Header 300×250 Mobile

सोशल मीडिया पर हथियार लहराना पड़ा महंगा, पुलिस ने कसा शिकंजा

बिक्रमगंज के बाद इंद्रपुरी में पिस्टल सहित दो युवकों को पुलिस ने दबोचा

- Sponsored -

518

- sponsored -

- Sponsored -

सोशल साइट्स पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों पर पुलिस आईटी सेल की पैनी नज़र

8 अगस्त को डाला था हथियार चमकाने का वीडियो, अगले ही दिन गिरफ्तार

अभिषेक कुमार के साथ बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। फेसबुक सहित अन्य सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट या हथियारों के प्रदर्शन पर पुलिस नजर गड़ाए हुए है। रोहतास पुलिस का आईटी सेल ऐसे मामले को लेकर काफी सक्रिय है। जिले में ऐसे लोग न सिर्फ पकड़े जा रहे हैं, बल्कि जांचोपरांत दोषी पाए गए लोगों पर कार्रवाई करते हुए जेल भेजने की प्रक्रिया भी हो रही है। इस कड़ी में 8 अगस्त को सोशल मीडिया पर आग्नेयास्त्र चमकाने का वीडियो फोटो पोस्ट करने वालों को पुलिस ने धर दबोचा है।

 रोहतास पुलिस ने की त्वरित कार्रवाई 

आपत्तिजनक पोस्ट की जानकारी मिलते ही हरकत में आयी रोहतास पुलिस ने त्वरित कार्रवाई की। तकनीकी सेल एवं अन्य पुलिस पदाधिकारियों की विशेष टीम गठित करते हुए एसपी आशीष भारती ने त्वरित कार्रवाई का फरमान जारी किया।

इस दौरान ताबड़तोड़ हुई वाहन चेकिंग अभियान में डेहरी नगर थाना क्षेत्र के डिलियां गांव निवासी राज कमल सिंह के पुत्र विजय कुमार सिंह और जक्कीविगहा निवासी जनार्दन मिश्रा के पुत्र उज्जवल कुमार मिश्रा को अवैध हथियार रखने और सोशल मीडिया पर फोटो वायरल कर समाज में भय व्याप्त करने के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने एक पिस्टल, दो मोबाइल के साथ स्कॉर्पियो भी जप्त किया है।

स्कार्पियो पर लगा है पुलिस का स्टीकर

विज्ञापन

फेसबुक पर अग्नेयास्त्र सहित वीडियो फोटो वायरल करने वाले युवकों की गिरफ्तारी के बाद पिस्टल और मोबाइल के साथ स्कोर्पियो बरामद की गई। स्कॉर्पियो के अगले शीशे पर बाएं कोने में पुलिस का स्टीकर लगा हुआ पाया गया है।

बताते चलें कि पुलिस, प्रेस, अधिवक्ता या अन्य किसी तरह का अनाधिकृत स्टिकर लगाया जाना भी विधि विरुद्ध कृत्य माना जाता है, जिसके तहत पुलिस को कार्रवाई करने का पूरा अधिकार है।

पहले बिक्रमगंज में हो चुकी है कार्रवाई

सोशल मीडिया पर पिस्टल लहराने के आरोप में रोहतास पुलिस की गई यह पहली कार्रवाई नहीं है। इसके पहले भी जून महीने में रोहतास पुलिस ने पिस्टल लहराने के आरोप में बिक्रमगंज के एक निजी क्लीनिक से नीतीश कुमार और रौशन गिरी को चार जिंदा कारतूस के साथ एक पिस्टल सहित गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

जब्त की गई स्कोर्पियो तथा बरामद हथियार व मोबाइल
जब्त की गई स्कोर्पियो तथा बरामद हथियार व मोबाइल

आपत्तिजनक पोस्ट करने पर दर्जनों लोग भेजे जा चुके हैं जेल

फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट और अमर्यादित भाषाओं का प्रयोग करते हुए कॉमेंट करने वाले दर्जनों लोगों को रोहतास पुलिस ने लिखित शिकायत के आलोक में जेल भेजने की कार्रवाई की है।

रोहतास के पुलिस कप्तान आशीष भारती ने बताया कि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट और असंसदीय भाषा का प्रयोग करते हुए कमेंट किए जाने के मामले में प्राप्त शिकायतों का त्वरित निष्पादन करते हुए जांच उपरांत दोषियों को जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है, जो लगातार जारी रहेगी। बिक्रमगंज में एक चिकित्सक और मुखिया के विवाद के बाद चिकित्सक के विरुद्ध फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट के मामले में भी एक गिरफ्तारी हो चुकी है ।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT