Header 300×250 Mobile

खुद को NHAI का अध्यक्ष बताकर 80 लाख रुपये ठगने वाले को CBI ने धर दबोचा

बिहार के मधुबनी जिले का रहने वाला है शख्स, देश भर में 8 ठिकानों पर CBI का छापा

- Sponsored -

280

- sponsored -

- Sponsored -

आरोपी के ठिकानों से बरामद हुए कई फर्जी दस्तावेज और 200 मोबाइल सिम कार्ड

पटना (Voice4bihar desk)। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) में ठेका दिलाने के नाम पर एक 80 लाख रुपये ठगी के आरोप में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि खुद को NHAI का अध्यक्ष बताकर इसने हवाला के जरिये 80 लाख रुपये का पेमेंट कोलकाता में कराया था। इस मामले की शिकायत दर्ज होने के बाद CBI की टीम जांच कर रही है।

CBI के सूचना अनुभाग से मिली जानकारी के अनुसार जांच टीम ने इस मामले में बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले मनोज कुमार झा को गिरफ्तार किया है। पिछले दिनों दर्ज एक शिकायत में आरोप लगाया गया है कि NHAI का अधिकारी बनकर एक शख्स ने 80 लाख रुपये की ठगी की है। मनोज कुमार झा ने खुद को राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकार का अध्यक्ष बताया। शिकायत करने वाले शख्स ने कहा है कि उसे कई लोगों ने मिलकर झांसा दिया है।

विज्ञापन

हवाला के जरिये कोलकाता पहुंचाये गए थे रुपये

कथित NHAI अध्यक्ष से मिलने के लिए जिस शख्स ने भेजा था वह भी कम शातिर नहीं था। उसने कहा कि दो-तीन बड़े व प्रतिष्ठित सड़क ठेकेदारों को किसी जरूरी काम के लिए रेफर कर रहा हूं। आप जाकर NHAI के अध्यक्ष से मिल लें। पीड़ित शख्स जब वहां पहुंचा तो जालसाज उसे भरोसे में लेते हुए रुपये की मांग रख दी। उसने कहा कि हमारी बेटी को रुपये की सख्त जरूरत है। कोलकाता में तत्काल 80 लाख भेज दें। हमारे दामाद कोलकाता से राशि जमा करेंगे। कथित तौर पर यह रकम हवाला के जरिए कोलकाता ट्रांसफर की गई थी और आरोपी ने खुद ही इसे इकट्ठा किया था।

हरियाणा से हुई जालसाज की गिरफ्तारी

इस मामले में कई स्तरों की जांच के बाद CBI ने जालसाज को हरियाणा के गुरुग्राम में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया। उसकी पहचान बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले मरोज कुमार झा के रुप में हुई। उससे पूछताछ के बाद CBI ने दिल्ली, कोलकाता, मधुबनी और बोकारो स्टील सिटी सहित आठ परिसरों में तलाशी ली गई, जिसमें विभिन्न आपत्तिजनक दस्तावेज और लगभग 200 सिम कार्ड बरामद हुए। गिरफ्तार आरोपी को दिल्ली की सक्षम अदालत में पेश किया गया। अदालत ने उसे 9 अगस्त तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored