Header 300×250 Mobile

बढ़ा कोरोना का खतरा, 102 कंटेनमेंट जोन बने

राजधानी के प्रत्येक वार्ड की निगरानी के लिए टीम गठित

- Sponsored -

385

- sponsored -

- Sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। राजधानी में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरों को देखते हुए 103 माइक्रो कंटेनमेंट जोन  बनाए गए हैं। जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने संबंधित घरों पर स्टीकर चिपकाने, स्क्रीनिंग करने, टेस्टिंग और सैनिटाइजेशन जैसी कार्रवाई सुनिश्चित करने का सख्त निर्देश अधिकारियों को दिया है। जिलाधिकारी डॉ. सिंह रविवार को कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए बुलायी गयी अधिकारियों के बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

जिलाधिकारी ने शहरी क्षेत्र के वार्डों में कोरोना की निगरानी के लिए कुल 75 टीमों के गठन का निर्देश दिया है। इन टीमों में स्वास्थ्यकर्मी, नगर निगमकर्मी और आंगनवाड़ी वर्कर को शामिल करने को कहा है। इस कार्य की प्रभावी मॉनिटरिंग संबंधित अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी करेंगे।

 

रविवार को हुए 9279 लोगों के कोराेना टेस्ट

रविवार को कुल 9,279 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया। इनमें 3,833 आरटीपीसीआर तथा 5,443 रैपीड एंटीजन टेस्ट किये गये। जिलाधिकारी ने आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने को कहा। साथ ही पीएमसीएच, एनएमसीएच में टेस्ट बढ़ाने के लिए टीम की संख्या एवं काउंटर बढ़ाने को कहा। इसके लिए निकटतम शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की टीम की तैनाती की जायेगी। इन अस्पतालों के ओपीडी में नियमित इलाज के लिए आने वाले मरीजों की भी जांच की जा रही है। प्रतिदिन 1000 टेस्ट का टारगेट निर्धारित करने का निर्देश दिया गया।

 

9130 लोगों ने लगवाया कोरोना से बचाव की टीका

विज्ञापन

एयरपोर्ट पर 576, मीठापुर बस स्टैंड 393, पाटलिपुत्र बस स्टैंड 275, राजेंद्र नगर सब्जी मंडी 140, दानापुर रेलवे स्टेशन 455 और राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन पर 110 लोगों की कोरोना जांच की गयी। आज 9130 व्यक्तियों का वैक्सीनेशन हुआ है।

 

सरकारी व निजी अस्पतालों में बढ़ाये जायेंगे बेड

जिलाधिकारी ने कोविड मरीजों के उपचार के लिए अस्पतालों में बेड बढ़ाने को कहा। पीएमसीएच में 100 बेड हैं। इनमें 36 ही कार्यरत थे। सोमवार से पीएमसीएच में 100 बेड कार्यरत हो जाएंगे। जिलाधिकारी ने अन्य सरकारी तथा प्राइवेट अस्पतालों में भी बेड की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने एनएमसीएच पीएमसीएच एवं एम्स में कंट्रोल रूम का गठन करने तथा अधिकारियों की तैनाती कर अस्पताल में इलाज की सुचारू व्यवस्था एवं निगरानी करने का निर्देश दिया। ये अधिकारी अस्पताल प्रबंधन से समन्वय स्थापित कर इलाज की समुचित व्यवस्था एवं सहयोग प्रदान करेंगे।

बगैैर मास्क वाले 144 लोगों से वसूले गये 7200 रुपये

जिलाधिकारी ने कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु मास्क चेकिंग अभियान लगातार जारी रखने का निर्देश दिया। रविवार को जिला नियंत्रण कक्ष द्वारा चलाए गए इस अभियान में 144 लोगों से कुल 7200 रुपये की जुर्माना राशि की वसूली की गई। बैठक में उप विकास आयुक्त रिची पांडेय अपर समाहर्ता राजीव श्रीवास्तव, अपर समाहर्ता सामान्य विनायक मिश्रा और अपर समाहर्ता विधि व्यवस्था केके सिंह सहित कई अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored