Header 300×250 Mobile

पति की दूसरी शादी से खफा महिला ने तीन लोगों को जिंदा जलाया, खुद भी जली

घर में कलह से आजिज आकर महिला ने मचाया मौत का तांडव

- Sponsored -

0 185

- sponsored -

- Sponsored -

अपने ही पति, सौतन व सास पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग

घर में लगी आग में खुद ही जलकर अपनी इहलीला समाप्त की

दरभंगा (Voice4bihar news)। बिहार के दरभंगा जिले के बिरौल में एक ही परिवार के चार लोगों के जिंदा जलने की मनहूस खबर सामने आई। घटना की वजह पारिवारिक कलह बताई जाती है। पति की दूसरी शादी और घर में अक्सर होने वाली कलह से खफा एक महिला ने अपने पति, सौतन और सास के ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी और फिर उसी आग की चपेट में आकर अपनी जिंदगी समाप्त कर ली। मामला मुस्लिम परिवार से जुड़ा है, जहां एक से अधिक शादियां करने की प्रथा प्रचलित है।

घटनास्थल की जांच के लिए बुलाई गयी फॉरेंसिक टीम

विज्ञापन

शनिवार की सुबह ग्रामीणों की सूचना पर बिरौल अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मनीष चन्द्र चौधरी घटनास्थल पर पहुंचे और बारीकी से घर की पड़ताल कर मुख्य गेट में ताला जड़ दिया। पूरे मामले की वैज्ञानिक तरीके से जांच की तैयारी शुरू हो गयी। उन्होंने बताया कि मुजफ्फरपुर से फॉरेंसिक साइंस लैबोरेट्री की टीम को भी बुलाया गया है। उसके बाद ही आगजनी के कारणों का पता चल पाएगा। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (DMCH) भेज दिया।

बिरौल थाना क्षेत्र के शेखपुरा मोहल्ले की घटना

यह घटना बिरौल थाना क्षेत्र के सुपौल बाजार स्थित शेखपुरा मोहल्ले की है। बताया जाता है कि मोहल्ले के मो . खुर्शीद आलम ( 40 वर्ष ) ने पहली पत्नी बीवी परवीन उर्फ गुलशन खातून ( 35 वर्ष ) के रहते हुए दो वर्ष पूर्व दूसरी शादी 28 वर्षीय रोशन खातून से कर ली थी। वर्तमान में रोशन खातून गर्भवती थी। शनिवार को सुबह गुलशन खातून ने अपनी सास 65 वर्षीय रुबेदा खातून के शरीर पर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी। इसके बाद उसने एक कमरे में सो रही सौतन रोशन खातून और पति खुर्शीद के शरीर पर भी पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। इसी बीच गुलशन खातून ने अपने शरीर पर भी पेट्रोल छिड़ककर खुद को आग के हवाले कर दिया।

इस घटना में गुलशन खातून और सास रुबेदा खातून की मौत घटना स्थल पर ही हो गयी, जबकि गंभीर रूप से झुलसे मो. खुर्शीद और दूसरी पत्नी रोशन खातून की मौत इलाज के दौरान DMCH में हो गयी। बताया जाता है कि खुर्शीद की शादी 20 वर्ष पूर्व गांव में ही गुलशन खातून से हुई थी। खुर्शीद ने पहली पत्नी के रहते हुए डेढ़ वर्ष पूर्व बेक गांव के जुबैर की पुत्री रोशन खातून से दूसरी शादी कर ली। इसके बाद घर में कलह बढ़ने लगा। घर में अक्सर मारपीट होने लगी, जिससे तंग आकर गुलशन खातून ने इस घटना को अंजाम दे डाला।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT