Header 300×250 Mobile

मुजफ्फरपुर में पकड़े गए ‘छोटी उम्र’ के “बड़े चोर”, गिरोह बनाकर करते थे वारदात

बैंकों के ATM काटकर कैश चुराने में सिद्धहस्त हैं इंटरमीडिएट व स्नातक के छात्र

- Sponsored -

324

- Sponsored -

- sponsored -

मुजफ्फरपुर में लॉज में रहकर करते थे पढ़ाई, चार युवकों की गिरफ्तारी से खुला राज

मुजफ्फरपुर voice4bihar news)। उम्र भले ही 17 से 20 वर्ष के बीच हो, लेकिन अपराध के मामले में किसी शातिर गिरोह से कम नहीं। छोटी उम्र में बड़े वारदात को अंजाम देने वाले वाले गिरोह का खुलासा होने से सभी हैरान रह गए। वैसे तो हर क्षेत्र की तरह जरायम की दुनिया में भी अनुभव काफी मायने रखता है, लेकिन किशोरावस्था में ही बैंकों के एटीएम काटकर कैश चोरी करने वाले गिरोह की कारिस्तानी पर सहसा विश्वास नहीं होता। इस गिरोह का भेद तब खुला जब पुलिस ने एटीएम तोड़ते वक्त चार युवकों को पुलिस ने धर दबोचा।

एटीएम तोड़ने के दौरान ही पहुंची पुलिस की गश्ती टीम

दरअसल मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाने की पुलिस ने चार शातिर अपराधियों को एटीएम तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया है। वे जीरोमाइल-अखाड़ाघाट रोड स्थित काली मंदिर के समीप निजी बैंक की एटीएम तोड़ रहे थे। । इसी क्रम में पुलिस की गश्ती वहां से गुजरी तो वे सभी भागने लगे। यह देख थानाध्यक्ष सुनील कुमार रजक समेत अन्य पुलिसकर्मियों ने घेराबंदी कर भागते चार युवकों को दबोच लिया। इनके पास से एक पिस्तौल व लोहे का रॉड पुलिस ने बरामद किया है।

गिरोह में शामिल छोटी उम्र के कई बड़े चोर

विज्ञापन

सिटी एसपी राजेश कुमार व नगर डीएसपी रामनरेश पासवान अहियापुर थाने पहुंचकर इन सभी से पूछताछ की। नगर डीएसपी ने बताया कि पुलिस की सक्रियता के कारण एटीएम तोड़कर लाखों रुपये की चोरी की घटना टल गई। गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ में और कई शातिरों के नाम व ठिकाने का पता चला है, जिसपर पुलिस छापेमारी कर रही है।

पढ़ाई के साथ-साथ करते थे एटीएम काटने का काम

आश्चर्यजनक बात यह है कि गिरफ्तार युवकों ने पुलिस को दिए गए स्वीकारोक्ति बयान में यह खुलासा किया है कि वे सभी इंटर और बीए के छात्र हैं। वे लॉज में रहकर पढ़ाई करने के साथ ही बैंकों के एटीएम तोड़कर नगदी की चोरी को अंजाम देते रहे हैं। गिरफ्तार अपराधियों की पहचान औराई के रूपेश कुमार व अमरजीत कुमार, बेनीबाद के रोशन कुमार और सीतामढ़ी के अमन कुमार के रूप में हुई है।

सीतामढ़ी व वैशाली जिले में भी एटीएम काटने की बात स्वीकार की

पूछताछ में पता चला कि इन सभी ने मुजफ्फरपुर के अलावा सीतामढ़ी व वैशाली में भी एटीएम तोड़कर कैश चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस यह पता लगा रही है कि इस गिरोह ने अब तक कितनी एटीएम काटी है। इसके लिए इन सभी जिलों की पुलिस से संपर्क कर रिकार्ड खंगाला जा रहा है। बहरहाल, छोटी उम्र के इन बड़े चोरों की कारिस्तानी सामने आने पर पुलिस भी हैरान रह गयी।

यह भी देखें : निलंबित बीएमपी जवान निकला अंतरजिला वाहन लुटेरा गिरोह का सरगना

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT