Header 300×250 Mobile

नेपाल में आपातकाल की आहट, सड़कों पर गश्त कर रहीं सेना की बख्तरबंद गाड़ियां

नेपाल के आमलोगों में भय का माहौल

- Sponsored -

411

- sponsored -

- Sponsored -

जोगबनी (voice4bihar desk)। फरवरी इसे संयोग कहा जाए या प्रयोग ? सोमवार की रात्रि में नेपाली सेना की बख्तरबंद गाड़ियां काठमांडु की सड़कों पर गश्त करती देखी गयीं। एक दिन पहले ही पड़ोसी देश म्यांमार में सेना ने तख्ता पलट करते हुए सत्ता अपने हाथों में ले ली है। वहां सेना ने प्रधानमंत्री ऑन सांग सू की को नजरबंद कर दिया है। ऐसे में नेपाल में सड़कों पर सेना की बख्तरबंद गाड़ियों को देख आम लोगों में भय का माहौल उन्पन्न हो गया है। हालांकि नेपाली सेना ने इसे नियमित अभ्यास का हिस्सा बताया है।

विज्ञापन

नेपाल में पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड और वर्तमान प्रधानमंत्री ओली के बीच छिड़ी सत्ता की जंग के चलते अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। प्रचंड और ओली नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी के ही सांसद हैं पर पार्टी में दोनों के अपने-अपने धड़े हैं और दोनों एक-दूसरे के धुर विरोधी हैं। हाल ही प्रचंड गुट ने ओली को पार्टी से बर्खास्त कर दिया है। इसके पहले प्रधानमंत्री ओली नेपाली संसद को भंग कर वहां चुनाव कराने की घोषणा कर चुके हैं। इस संबंध में वहां की सर्वोच्च अदालत में एक मामला लंबित है। ओली यह भी कह चुके हैं कि फैसला उनके अनुकूल नहीं आता है तो वे आपातकाल लागू कर सकते हैं।

यहां बता दें कि 16 वर्ष पूर्व तत्कालीन राजा ज्ञानेन्द्र ने भी इस तरह से सेना को सड़क पर उतारा था। नेपाल की राजनीति को करीब से जानने वाले भी नेपाली सेना के इस कदम को हल्के में नही ले रहे हैं। सोमवार रात्रि नेपाली सेना की बख्तरबन्द गाड़ी ने पूरे काठमांडु शहर की परिक्रमा की। साथ ही नेपाली सेना ने बुधवार को काठमांडू से काभ्रे के पांचखाल तक बख्तरबन्द अभ्यास की पूर्व जानकारी दी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT