Header 300×250 Mobile

जयप्रभा मेदांता सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में सरकारी कर्मचारियों का रियायती दर पर होगा इलाज

मुख्यमंत्री ने अस्पताल का किया विधिवत उद्घाटन, यहां जल्द मिलेगी कैंसर के इलाज की आधुनिक सुविधा

- Sponsored -

785

- Sponsored -

- sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 30 अक्टूबर को कंकड़बाग में नवनिर्मित जयप्रभा मेदांता सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का विधिवत उद्घाटन किया। इसके साथ ही अब जयप्रभा मेदांता सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में इन पेशेंट-सर्विस की शुरुआत हो गई। अब मरीज यहां भर्ती होकर अपना इलाज करा सकेंगे। इसके पहले यहां आउटडोर पेशेंट का इलाज किया जाता था।

मुख्यमंत्री ने अस्पताल के एमआरआई, रेडियेशन रूम, हार्ट कमांड सेंटर, नर्सिंग स्टेशन, आइसोलेशन यूनिट, ऑपरेशन थियेटर, इंटेंसिव केयर यूनिट, कैथ लैब्स सहित विभिन्न विभागों एवं वार्डों का मुआयना किया। मुख्यमंत्री को जयप्रभा मेदांता अस्पताल के सीईओ डॉ. पंकज साहनी ने अस्पताल भ्रमण के दौरान अस्पताल से संबंधित विस्तृत जानकारी दी।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन, पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू, मेदांता के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. नरेश त्रेहान, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह, जिलाधिकारी चन्द्रशेखर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेन्द्र शर्मा सहित जयप्रभा मेदांता अस्पताल के अन्य चिकित्सक, कर्मी व अन्य व्यक्ति उपस्थित थे।

विज्ञापन

इस अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पटना में जयप्रभा मेदांता अस्पताल का विधिवत उद्घाटन हुआ है। इसके लिए काफी पहले से प्रयास जारी था। जयप्रभा अस्पताल खोलने की शुरुआत वर्ष 1979 में की गई थी। लोकनायक जयप्रकाश नारायण की इच्छा थी कि पटना में कैंसर का अस्पताल बनना चाहिए। वर्ष 2005 में जब हमलोगों को काम करने का मौका मिला तो हमलोगों ने इसको लेकर काफी विचार-विमर्श किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पताल चलाने वाले कई लोगों से वार्ता की गई लेकिन कोई तैयार नहीं हुआ। हमलोगों को खुशी है कि मेदांता के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. नरेश त्रेहान पटना में अस्पताल चलाने को तैयार हुये। वर्ष 2006 में जयप्रभा मेदांता अस्पताल का शिलान्यास किया गया था। पिछले वर्ष अस्पताल के ओपीडी सेवा की शुरुआत की गयी थी। हमलोगों की शुरू से इच्छा थी कि जल्द से जल्द अस्पताल पूरी तरह से शुरू हो जाय।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने श्री त्रेहान साहब से कहा है कि जल्द से जल्द कैंसर का इलाज भी यहां शुरु करा दीजिए क्योंकि लोकनायक जयप्रकाश नारायण की इच्छा थी कि यहां कैंसर का अस्पताल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि बाकी सब बीमारियों का इलाज यहां शुरु हो गया है। उन्होंने कहा कि जयप्रभा मेदांता अस्पताल में गरीबों के लिए 25 प्रतिशत बेड आरक्षित किया गया है। गरीबों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर जो निर्धारित शुल्क है उसी शुल्क पर यहां उनका इलाज किया जायेगा।

सरकारी कर्मचारियों का भी यहां इलाज नॉर्मल रेट पर होगा। इस अस्पताल के शुरू हो जाने से बिहार के लोगों को काफी सुविधा होगी। प्राइवेट अस्पताल के रूप में मेदांता अस्पताल का देश में काफी नाम है। देश के कई जगहों पर मेदांता अस्पताल खोला गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored