Header 300×250 Mobile

राज्य के 57 पैक्सों का चुनाव टला, प्रत्याशियों ने खर्च कर डाले लाखों रुपये

राज्य निर्वाचन प्राधिकार ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्थगित किया चुनाव

- Sponsored -

325

- sponsored -

- Sponsored -

मार्च में हुए नोटिफिकेशन के बाद चल रही थी चुनाव प्रक्रिया, हो चुके थे नामांकन

Voice4bihar news. राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण की मार इसी महीने यहां होने वाले प्राथमिक कृषि सहयोग समिति (पैक्स) चुनावों पर भी पड़ी है। बिहार निर्वाचन प्राधिकार ने चुनाव की जारी प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। विगत मार्च में जारी निर्वाचन से संबंधित अपनी सभी अधिसूचनाओं को स्थगित कर दिया गया है। इससे राज्य के विभिन्न जिलों के 57 पैक्सों के साथ 157 प्राथमिक दुग्ध उत्पादक समितियों के चुनाव टल गए हैं। इस आदेश की जद में बिहार सांसद एवं विधानमंडल सदस्य गृह निर्माण समिति का भी चुनाव टल गया गया। इसकी अधिसूचना सात अप्रैल को निकाली गई थी।

42 पैक्सों में 17 अप्रैल को होना था मतदान, इसी दिन मतगणना भी

उल्लेखनीय है कि विगत 15 मार्च को जारी अधिसूचना के अनुसार 17 अप्रैल को पैक्सों का चुनाव होना था और इसी दिन मतगणना भी होनी थी। इसके तहत 42 पैक्सों के चुनाव की अधिसूचना भी जारी की गई थी। लिहाजा चुनाव की प्रक्रिया चल रही थी और मतदान में सिर्फ 4 दिन ही बचे थे। वहीं कई दावेदारों ने प्रचार व जनसम्पर्क से लेकर बैनर, पोस्टर व पंप्लेट पर लाखों रुपये खर्च कर दिये थे। इतना सब कुछ होने के बाद चुनाव स्थगित होने के कारण सारी तैयारी धरी की धरी रह गयी।

रोहतास जिले में चार पैक्सों के चुनाव पर आई आंच

रोहतास जिले के विभिन्न प्रखंडों के अंतर्गत कुल चार पैक्सों का चुनाव होना था, जिनपर फिलहाल रोक लगा दी गई है। इसमें नोखा प्रखंड के दो पैक्स कदवां तथा नोनसारी, संझौली प्रखंड का उदयपुर पैक्स व शिवसागर प्रखंड का नाद पैक्स शामिल हैं। इन पैक्सों में आगामी 17 अप्रैल को चुनाव होना था जिसे अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। चुनाव स्थगन के बारे में राज्य निर्वाचन प्राधिकार ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के कारण अभी राज्य में हालात सामान्य नहीं हैं, ऐसे में चुनाव के दौरान गाइडलाइन का पालन करा पाना काफी कठिन होगा।

विज्ञापन

इन पैक्सों में 17 अप्रैल को होना था मतदान व मतगणना।

पश्चिमी चंपारण के सबसे अधिक 18 पैक्सों का चुनाव टला

इस जद में पश्चिमी चंपारण जिले की सर्वाधिक 18 पैक्सों का चुनाव आया है। बगहा अनुमंडल के कुल आठ पैक्सों के लिए चुनावी प्रक्रिया चल रही थी। बगहा दो प्रखंड के जिमरी नौतनवा, बकुली पंचगांवा, यमुनापुर टड़वलिया, लक्ष्मीपुर ढोलबजवा, नयागांव रामपुर, नरवल बरवल व सेमरा कटकुईयां के साथ बगहा एक प्रखंड के मझौवा पंचायत में प्रत्याशियों ने नामांकन कर दिया है। नामांकन पत्रों की संवीक्षा भी हो चुकी है।

इसी बीच बगहा दो प्रखंड के नरवल बरवल पंचायत में अध्यक्ष पद के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा करते हुए प्रमाणपत्र भी दे दिया गया। शेष पंचायतों के प्रत्याशियों को सोमवार को ही चुनाव चिन्ह जारी किया गया था। लेकिन, अब प्रक्रिया को अगले आदेश तक रोक दिया गया है।

दुग्ध उत्पादक समितियों का चुनाव भी फिलहाल नहीं होगा

राज्य निर्वाचन प्राधिकार के इस नोटिफिकेशन का असर राज्य भर में होने वाली 157 दुग्ध उत्पादक समितियों के चुनाव पर भी पड़ा है। प्राधिकार की ओर से 16 मार्च को राज्य के 157 दुग्ध उत्पादक समितियों के चुनाव की अधिसूचना जारी की गई थी। उसी दिन अलग से नौतन प्रखंड स्तरीय मत्स्यजीवी सहयोग समिति और खजौली व्यापार मंडल समिति के अलावा अन्य 11 स्वावलंबी समितियों का भी चुनाव होना था। ये सारे चुनाव अब अगले आदेश तक स्थगित रहेंगे।

यह भी पढ़ें : सीबीएसई दसवीं की परीक्षा रद्द, बारहवीं की स्थगित

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored