Header 300×250 Mobile

नकली कागजात बनाकर दो करोड़ की ठगी करने वाला हिमाचल प्रदेश का “नटवरलाल” नेपाल में गिरफ्तार

खुद को बताता था कई कम्पनी का डायरेक्टर व विदेशी कंपनियों का पार्टनर

- Sponsored -

338

- Sponsored -

- sponsored -

प्रारंभिक जांच में दो करोड़ से ज्यादा रुपये की ठगी का मामला प्रकाश में आया

पुलिस का अनुमान- नटवरलाल की ठगी का आंकड़ा दस करोड़ रुपये से ज्यादा

राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

जोगबनी (voice4bihar news)। फर्जी तरीके से नेपाली नागरिकता प्रमाण पत्र बना कर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले ‘नटवरलाल’ को नेपाल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार शख्स की पहचान हिमाचल प्रदेश के रामपुर गसेरा सिम्ला नोगली के 39 वर्षीय शेर सिंह उर्फ रवि कुमार सिंह के रूप में हुई है। अपने शातिराना अंदाज व ठगी के नायाब तरीकों की वजह से उसे ‘नटवरलाल’ की संज्ञा देना अनुचित नहीं होगा। वह खुद को कई कंपनियों को एमडी व साझेदार बताता था।

नेपाल की महानरीय अपराध महाशाखा से मिली जानकारी के अनुसार प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई है कि गिरफ्तार ब्यक्ति ने नकली कागजात बना कर दो करोड़ से ज्यादा रुपये की ठगी की है। वह अपने आप को चाइना स्टेट कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन में साझेदार तथा अंजली कंस्ट्रक्शन का मैनेजिंग डायरेक्टर व रोयल हाइड्रो कंस्ट्रक्शन का मैनेजिंग डायरेक्टर बता कर धाक जमाता था। महाशाखा के प्रवक्ता एसपी कृष्ण कोइराला ने बताया कि इसी इमेज का इस्तेमाल कर शेर सिंह ने विभिन्न व्यक्तियों से दो करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की है।

विज्ञापन

नेपाली नागरिकता का प्रमाण पत्र भी बना रखा था फर्जी

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार ‘नटवरलाल’ ने फर्जी नेपाली नागरिकता प्रमाण पत्र के आधार पर विभिन्न बैंकों में खाता खोलने से लेकर ड्राइविंग लाइसेंस तक बनाए हुआ था। इन्ही बैंक खाते के आधार पर अपने को विभिन्न कम्पनियों का डायरेक्टर व पार्टनर बताकर लोगों को बेवकूफ बनाता था। पुलिस प्रवक्ता ने बताया है कि अभी दो करोड़ से ज्यादा की ठगी का शिकायत मिली है लेकिन जिस तरह से शिकायत मिल रही है, यह आंकड़ा बढ़ कर दस करोड़ से ज्यादा भी जा सकता है।

हाइड्रो कंस्ट्रक्शन का संस्थापक अध्यक्ष बनकर एक करोड़ रुपये ठगे

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार रवि कुमार सिंह उर्फ शेर सिंह ने खुद को लाजिम्पाट स्थित रॉयल हाइड्रो कंस्ट्रक्शन का संस्थापक अध्यक्ष बताकर विभिन्न व्यक्ति से एक करोड़ रुपये की ठगी की थी। इसके लिए इसने उक्त कम्पनी के नकली लेटरपैड, कम्पनी की मुहर, नकली दस्तखत का प्रयोग किया था। इसका खुलासा तब हुआ जब उक्त कम्पनी के वास्तविक संस्थापक अध्यक्ष सुरेन्द्र बहादुर शाही व प्रेम बहादुर शाही ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

यहीं नहीं रुका ठगी का सिलसिला

‘नटवरलाल’ ने खुद को चाइना स्टेट कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड का पार्टनर बताकर रुपन्देही जिले के बुटवल के हरि मल्ल व महेन्द्र कुमार श्रेष्ठ से 43 लाख 73 हजार रुपये की ठगी की थी। गिरफ्तार नटवरलाल ने बताया था कि निर्माणाधीन बुटवल–नाराणघाट सड़क खण्ड स्थित दायां व बायां साइड के पेड़ को काटने का ठेका मिला है। इसमें साझेदार होने पर उसे 40 प्रतिशत का मुनाफा हुआ है। वही कई लोगों से कार को किराए पर लेकर फर्जी कागजात बनाने के बाद बेच देने का भी मामला सामने आया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT