Header 300×250 Mobile

थानाध्यक्ष को लुटेरों ने मारी गोली, फोरलेन पर लुटेरों को पकड़ने के दौरान वारदात

दरिगांव थानाध्यक्ष को घायल कर अपराधी फरार, बाइक जब्त, खोखा बरामद

- Sponsored -

683

- Sponsored -

- sponsored -

घटना स्थल पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक, अपराधियों पर सख्त कार्रवाई के संकेत

सासाराम में एक माह पूर्व हुयी थी लूट के दौरान चालक की हत्या

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। कोलकाता-दिल्ली फोरलेन पर लुटेरों की बढती सक्रियता के बीच रोहतास पुलिस की मुस्तैदी ने पुलिस को लुटेरों तक पहुंचने का सुराग दे दिया है। हालांकि इस मुस्तैदी के बीच पुलिस लूटेरों को लूट के दौरान रंगे हाथ दबोचने की कोशिश तब नाकाम हो गयी, जब पुलिस अधिकारी को गोली मारकर घायल कर दिया। इस घटना में दरिगांव थानाध्यक्ष का बायां हाथ जख्मी हो गया।

दरअसल, एनएच -2 पर खडी कंटेनर के आस-पास खडे दो लोगों को देख पुलिस गश्ती दल को लूट की आशंका हुई। तत्काल पुलिस जवानों ने दबोचने की कोशिश की तो दोनों भागने लगे। इस बीच पुलिस और लूटेरों के बीच खदेड़ा-खदेरी होने लगी। इसी दौरान तीसरा लूटेरा कंटेनर के चालक केबिन से उतरकर भागने की फिराक में निकला। तभी पुलिस गश्ती का नेतृत्व कर रहे दरिगांव थानाध्यक्ष दिवाकर प्रसाद ने उसे दबोचने की कोशिश की।

घायल थानाध्यक्ष का वाराणसी में चल रहा इलाज

इस दौरान लूटेरे ने पुलिस पर गोली चला दी। गोली थानाध्यक्ष दिवाकर प्रसाद के बायें हाथ में लगी, जिससे हाथ में लिया गया मोबाईल चकनाचूर हो गया और थानाध्यक्ष की एक उंगली गंभीर रूप से डैमेज हो गयी। साथ हीं हथेली के मशल्स भी डैमेज हुए हैं। घायल थानाध्यक्ष को प्राथमिक उपचार हेतू सदर अस्पताल सासाराम भेजा गया, जहाँ से बेहतर इलाज के लिए बनारस रेफर कर दिया गया है। बनारस में बीएचयू के ट्रामा सेंटर में जख्मी थानाध्यक्ष का इलाज चल रहा है ।

ट्रामा सेंटर, जहां थानाध्यक्ष का चल रहा इलाज
ट्रामा सेंटर, जहां थानाध्यक्ष का चल रहा इलाज।

चालक की हत्या के बाद से फोरलेन पर चौकस है पुलिस

विज्ञापन

फोरलेन पर ट्रक पिछले 29 दिसम्बर को ट्रक चालक सह मालिक के भाई सुदामा पटेल की गोली मार लूटेरों ने हत्या कर दी थी जिसमें खलासी जगमोहन पटेल को भी अपराधियों ने गोली मार जख्मी करार दिया था । सुदामा पटेल को लूटेरों ने सीने में गोली मारकर थी जबकि जगमोहन पटेल को गोली बांह में लगी थी। फोरलेन पर हुयी लूट के दौरान चालक की हत्या के बाद से हीं रोहतास पुलिस फोरलेन पर चौकस थी।

चालक की हत्या अहले सुबह हुयी थी। तमाम कोशिशों के बावजूद पुलिस को चालक हत्याकांड में घटना के एक माह बाद भी कोई सुराग नहीं हाथ लग सका था जिसको ध्यान में रखते हुए लूट कांड गिरोह की शिनाख्त करने सहित सूराग पाने की फिराक में पुलिस अहले सुबह की गश्ती के दौरान काफी चौकसी बरत रही थी कि लूटेरे हाथ में आते-आते बच निकले और थानाध्यक्ष पर गोली चला जख्मी कर गये।

घायल दरीगांव थानाध्यक्ष

घटनास्थल से बाईक और खोखा बरामद

एक माह पूर्व हुए चालक हत्याकांड में सीसीटीवी फुटेज को डालते हुए पुलिस ने लूट कांड में शामिल सफेद अपाची बाइक सवार तीन अपराधियों को चिन्हित किया था लेकिन एक माह के टेक्निकल मशक्कत के बावजूद पुलिस के हाथ खाली थे लेकिन थानाध्यक्ष पर हुई गोलीबारी के बाद घटनास्थल से बरामद सफेद रंग की अपाची बाइक और अपराधियों की संख्या तीन होने की स्थिति में बरामद बाइक को बड़ा सुराग मान रही है।

पुलिस ने घटनास्थल से खोखा भी बरामद किया है। बहरहाल अभी तक पुलिस ने किसी की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है। मामले में सदर डीएसपी संतोष कुमार राय के नेतृत्व में एस आई टी का गठन कर अनुसंधान जारी है जिसमें सर्किल इंस्पेक्टर सहित टेक्निकल टीम के पुलिस अधिकारियों को लगाया गया है ।

मौके पर पहुंचे एसपी ने दिए सख्त कार्रवाई के संकेत

थानाध्यक्ष पर गोली चलने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस कप्तान आशीष भारती मौका ए वारदात पर पहुंचे। उन्होंने घटना का बारीकी से जायजा लिया और त्वरित कडी कार्रवाई के संकेत पुलिस दिए हैं। इस दौरान दरिगांव धौडाँड सहित मुफस्सिल पुलिस टीम के अलावे तकनिकी सेल के पुलिस अधिकारी भी मौजूद थे।

पुलिस कप्तान ने जान की बाजी लगाकर लूट की रकम बरामद घटना को विफल साबित करने वाले गश्ती दल को सम्मानित करने का भी ऐलान किया है ।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored