Header 300×250 Mobile

94000 शिक्षक बहाली का शिड्यूल जारी, खुशी से झूम उठे अभ्यर्थी

पहली काउंसिलिंग 5, 7, 12 जुलाई, दूसरी काउंसिलिंग 2,4 और 9 अगस्त को

- Sponsored -

1,001

- Sponsored -

- sponsored -

अब जाकर बंधी उम्मीद, अगले कुछ माह में बन जायेंगे शिक्षक

पटना (voice4bihar desk)। बिहार में कक्षा एक से आठ तक 94000 शिक्षक बहाली के लिए करीब तीन लाख अभ्यर्थी जिस शिड्यूल का इंतजार पिछले दस माह से कर रहे थे वो आ गया है। इस शिड्यूल को जारी करवाने के लिए छात्रों ने लाठियां खायीं, अस्पताल में भर्ती हुए, थाने में डिटेन हुए, सर्द रातें खुले आसमान के नीचे गुजारे। इसके आने से अभ्यर्थी खुशी से झूम उठे। अब उन्हें लगने लगा है कि अगर किस्मत ने दगा नहीं दिया तो अगले कुछ माह में वे भी शिक्षक बन जायेंगे।

विभाग ने जारी किये दो तरह के शिड्यूल

बुधवार को अपर शिक्षा सचिव ने शिड्यूल जारी किया और इसकी सूचना अपने ट्वीटर हैंडल पर दी। विभाग ने फिलहाल दो तरह के शिड्यूल जारी किये हैं। एक शिडयूल उन नियोजन इकाइयों के लिए जारी किया गया है जहां दिव्यांग अभ्यर्थियों का कोटा नहीं है अथवा कोटा रहते हुए भी किसी नये दिव्यांग अभ्यर्थी ने 11 जून से 25 जून के बीच आवेदन नहीं किया है। दूसरा शिड्यूल उन नियोजन इकाइयों के लिए है जहां दिव्यांग अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।

किस नियोजन इकाई की काउंसिलिंग कब होगी इसकी सूचना विभाग 25 के बाद देगा

पटना हाईकोर्ट के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने 11 जून से 25 जून तक आवेदन करने का दिव्यांग अभ्यर्थियों को समय दिया है। दिव्यांग अभ्यर्थी इन दिनों नियोजन इकाइयों में अपना आवेदन जमा कर रहे हैं। किन नियोजन इकाइयों में दिव्यांग अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है और कहां नहीं, इसकी सूचना 25 जून के बाद विभाग की ओर से जारी की जायेगी ताकि अभ्यर्थी सुविधानुसार काउंसिलिंग में उपस्थित हो सकें।

जहां नये आवेदन नहीं आये वहां पुरानी मेधा सूची से ही काउंसिलिंग

विभाग द्वारा जारी शिड्यूल के मुताबिक जिन नियोजन इकाइयों में दिव्यांग अभ्यर्थियों का नया आवेदन नहीं आयेगा वहां पूर्व में जारी फइनल मेधा सूची के अनुसार सीधे काउंसिलिंग की जायेगी। ऐसी नियोजन इकाइयों के लिए नगर स्तर पर पांच जुलाई, प्रखंड स्तर पर सात जुलाई और पंचायत स्तर पर 12 जुलाई को काउंसिलिंग की जायेगी। ध्यान रहे कि नगर और प्रखंड नियोजन इकाई की काउंसिलिंग जिला मुख्यालयों और पंचायत नियोजन इकाई की काउंसिलिंग प्रखंड मुख्यालयों में की जायेगी।

विज्ञापन

नगर व प्रखंड नियोजन इकाई की काउंसिलिंग जिला मुख्यालयों और पंचायत नियोजन इकाई की प्रखंड मुख्यालयों में होगी

जिन नियोजन इकाइयों पर दिव्यांग अभ्यर्थियों का नया आवेदन आयेगा वहां का काउंसलिंग शिड्यूल थोड़ा लंबा होगा। ऐसी नियोजन इकाई 25 जून तक आवेदन प्राप्त करने के बाद दो जुलाई तक औपबंधिक मेधा सूची की तैयारी एवं प्रकाशन करेंगी। तीन जुलाई से नौ जुलाई तक अभ्यर्थी मेधा सूची पर आपत्ति कर सकेंगे जिनका निराकरण 12 जुलाई तक कर लिया जाना है।

मेधा सूची का अंतिम प्रकाशन 15 जुलाई तक करने के बाद इसका अनुमोदन नियोजन इकाई द्वारा करा लेना है। इसके बाद नगर निकाय की काउंसिलिंग दो अगस्त, प्रखंड नियोजन इकाई की चार अगस्त और पंचायत नियोजन इकाई की काउंसिलिंग नौ अगस्त को होगी। इसके भी नगर और प्रखंड नियोजन इकाई की काउंसलिंग जिला मुख्यालयों और पंचायत नियोजन इकाई की काउंसलिंग प्रखंड मुख्यालयों में की जायेगी।

सभी मूल प्रमाण पत्र विभाग जमा कर लेगा, सत्यापन के बाद नियोजन

आदेश में कहा गया है कि जिन नियोजन इकाइयों में दिव्यांग अभ्यर्थियों के आवेदन नहीं आयेंगे उस नियोजन इकाई में पूर्व से तैयार मेघा सूची का अनुमोदन परामर्शी समिति द्वारा किया जाएगा। इसी अनुमोदित सूची के अनुसार अभ्यर्थियों को प्रमाणपत्रों के साथ काउंसिलिंग के लिए बुलाया जायेगा।

काउंसिलिंग में चयनित अभ्यर्थियों के नियुक्ति से संबंधित मूल प्रमाण पत्रों यथा मैट्रिक का अंकपत्र एवं प्रमाण पत्र, इंटर का अंकपत्र एवं प्रमाण पत्र, स्नातक का अंकपत्र एवं प्रमाण पत्र, शिक्षक प्रशिक्षण का अंक पत्र एवं प्रमाण पत्र, टीईटी उर्तीणता प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र (यथा आवश्यक) और आवासीय प्रमाण पत्र प्राप्त किया जायेगा।

प्रत्येक काउंसिलिंग के अगले दिन नियोजन इकाई चयनित अभ्यर्थियों के सभी शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाण पत्र अपने जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) को उपलब्ध करायेंगे। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) उन सभी प्रमाण पत्रों को विभागीय वेबसाइट पर अपलोड करा कर उनका सत्यापन सक्षम प्राधिकार से कराना सुनिशचित करेंगे। सत्यापन के बाद नियोजन इकाई द्वारा चयनित अभ्यर्थियों को नियोजन पत्र निर्गत किया जायेगा। चयनित अभ्यर्थियों के सभी प्रमाण पत्रों का संधारण नियुक्ति की प्रक्रिया पूर्ण होने तक जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) द्वारा किया जायेगा।

एक बार चयनित होने के बाद दूसरी नियोजन इकाई में दावा करने पर कहीं के नहीं रहेंगे 

यदि कोई अभ्यर्थी डुप्लीकेट प्रमाण पत्र के आधार पर एक से अधिक नियोजन इकाईयों में नियोजन का प्रयास करेगा तो उसका अभ्यर्थित्व किसी भी नियोजन इकाई के लिए निरस्त कर दिया जाएगा। नियोजन इकाई काउंसिलिंग के दिन शाम पांच बजे तक रिक्त पदों के आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची जारी करते हुए इसकी सूचना जिला मुख्यालय को देंगे।

 

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored