Header 300×250 Mobile

सदर अस्पताल के पास जिस्मफरोशी की सूचना से मचा हड़कंप, पुलिस ने की अस्पताल में छापेमारी

अस्पताल के आसपास देह व्यापार का धंधा चलने की मिली थी शिकायत

- Sponsored -

469

- sponsored -

- Sponsored -

संदिग्ध हालत में देखी गयी थीं छह महिलाएं, देर रात को पहुंची पुलिस तो कोई नहीं मिला

पुलिस ने कहा- गश्ती गाड़ी को देखते ही फरार हो गयीं जिस्मफरोशी में लिप्त महिलाएं

अररिया (voice4bihar news)। बिहार के अररिया जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल परिसर में जिस्मफरोशी की सूचना पर प्रशासन में खलबली मच गयी। शनिवार की देर रात जिस्मफरोशी में शामिल महिलाओं को देखे जाने की मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने त्वरित एक्शन लिया। हालांकि पुलिस जब सदर अस्पताल पहुंचीं तो वहां ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिला। माना जा रहा है कि पुलिस के पहुंचने से पहले ही सभी महिलाएं वहां से खिसक गयी थीं।

स्थानीय समाजसेवी की सूचना पर पहुंची थी पुलिस

विज्ञापन

बताया जाता है कि शनिवार की देर रात अररिया सदर अस्पताल के प्रांगण में पांच से छः महिलाएं संदिग्ध हालात में देखी गई थी। स्थानीय समाजसेवी ने इस मामले की सूचना नगर थाने की पुलिस को देकर बताया कि ये महिलाएं यहां जिस्मफरोशी की नीयत से पहुंचीं है। मामले की जानकारी मिलते ही नगर थाना पुलिस अपने सदलबल के साथ सदर अस्पताल पहुंची। लेकिन पुलिस की गाड़ी देखते ही महिलाएं वहां से फरार हो गई।

अररिया सदर अस्पताल संदिग्ध हालात में देखी गयीं महिलाओं की खोजबीन करती महिला पुलिस।
अररिया सदर अस्पताल संदिग्ध हालात में देखी गयीं महिलाओं की खोजबीन करती महिला पुलिस।

सिविल सर्जन ने नहीं रिसीव किया फोन

नगर थाने की पुलिस ने महिला पुलिस के साथ मिलकर पूरे अस्पताल परिसर की तलाशी ली, लेकिन एक भी संदिग्ध महिला कहीं भी दिखाई नहीं दी। इस बाबत नगर थाना के गश्ती दल के पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि सूचना मिली थी कि कुछ महिलाएं अस्पताल परिसर के आसपास देह व्यापार की धंधा चलाती हैं और अभी अस्पताल परिसर में देखी गयी हैं। इस सूचना के आलोक में छापेमारी की गई थी, लेकिन पुलिस वाहन को देखते ही महिलाएं फरार हो गई हैं। वही जब इस संदर्भ में मीडियाकर्मियों ने सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता से बात करना चाहा, लेकिन उन्होंने फ़ोन रिसीव नहीं किया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored