Header 300×250 Mobile

रोहतास के नोखा में चल रही थी मिनी गन फैक्ट्री, पुलिस ने किया उद्भेदन

रोहतास पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मौके से एक शख्स को दबोचा

- Sponsored -

366

- sponsored -

- Sponsored -

आर्म्स कारोबार से जुड़े लोगों की पहचान के लिए अपवर्ड व डाउनवार्ड लिंक खोज रही पुलिस

अभिषेक कुमार के साथ बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। रोहतास जिले के नोखा थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गांव में छापेमारी कर पुलिस ने अवैध हथियार निर्माण करने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। नोखा से सटे सिसिरता गांव में चल रही इस मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन पुलिस की एक विशेष टीम ने किया है। बताया जाता है कि यह छापेमारी रोहतास एसपी आशीष भारती को मिली गुप्त सूचना के आधार पर हुई है जिसमें पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। भारी मात्रा में हथियार बनाने के उपकरण सहित एक देसी कट्टा बरामद हुआ है।

विज्ञापन

एसपी को मिली थी मिनी गन फैक्ट्री चलने की सूचना

मिली जानकारी के अनुसार रोहतास एसपी आशीष भारती को सूचना मिली थी कि नोखा थाना क्षेत्र के सिसिरता गांव में अवैध रूप से हथियार बनाया जाता है। एसपी ने इसे गंभीरता से लेते हुए एसडीपीओ सासाराम के नेतृत्व में एक टीम बनाई। इसमें सासाराम थानाध्यक्ष समेत अन्य पुलिस अफसर शामिल थे। पुलिस टीम ने संबंधित ठिकाने पर छापेमारी कर निर्मित व अर्धनिर्मित हथियार के साथ आर्म्स बनाने की उपकरण भी बरामद किये।

अपने घर में ही अवैध हथियार बनाता था पन्ना शर्मा

पुलिस ने बताया कि सिसिरता गांव के स्व. केशर शर्मा का पुत्र पन्ना शर्मा अपने घर में ही अवैध हथियार बनाता था। छापेमारी में उसके घर से अवैध हथियार बनाने के सामान बरामद होने के बाद पन्ना शर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मिनी गन फैक्ट्री से बरामद चीजों में एक पिस्टल, दो बैरल, पिस्टल बॉडी, कारतूस के खोखे, स्प्रींग, ड्रील मशीन, हेक्सा ब्लेड, कट्‌टा बॉडी फार्मा, छेनी-हथौड़ी व रेती शामिल हैं।रोहतास पुलिस इसे पंचायत चुनाव से पहले मिली बड़ी सफलता मान रही है। हालांकि गिरफ्तार व्यक्ति की निशानदेही पर इस धंधे में लिप्त अपवर्ड और डाउनवर्ड लिंक को खंगालने की कोशिश में पुलिस जुटी हुई है। देखना होगा कि पुलिस को आगे क्या सफलता मिलती है?

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT