Header 300×250 Mobile

कलेक्ट्रेट में चोरी पड़ी महंगी, सीसीटीवी की मदद से धराया बाइक चोर

कलेक्ट्रेट परिसर से चोरी गयी कार्यपालक सहायक की बाइक बरामद, बाइक चोर धराया

- Sponsored -

657

- Sponsored -

- sponsored -

  • सासाराम में बाइक चोर की खैर नहीं, प्रशासन व पुलिस गंभीर
  • अब सिर्फ एफआईआर दर्ज कर फाइल बंद नहीं होगी, पकड़े जाएंगे चोर

बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar desk)। रोहतास कलेक्ट्रेट परिसर से चोरी बाइक को बरामद कर पुलिस ने एक बार फिर अपनी साख बढ़ा ली है। जिला मुख्यालय में बाइक चोरों के बढ़ते मनोबल को तोड़ने के लिए शायद प्रशासन ने कमर कस ली है। बीते कुछ वर्षों में यह पहला मौका है, जब चोरी गयी बाइक को पुलिस ने बरामद कर लिया।इससे पहले सिर्फ एफआईआर दर्ज कर मामले को रफा-दफा कर दिया जाता था। वाहन मालिक भी इंश्योरेंस की रकम के लिए कार्रवाई में जुट जाते थे। इस बार कलेक्ट्रेट परिसर से बाइक चोरी हुई थी, लिहाजा डीएम ने मामले को गंभीरता से लिया तो पुलिस ने भी तत्परता दिखाई।

क्या है पूरा मामला

पिछले 12 फरवरी को कलेक्ट्रेट परिसर से जिला पंचायत शाखा कार्यालय में कार्यपालक सहायक पद पर कार्यरत बलथुआ निवासी सोनू कुमार पैशन प्रो बाइक चोरी हो गयी थी। समाहरणालय परिसर से चोरी हुई बाइक बरामदगी मामले में कार्यालय परिसर में लगाया गया सीसी कैमरा कारगर साबित हुआ। नगर थाना में दर्ज थाना कांड संख्या 110/ 2021 के अनुसंधान के दौरान पुलिस कप्तान के निर्देश पर गठित विशेष टीम ने कलेक्ट्रेट परिसर में लगे सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन करते हुए अपराधी की पहचान करने की कवायद में जुटी थी।

अपराधी की पहचान डेहरी नगर थाना क्षेत्र के बारह पत्थर गली नंबर 8 निवासी राजेंद्र यादव के पुत्र विकास कुमार उर्फ कट्टा के रूप में की गई। घटना में शामिल अपराधी की पहचान होते हीं पुलिस ने छापेमारी कर आरोपी के घर से चोरी गई बाइक को बरामद करते हुए आरोपी चोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामले की पुष्टि रोहतास एसपी आशीष भारती ने की है। चोरी गई बाइक बीआर 24 एस 8609 बरामद हो चुकी है।

विज्ञापन

सीसीटीवी फुटेज में बाइक चोर व बरामद पैशन प्रो बाइक।
सीसीटीवी फुटेज में बाइक चोर व बरामद पैशन प्रो बाइक।

पुलिसिंग के लिए माइलस्टोन

पिछले कई वर्षों से जिला मुख्यालय सहित पूरे जिले के अनुमंडल मुख्यालय और प्रखंड मुख्यालयों में बाइक चोरी और मोबाइल छिनैती की घटनाएं इस कदर नासूर बन चुकी थी कि जिलेवासी ऐसी घटनाओं को दिनचर्या रूटीन की तरह लेते थे। घटना के बाद स्थानीय थानों में प्राथमिकी दर्ज करने की खानापूर्ति करते हुए संतोष कर लेते थे। लेकिन पुलिस की तत्परता देखकर लगता है कि अब चोरों की खैर नहीं।

एसपी आशीष भारती के पदस्थापन के बाद जिले में मद्य निषेध अधिनियम के तहत हो रही त्वरित कार्रवाई, लंबित वारंटों के निष्पादन और वारंटियों की गिरफ्तारी सहित सघन वाहन चेकिंग अभियान से जिले में हड़कंप मचा हुआ है । साथ हीं आम जनता के बीच बेहतर पुलिसिंग का संदेश प्रभावी साबित हो रहा है। इसी क्रम में बाइक चोरी के महज 4 दिनों के भीतर बाइक बरामदगी बेहतर पुलिसिंग में मील का पत्थर साबित हुआ है।

हिस्ट्रीशीटर है चोर

कलेक्ट्रेट परिसर से बाइक चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार विकास कुमार उर्फ कट्टा हिस्ट्रीशीटर चोर है। इसके विरुद्ध डेहरी नगर थाने में चोरी करने के दो अन्य मामले वर्ष 2019 में दर्ज हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT