Header 300×250 Mobile

हाईप्रोफाइल मर्डर केस में ठेकेदार ने किया सरेंडर, विधायक रिंकू सिंह अभी फरार

सत्तारूढ़ जेडीयू विधायक की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बनी चुनौती, छापेमारी जारी

- Sponsored -

390

- sponsored -

- Sponsored -

पूर्व जिला पार्षद दयानंद वर्मा हत्याकांड में ठेकेदार शकील ने न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

एसपी खुद कर रहे कार्रवाई की मॉनिटरिंग, जल्द पुलिस करेगी हत्याकांड का उदभेदन

राजेश कुमार की रिपोर्ट

बेतिया (voice4bihar news)। बिहार के पश्चिमी चम्पारण जिले के बगहा में पिछले दिनों हुए हाई प्रोफाइल हत्याकांड में फरार चल रहे मुख्य आरोपित ठेकेदार मो. शकील ने पुलिस दबिश की वजह से अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। बता दें कि बीते दिनों अपराधियों पूर्व जिला पार्षद दयानंद वर्मा को सरेआम गोलियों से भून डाला था। इसमें ठेकेदारी विवाद सामने आया था। मामला तब हाईप्रोफाइल बन गया, जब इसमें जदयू विधायक की संलिप्तता सामने आई।

बताया जाता है कि बगहा व्यवहार न्यायालय के प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी सोनू कुमार के समक्ष उसने समर्पण किया। जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर उसे न्यायिक हिरासत में बगहा जेल भेज दिया गया। अब पुलिस ने आरोपी शकील को रिमांड पर लेने की तैयारी शुरू कर दी है।

इसकी जानकारी देते हुए बगहा एसपी किरण कुमार गोरख जाधव ने बताया कि फरार नामजद अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए एसआइटी की टीम लगातार छापेमारी कर रही थी। पकड़े जाने के डर से शकील ने न्यायालय में समर्पण किया। एसपी ने कहा कि नौरंगिया थाने की पुलिस उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। मामले में अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।

ठेकेदार को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल ले जाती पुलिस।

विज्ञापन

ठेकेदारी विवाद में अपराधियों ने पूर्व जिला पार्षद की गोलियों से भून डाला था

विदित हो कि बीते रविवार की देर शाम नौरंगिया थाना क्षेत्र के सिरिसिया चौक पर बोलेरो सवार आधा दर्जन अपराधियों ने पूर्व पार्षद दयानंद वर्मा पर ताबड़तोड़ फायरिंग करके गोलियों से छलनी कर दिया था, जिसके बाद मृतक की पत्नी कुमुद वर्मा के बयान पर नौरंगिया थाने में वाल्मीकिनगर के विधायक रिंकू सिंह, ठीकेदार मो. शकील व बबलू जायसवाल सहित अज्ञात के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

दयानन्द वर्मा हत्याकांड का अभियुक्त शकील।

जदयू विधायक का नाम आते ही हाई प्रोफाइल बन गया मामला

दयानन्द वर्मा हत्याकांड में वाल्मीकिनगर से जदयू विधायक धीरेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह का नाम आते ही मामला हाई प्रोफाइल हो गया। घटना से आक्रोशित लोगों ने बेतिया समाहरणालय में शव के साथ पहुंचकर हंगामा करते हुए डीएम से अविलम्ब कार्रवाई की मांग की थी और मामले में पूर्व विधायक राजेश सिंह, कांग्रेसी नेता मुखिया इरशाद हुसैन के साथ-साथ अन्य राजनीतिक हस्तियां विधायक रिंकू सिंह की गिरफ्तारी को लेकर सक्रिय हो गए थे।

विधायक फरार, गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी जारी

मामले में 3 नामजद आरोपियों में से घटना के समय भीड़ द्वारा पकड़े गए बब्लू जायसवाल को पूर्व में ही पुलिस जेल भेज चुकी है। बृहस्पतिवार को ठेकेदार शकील ने भी न्यायालय के समक्ष समर्पण कर दिया। फिलवक्त हत्याकांड के आरोपी विधायक रिंकू सिंह फरार चल रहे हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी जारी है। मामले में गठित एसआईटी द्वारा अन्य अपराधियों की भी शिनाख्त की गई है और उनके ऊपर न्यायालय से वारंट भी निर्गत कराया गया। हत्याकांड में शामिल अपराधियों को दबोचने और मामले का उदभेदन करने के लिए पुलिस अग्रेतर कार्रवाई में पूरी तरह मुस्तैद है।, स्वयं एसपी श्री जाधव मामले की मॉनिटरिंग कर रहे है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored