Header 300×250 Mobile

जगदा बाबू पर भड़के तेजप्रताप, बाले-पार्टी को कर रहे बर्बाद

- Sponsored -

291

- sponsored -

- Sponsored -

पटना (voice4bihar Desk)। राजद के (RJD) प्रदेश पार्टी कार्यालय में शनिवार को तेजप्रताप यादव प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर भड़क गए। उन्होंने कहा कि जगदानंद सिंह पार्टी को बर्बाद कर रहे हैं। उनकी वजह से ही उनके पिता लालू प्रसाद बीमार हैं। लालू प्रसाद के बड़े बेटे ने यह भी कहा कि जगदानंद सिंह मेरे स्वागत के लिए भी बाहर नहीं निकले।

इस पर जगदानंद सिंह ने बाद में कहा कि अगर किसी बात को लेकर तेज प्रताप नाराज हैं तो उनसे बात कर वे उन्हें समझा देंगे। वहीं क्षत्रिय सेवा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनवंत सिंह राठौर ने इस पूरे वाकये को क्षत्रिय समाज का अपमान बताया।

शनिवार को तेजप्रताप यादव ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं को प्रदेश अध्यक्ष से मिलने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। वे आवेदन देते रहते हैं, लेकिन जगदानंद सिंह मुलाकात नहीं करते हैं। पार्टी में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्व तो स्वागत करने के लिए भी बाहर आते थे, कार्यकर्ताओं से भी आसानी से मुलाकात करते थे।

तेज प्रताप यादव ने यहां तक कह दिया कि राजद को ऐसी हालत में पहुंचाने वाले जगदानंद सिंह जैसे नेता ही हैं। राजद में जगदानंद सिंह का रूल नहीं चलेगा। यहां अप्वाइंटमेंट कल्चर नहीं चलने देंगे। यह गरीबों की पार्टी है। कोई भी कार्यकर्ता आसानी से प्रदेश अध्यक्ष से मुलाकात कर सकता है।

मौके पर तेजप्रताप यादव के साथ राजद के कई कार्यकर्ता भी पार्टी कार्यालय में मौजूद थे। मीडिया के सामने एक कार्यकर्ता ने कहा कि वे 1989 से पार्टी के साथ हैं। कई बार पार्टी दफ्तर पहुंचे लेकिन हर बार मुलाकात के लिए स्लीप मांगी जाती है। इतने सालों तक पार्टी में रहने के बाद प्रदेश अध्यक्ष से मिलने के लिए स्लीप मांगी जाए यह ठीक नहीं है।

विज्ञापन

लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने यह भी कहा कि जगदानंद सिंह ने अब तक आजादी पत्र नहीं लिखा है। इससे उनकी मंशा साफ होती है। पार्टी के कई नेताओं को भी उन्होंने आजादी पत्र नहीं लिखने दिया। मुझे सच बोलने से कोई रोक नहीं सकता। किसी से डरता नहीं हूं।

गौरतलब है कि तेज प्रताप इन दिनों अपने पिता लालू प्रसाद की रिहाई के लिए राष्ट्रपति को आजादी पत्र लिख रहे हैं। उनका लक्ष्य राष्ट्रपति तक 50 लाख पोस्टकार्ड पहुंचाना है जिसमें उनसे लालू प्रसाद की रिहाई की मांग की जा रही है। तेज प्रताप ने जगदा बाबू पर इस अभियान में भी सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया।

तेज प्रताप से करेंगे बात : जगदानंद

इधर, इस बारे में पूछे जाने पर राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि इस मुद्दे पर वे तेज प्रताप से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि विधायक तेजप्रताप अगर किसी बात को लेकर नाराज हैं तो उनसे बात कर उन्हें समझा दिया जायेगा।

समाज का सम्मन बचाने को तुरंत राजद छोड़ें जगदानंद : क्षत्रिय सेवा महासंघ

क्षत्रिय महासंघ ने इस पूरे वाकये को क्षत्रिय समाज का अपमान और भारतीय राजनीति के लिए शर्मनाक बताया। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद के एक पुत्र तेजस्वी यादव ने चुनाव के समय बाबू साहब कह कर तंज कसा अब दूसरे पुत्र तेज प्रताप ने सार्वजनिक रुप से अपमान कर जता दिया कि राजपूतों का राजद में रहना मना है। उन्होंने जगदानंद से अपील की कि वे राजपूज समाज का सम्मान बवाने के लिए तुरंत राजद छोड़ दें।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored