Header 300×250 Mobile

सत्तारुढ़ विधायक के भाई ने सीओ से की गाली-गलौज, खाल खींच लेने की चेतावनी दी

अंचलाधिकारी ने गाली देने से मना किया तो जान से मारने की धमकी दी

- Sponsored -

402

- Sponsored -

- sponsored -

मुजफ्फरपुर के पारू से भाजपा के विधायक अशोक कुमार सिंह के भाई हैं मनोज

सरैया के अंचालाधिकारी ने की एफआईआर, आला अफसरों से भी लगाई गुहार

पटना/मुजफ्फरपुर (voice4bihar news)। बिहार में विधायक के भाई को सीओ की खाल खींचने का लायसेंस मिल गया है। विधायक सत्ताधारी दल के हैं इसलिए सीओ के प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद भी पुलिस कुछ कर नहीं पा रही है। सीओ और विधायक के भाई के बीच बातचीत का ऑडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें विधायक के भाई द्वारा की जा रही गालियों की बौछार साफ सुनी जा सकती है। सीओ जब गाली देने से मना करते हैं तो उन्हें जान से मारने की धमकी मिलती है।

विधायक के भाई व अंचलाधिकारी के बीच बातचीत का ऑडियो हो रहा वायरल

सीओ ने घटना की जानकारी मुजफ्फरपुर के डीएम और एसएसपी को दी है। साथ में सरैया थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई है। मामला मुजफ्फरपुर जिले के सरैया अंचल में तैनात सीओ पंकज कुमार और पारू के भाजपा विधायक अशोक कुमार सिंह के भाई मनोज कुमार सिंह के बीच का है। Voice4bihar.com इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है पर अगर यह सत्य है तो मामला अति गंभीर है।

विज्ञापन

सीओ ने कहा- डिप्रेशन में हूं, कामकाज करने में असहज महसूस कर रहा

इस संबंध में सरैया के सीओ पंकज कुमार ने पारू विधायक अशोक कुमार सिंह के भाई मनोज कुमार सिंह पर जान से मारने की धमकी देने की प्राथमिकी दर्ज कराई है। सीओ ने कहा है कि वे इस घटना से मानसिक रूप से परेशान हैं। इस कारण वे कामकाज करने में असमर्थ हैं। उन्हें आशंका है कि उनके साथ अनहोनी व अप्रिय घटना घट सकती है। इसको लेकर वे काफी भयभीत हैं। सीओ ने कहा कि उन्हें मोबाइल पर धमकी दी गई ।

सीओ पर पलटवार, एससी/एसटी एक्ट में केस दर्ज करने के लिए आया आवेदन

इधर, आरोपित मनोज कुमार सिंह ने बताया कि सीओ भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। बिना पैसे लिये अंचल कार्यालय में काम नहीं होता है। अपने संबंधी को रखकर वसूली कराते हैं। जनता के काम को लेकर सिर्फ बहस हुई है। इधर, बहिलवारा के महेश राम ने सीओ पर मारपीट करने तथा जातिसूचक शब्दों से गाली – गलौज करने का आवेदन सरैया थाने में दिया है। महेश राम ने बताया कि खोरमपुर में अतिक्रमण के एक मामले में वे जानकारी लेने गये जहां सीओ ने मारपीट की तथा जातिसूचक शब्दों के साथ गाली-गलौज की।

सीओ के पक्ष में उतरे राजद नेता

उधर सीओ पंकज कुमार को धमकी मिलने के बाद शुक्रवार को अंचल कार्यालय का ताला नहीं खुला। दिनभर कामकाज ठप रहा जिससे लोग परेशान रहे। सीओ पंकज कुमार अंचल में नहीं दिखे।
बता दें कि विधायक के भाई से दाखिल – खारिज मामले में हुए विवाद ने तूल पकड़ लिया है। राजद नेता शंकर प्रसाद यादव ने घटना की निंदा करते हुए आरोप लगाया कि अधिकारी पर मनोज सिंह द्वारा हमेशा दबाव बनाकर काम कराया जाता है। ऐसी ही हरकत रही तो हमलोग चुप नहीं बैठेंगे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT