Header 300×250 Mobile

अहमदाबाद से हवाई मार्ग से आ रही है रेमडेसिविर इंजेक्शन

मुख्यमंत्री ने विशेष विमान से रेमडेसिविर के 14,000 वाइल मंगवाने का दिया आदेश

- Sponsored -

383

- Sponsored -

- sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। एम्स के डायरेक्टर और आईएमए के सपष्ट निर्देश के बावजूद देश भर में रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए हाहाकार जारी है। एम्स के डायरेक्टर सुप्रीम कोर्ट में कह चुके हैं कि रेमडेसिविर इंजेक्शन कोरोना के इलाज की दवा नहीं है इसके बावजूद देश भर के डॉक्टरों को कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए इसी इंजेक्शन की जरूरत है। स्थिति की गंभीरता को भांपते हुए बिहार के मुख्यमंत्री ने रेमडेसिविर इंजेक्शन का 14,000 वायल अहमदाबाद से मंगवाने के लिए विशेष विमान को रवाना किया है। राजधानी पटना समेत पूरे राज्य में रेमडेसिविर की किल्लत को देखते हुए मुख्यमंत्री ने रविवार की शाम अपने ट्वीटर हैंडल के जरिये इसका जानकारी साझा की।

विज्ञापन

अमेरिकी कंपनी गिलियड साइंसेज की रेमडेसिविर इंजेक्शन एंटी वायरल दवा है। कोरोना के इस दौर में डॉक्टर इस दवा को जीवन रक्षक के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं । यही कारण है कि जिसकी तबियत आज ठीक भी है वह भी इस दवा को खरीद कर अपने पास स्टॉक कर लेना चहता है कि महामारी के इस दौर में आगे उसे या उसके परिवार को इसकी जरूरत पड़ सकती है। कोरोना काल में इसके बढ़ते उपयोग को देखते हुए सरकार ने इसकी कीमत करीब 2500 से घटाकर 1250 रुपये तय की है पर आज यह दवा कालाबाजार में 35000 से 70000 रुपये तक में बेची जा रही है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT