Header 300×250 Mobile

सात वर्षों से फरार अपराधी हथियार के साथ चढ़ा पुलिस के हत्थे

जातीय हिंसा फैलाने सहित गोलीबारी का है आरोपी

- Sponsored -

490

- Sponsored -

- sponsored -

आर्म्स एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर भेजा गया जेल

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। सात वर्षों से फरार जिले के कुख्यात अपराधियों में शामिल उमेश सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। उस पर जातीय हिंसा फैलाने सहित गोलीबारी का आरोप है।

रोहतास पुलिस इन दिनों हत्या लूट और रंगदारी के मामलों के वांछित अपराधियों पर शिकंजा कसने का अभियान तेज कर रखा है। इसी अभियान के तहत पिछले एक पखवारे से आधा दर्जन से अधिक कुख्यात लुटेरों को पुलिस ने शिकंजे में लेते हुए जेल भेजने की कार्रवाई की है।

विज्ञापन

जारी अभियान के बीच नोखा से गुप्त सूचना मिलते ही पुलिस के कान खड़े हो गए और सूचना के सत्यापन के पश्चात कार्रवाई करने पहुंची पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। थानाध्यक्ष राजेश कुमार के मुताबिक पुलिस ने पिछले 7 वर्षो से फरार अपराधी उमेश सिंह को पैतृक गांव भावाडीह से धर दबोचा है।

दबोचे गए अपराधी के पास से तीन ज़िन्दा कारतूस सहित एक रेगुलर देशी कट्टा भी बरामद किया गया है। गिरफ्तारी के बाद दबोचे गए अपराधी को नोखा थाना कांड संख्या 18/22 दर्ज करते हुए आर्म्स एक्ट में जेल भेजने की कार्रवाई की जा चुकी है।

पूर्व से दर्ज कांडों में रिमांड पर लेगी पुलिस

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार अपराधी उमेश सिंह कुख्यात अपराधियों की सूची में शामिल है। गिरफ्तार अपराधी पर जातीय तनाव फैलाने सहित गाली गलौज करने का आरोप है। नोखा थाना कांड संख्या 240/15 में पिछले सात वर्षो से फरार चल रहा था।

इसके अलावे पुलिस गिरफ्त में आए कुख्यात अपराधी उमेश सिंह के विरूद्ध नोखा थाना कांड संख्या 217/19 में भी नामजद अभियुक्त है । पूर्व के दर्ज मामले में पुलिस रिमांड पर लेकर पूछ-ताछ करने की रणनीति बना रही है। फिलवक्त उमेश सिंह की गिरफ्तारी से कई थानों की पुलिस ने राहत की सांस ली है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored