Header 300×250 Mobile

रोहतास में लूटी गयी लग्जरी गाड़ी ब्रेजा से झारखंड में होता था फिरौती के लिए अपहरण

ब्रेजा लूटकांड का पुलिस ने किया खुलासा, 7 अंतरराज्यीय लुटेरों को धर दबोचा

- Sponsored -

381

- sponsored -

- Sponsored -

लूटी गयी गाड़ी बरामद, लूट कांड में प्रयुक्त लुटेरों की स्विफ्ट कार भी जब्त

वाहन लूटकांड में पकड़े गए अपराधियों पर झारखंड में दर्ज है अपहरण का केस

अभिषेक कुमार के साथ बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। पिछले दिनों रोहतास जिले से लूटी गयी लग्जरी गाड़ी ब्रेजा का इस्तेमाल अपहरण की वारदात के लिए होता था। यह सनसनीखेज खुलासा तब हुआ, जब रोहतास पुलिस वाहन लूटकांड की तह में पहुंची। पुलिस ने न केवल लूटी गयी ब्रेजा कार को बरामद किया, बल्कि इस लूटकांड में प्रयुक्त स्विफ्ट कार भी जब्त कर ली है। साथ ही लूट में शामिल सात लुटेरों को भी गिरफ्तार किया गया है। चौंकाने वाली बात यह है कि इन अपराधियों के विरुद्ध झारखंड में फिरौती के लिए अपहरण करने का मामला दर्ज है।

दिनदहाड़े ट्रांसपोर्टर से लूटी थी ब्रेजा गाड़ी व 74 हजार कैश

विगत 1 जुलाई को लुटेरों ने ट्रांसपोर्टर संतोष कुमार की ब्रेजा गाड़ी उस वक्त लूट ली थी, जब वे अरवल से ट्रक परिचालन का हिसाब-किताब कर अपने घर लौट रहे थे। रोहतास जिले के राजपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बालचंद टोला अमारी निवासी अलगू सिंह के पुत्र संतोष कुमार को अपराधियों ने हथियार व डंडे का भय दिखा कर चारपहिया ब्रेजा गाड़ी लूट ली थी। साथ ही 74 हजार रुपये कैश व मोबाइल भी लूट कर चलते बने।

विज्ञापन

बताया जाता है कि काई रंग की स्विफ्ट कार में सवार चार लुटेरों ने वारदात को अंजाम दिया था। दनवार- कच्छवा रोड में घरवासडीह मठिया के पास बदमाशों ने ट्रांसपोर्टर संतोष कुमार की गाड़ी को ओवरटेक कर रोक लिया और गाड़ी, कैश व मोबाइल लूट लिये। लूट की घटना को दिनदहाड़े करीब दो बजे अंजाम देकर अपराधियों ने पुलिस को खुली चुनौती दे डाली। घटना के समय गाड़ी में ट्रांसपोर्टर संतोष सिंह अपने साथी पुरुषोत्तम कुमार के साथ थे।

लूटे गए मोबाइल के सहारे अपराधियों तक पहुंची पुलिस

रोहतास पुलिस ने लूटकांड के मामले को चुनौती के तौर पर लेते हुए टीम गठित कर कार्रवाई शुरू की, जिसमें बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। वाहन के साथ लूटे गए मोबाइल के आधार पर पुलिस ने ब्रेजा कार को झारखंड के छतरपुर से बरामद किया। ब्रेजा बरामदगी के साथ ही सात अपराधी भी पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पकड़े गए बदमाशों में पलामू जिला के पिपरा थाना क्षेत्र अंतर्गत अंधारी बाग निवासी विनोद पासवान का पुत्र राजू कुमार उर्फ रॉकी, औरंगाबाद जिला के अम्बा थाना क्षेत्र अंतर्गत तेल्हारा गांव निवासी प्रदीप मेहता के पुत्र विकास कुमार वर्मा सहित दो अन्य अपराधियों को पुलिस ने रिमांड पर लिया है।

रिमांड पर लिये गए अपराधियों से पूछताछ में हुआ गिरोह का पर्दाफाश

रिमांड पर लिए गए अपराधियों से पूछताछ के दौरान पुलिस को लूटकांड में शामिल रोहतास जिले के कच्छवा निवासी जमालुद्दीन अंसारी के पुत्र मोहम्मद चांद उर्फ मोहम्मद फैयाज अहमद, नासरीगंज के सिकरिया निवासी धनजी सिंह के पुत्र रजनीश कुमार उर्फ अंडा, सुरेश सिंह यादव के पुत्र मुन्ना कुमार यादव तथा मानिक राम के पुत्र कुंदन कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से एक देसी कट्टा व एक जिंदा कारतूस के अलावा चार खोखा भी जब्त किये गए हैं।

पकड़े गए अभियुक्त का आपराधिक इतिहास

इतना ही नहीं, पुलिस को इन बदमाशों के पास से 5,000 नगद रुपए और ब्रेजा लूटकांड में प्रयोग की गई स्विफ्ट कार को भी जब्त कर लिया है। अभियुक्त मुन्ना कुमार यादव ने ब्रेजा लूटकांड के अलावे एक अन्य लूट कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। नासरीगंज थाना क्षेत्र में एक मोबाइल, मोटरसाइकिल और ₹1000 नगद लूट की घटना में भी वह शामिल रहा है। इसके आलोक में नासरीगंज थाना कांड संख्या 117/ 21 दर्ज है। माना जा रहा है कि वाहन लूट के बाद इसका इस्तेमाल अपहरण व अन्य संगीन अपराधों के लिए किया जाता था।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored