Header 300×250 Mobile

बिहार में अगले 15 माह के भीतर बनेंगे 1600 नए अस्पताल, अगले वर्ष के अंत तक शुरू होगी स्वास्थ्य सेवा

नए अस्पतालों के निर्माण पर 3600 करोड़ रुपये खर्च कर रही सरकार

- Sponsored -

464

- Sponsored -

- sponsored -

राज्य के हर जिले में बनाए जा रहे 30 बेड के सामुदायिक अस्पताल

आरा (voice4bihar news)। कोरोना काल की दूसरी लहर में दिखी स्वास्थ्य व्यवस्था की लाचारी व संसाधनों का संकट जल्द ही दूर हो आएगी। राज्य में एक साथ तैयार हो रहे 1600 नए सरकारी अस्पताल अगले साल के अंत तक मरीजों की सेवा करने लगेंगे। यह आश्वासन सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आरा में भाजपा कार्यसमिति की बैठक में दी।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने 4070 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने का संकल्प जताया है। फिलहाल राज्य में सिर्फ 202 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ही कार्यरत हैं। इन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में 625 सामान्य चिकित्सा पदाधिकारी और 77 विशेषज्ञ चिकित्सा पदाधिकारियों की पोस्टिंग की गई है। इसके अलावा 183 दंत चिकित्सक भी तैनात किये गये हैं। इसकी संख्या बढ़ने के साथ ही सरकारी अस्पतालों पर मरीजों का दबाव कम होगा।

अस्पताल की संख्या बढ़ने से मिलेगी बेहतर स्वास्थ्य सेवा

विज्ञापन

पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बिहार में 3600 करोड़ रुपये की लागत से एक साथ 1600 नए अस्पताल का निर्माण शुरू हुआ है। इन सभी अस्पतालों को 15 माह के भीतर बना लिया जाएगा। इसके साथ ही हर जिले में 30 बेड के सामुदायिक अस्पताल बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब अनुमंडल स्तरीय अस्पतालों में भी ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण शुरू हो चुके हैं। इससे मरीजों को बेहतर स्वाथ्य सुविधा मिल सकेगी।

भाजपा का निचले स्तर तक होगा विस्तार

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने कहा कि कार्यकर्ताओं की दृढ़ इच्छाशक्ति के दम पर ही भाजपा अब दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन चुकी है। आगे भी पार्टी को जमीनी स्तर तक ले जाने के लिए प्रयास होते रहेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने शक्ति केंद्र और सप्तर्षि बनाकर पार्टी का विस्तार किया है, लेकिन अब इससे भी आगे बढ़कर पन्ना अध्यक्ष की नियुक्ति की जाएगी।

वोटर लिस्ट के एक पन्ने की जिम्मेदारी संभालेंगे पन्ना अध्यक्ष

विदित हो कि बीजेपी ने अब तक हर पोलिंग बूथ के लिए कार्यकर्ताओं की जवाबदेही पहले ही तय कर दी है। अब एक बूथ पर कई पन्ना अध्यक्ष काम करेंगे। बूथवार वोटर लिस्ट के एक-एक पन्ने के लिए अध्यक्ष की नियुक्ति कर संगठन को और धार दिया जाएगा। इससे पहले कार्यसमिति की बैठक का उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह, पूर्व मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह, प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह टाइगर, पूर्व विधायक मुन्नी देवी आदि ने संयुक्त रूप से किया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored