Header 300×250 Mobile

कोरोना काल में दिवंगत मीडिया कर्मियों के परिजनों को सरकार पांच-पांच लाख अनुग्रह राशि दे : रघुवर

पूर्व मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में राज्य के 18 से अधिक मीडिया कर्मियों की हुई मौत पर जतायी गहरी चिंता

- Sponsored -

409

- sponsored -

- Sponsored -

रांची (voice4bihar desk)। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने उन सभी दिवंगत मीडिया कर्मियों के परिजनों को अति शीघ्र पांच-पांच लाख की अनुग्रह राशि देने का आग्रह राज्य सरकार से किया है, जिनका निधन कोरोना काल में हुआ है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने राज्य के 18 से अधिक मीडिया कर्मियों की कोरोना काल में हुई मौत पर गहरी चिंता प्रकट करते हुए कहा कि सरकार की असंवेदनशीलता और गैर जिम्मेदाराना रवैये के कारण लगातार पत्रकारों की मौत हो रही है। राज्य सरकार अगर कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद राज्य के पत्रकारों को फ्रंटलाईन वॉरियर्स की मान्यता दे देती तथा प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण और कोरोना पीड़ित पत्रकारों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था करती तो उन्हें कोरोना महामारी की चपेट में आने से रोका जा सकता था।

विज्ञापन

श्री दास ने कहा कि कोरोना महामारी से पीड़ित पत्रकारों के परिजनों को तत्काल पांच-पांच लाख की अनुग्रह राशि नहीं मिलना राज्य सरकार के गैरजिम्मेदार होने का प्रमाण है। उन्होंने बताया कि उनके मुख्यमंत्री काल में पत्रकारों के निधन पर उनके परिजनों को पांच-पांच लाख की अनुग्रह राशि देने का प्रावधान किया गया था, जबकि इसके पूर्व सिर्फ दुर्घटना में मृत पत्रकारों के परिजनों को पांच-पांच लाख की अनुग्रह राशि देने का प्रावधान था। उनकी सरकार ने राज्य के सभी मीडिया कर्मियों को पेंशन देने की योजना बनाई थी, जिस पर अबतक हेमंत सरकार ने अमल नहीं किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा पत्रकारों के लिए प्रस्तावित पेंशन योजना को तत्काल लागू करने और कोरोना महामारी से पीड़ित सभी पत्रकारों के परिजनों को अनुग्रह राशि देने का आग्रह किया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored