सव में हर्ष फायरिंग के दौरान कैमरामैन की मौके पर ही मौत हो गयी। कैमरामैन के सीने में गोली लगी जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। मृत कैमरामैन संझौली थाना क्षेत्र के मसौना गांव के निवासी अजय कुमार सिंह उर्फ गुलाब सिंह का पुत्र रवि कुमार बताया जा रहा है।

घटना की पुष्टि करते हुए पुलिस कप्तान आशीष भारती ने पुलिसिया कारवाई जारी होने की बात कही है । हालांकि घटना के 10 घंटे बाद भी डेड बॉडी पोस्टमॉर्टम हाऊस नहीं पहुंची है । सूत्रों की मानें तो कैमरामैन का वीडियो कैमरा पुलिस ने जब्त कर लिया है। तिलकोत्सव का आयोजन सियासी फाइनेंसर के घर किया गया था जिसमें रोहतास सहित कई जिलों के सफेदपोशों और राजनेताओं के जमघट लगे होने की खबरें भी मिलीं हैं।

उल्लेखनीय है कि सरकार व कोर्ट की सख्त मनाही के बावजूद लोग खुशी के मौके पर अग्नेयास्त्र चलाने से बाज नहीं आ रहे। जिले में हर्ष फायरिंग के दौरान अब तक कई लोगों की जान जा चुकी है। ताज्जुब की बात यह कि कई शादी समाराेहों में राजनेताओं व नौकरशाहों की मौजूदगी में भी हर्ष फायरिंग की जाती है। मकसद, समाज में धाक जमाना और अपनी ऊंची रसूख का प्रदर्शन। बहरहाल, कदवां गांव में हुई कैमरामैन की मौत के मामले में पुलिस पूरी तत्परता से कार्रवाई में जुट गयी है।

यह भी देखें : युवा जदयू जिलाध्यक्ष के उपनयन संस्कार में हर्ष फायरिंग

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT