Header 300×250 Mobile

सेनारी नरसंहार पर सुशील मोदी की टिप्पणी के बाद फिर शुरू हुआ ट्विटर वार

ट्विटर अकाउंट पर रोक हटते ही सुशील मोदी से फिर भिड़ी लालू प्रसाद की बेटी

- Sponsored -

258

- sponsored -

- Sponsored -

रोहिणी आचार्या ने एनडीए सरकार के दौरान हुए हत्याकांड व घोटाले पर किये सवाल

पटना (voice4bihar news)। पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी भले ही राज्य सभा सांसद बनने के बाद अब राज्य की राजनीति में सीधा दखल नहीं रखते, लेकिन सोशल मीडिया पर बिहार से जुड़े मसलों पर अपना विचार रखना नहीं छोड़ते। ‘सेनारी नरसंहार’ में हाईकोर्ट के फैसले के बाद राजनीति शुरू हुई तो सुशील मोदी ने चिर परिचित अंदाज में लालू परिवार को घेरा। इसके जवाब में उतरी लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्या ने सुशील मोदी एवं राज्य सरकार पर जोरदार हमला बोल दिया है।

रविवार को सुशील मोदी ने राजद से सवाल किया -“राजद बताए, सेनारी नरसंहार किसके कार्यकाल में हुआ था…” इसके जवाब में राजद की कोई प्रतिक्रिया तो नहीं आई लेकिन तेजस्वी की बहन रोहिणी ने एक-एक कर कई सवाल कर डाले। रोहिणी ने लिखा-“डबल इंजन की सरकार ये बताएं.. बालिका गृह कांड किसके कार्यकाल में हुआ..!!” इसके बाद भी रोहिणी नहीं रुकीं, अगले ही पल सृजन घोटाला व मधुबनी नरसंहार की याद दिलाते हुए राज्य सरकार को घेरा।

रोहिणी का सवाल अभी जारी है। उन्होंने लिखा- “गोपालगंज नरसंहार कांड में जेपी यादव के परिवार को गोलियों से भून दिया गया, ये किसके कार्यकाल में हुआ..!!, डबल इंजन की सरकार ये बताए.. मां के दरबार मे मासूम बच्चों पर गोलियां किसके कार्यकाल में चली.!, डबल इंजन की सरकार ये बताए.. ब्रह्मेश्वर मुखिया की हत्या.. पलटू के इशारे पे..किसके कार्यकाल में हुआ..!!”

विज्ञापन

सुशील मोदी की शिकायत पर लॉक हुआ था रोहिणी का अकाउंट

एक तरफ कोरोना आपदा काल में राज्य की जनता मुसीबत झेल रही है तो दूसरी तरफ ट्विटर पर सत्ता व विपक्ष की ओर से घमासान जारी है। पिछले दिनों राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव व उनकी पार्टी पर सुशील मोदी ने निशाना साधा तो लालू प्रसाद की छोटी बेटी रोहिणी आचार्या ने सुमो पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद सुमो की शिकायत पर रोहिणी का ट्विटर अकाउंट लॉक हो गया था। हालांकि ट्विटर अकाउंट अनलॉक होते ही रोहिणी फिर से सुशील मोदी पर हमलावर हो गयीं।

यह भी पढ़ें : सुशील मोदी ने तेजस्वी की बहनों का लिया नाम तो भिड़ गयीं रोहिणी

डीएलएफ मामले में सुशील मोदी की राजद की खिंचाई

इससे पहले डीएलएफ रिश्वत मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को क्लीनचिट मिलने पर जहां राजद के लोग इतराते फिर रहे हैं वहीं राज्य सभा सांसद सुशील कुमार मोदी इस पर वार करना नहीं चूके। शनिवार को फैसला आने के बाद सुशील मोदी ने ट्विटर हैंडल पर लिखा। “आज जिस DLF रिश्वत मामले में लालू प्रसाद को क्लीन चिट कह कर प्रचारित किया जा रहा है उसमें तो FIR भी दर्ज नहीं हुई थी। रेल टेंडर घोटाला जिसकी जाँच CBI कर रही है उसमें लालू, राबड़ी देवी, तेजस्वी चार्ज शीटेड है और बेल पर हैं।”

ट्विटर पर तल्ख व अमर्यादित टिप्पणी के कारण सुर्खियों में रोहिणी

बता दें कि पिछले कई दिनों से अपने तीखे तेवर के साथ ट्विटर पर टिप्पणी के कारण लालू प्रसाद की बेटी इन दिनों सुर्खियों में है। वह कभी राज्य सरकार को घेरती नजर आ रही हैं तो कभी पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को अपमानित करती दिख रही हैं। इसके जवाब में जीतन राम मांझी की बहू दीपा मांझी ने रोहिणी को जैसे को तैसा वाला जवाब दिया था। इसी क्रम में भाजपा के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी की शिकायत पर रोहिणी के सोशल मीडिया एकाउंट पर शुक्रवार को 12 घंटों के लिए रोक लगी थी। रोहिणी ने शनिवार को लिखा- लो मैं फिर से आ गई… बिहार की जनता की आवाज बनकर…। इसके बाद यह जंग और भी तेज हो गयी।

यह भी देखें : लालू की बेटी को मांझी की बहू की धमकी, ठीक से रहा ना तो ठीक हो जईबू

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT