Header 300×250 Mobile

आईपीएल में सट्‌टेबाजी के आरोप में 11 गिरफ्तार

गिरफ्तार सट्‌टेबाजों में 5 भारतीय व 6 नेपाली नागरिक शामिल

- Sponsored -

368

- sponsored -

- Sponsored -

हिमाचल प्रदेश, राजस्थान के अलावा बिहार के विभिन्न जिलों के हैं निवासी

अररिया से राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

जोगबनी (voice4bihar news)। भारत में चल रहे ‘क्रिकेट के बुखार’ यानी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में नेपाल में बैठ कर सट्‌टेबाजी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए नेपाल पुलिस ने पांच भारतीय व छह नेपाली नागरिकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों के पास से आईपीएल में सट्‌टेबाजी के दो लाख 96 हजार नगद व मोबाइल बरामद किये गए हैं।

आईपीएल में सट्‌टेबाजी के आरोप में इन भारतीय नागरिकों की गिरफ्तारी

सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार किए गए धंधेबाजों की पहचान सीतामढ़ी जिले के 29 वर्षीय विक्रम जायसवाल, सीतामढ़ी के ही 31 वर्षीय अंकित कुमार कलवार, हिमाचल प्रदेश के सोलन के 46 वर्षीय सुशील जेस्टा, राजस्थान के चुरू जिले के 31 वर्षीय पवन कुमार शर्मा, राजस्थान के झुनझुन जिले के केवडी गांव के 30 वर्षीय सुचित अग्रवाल व मोतिहारी के 40 वर्षीय मुकेश जायसवाल के रूप में हुई है।

छह नेपाली सट्‌टेबाजों की भी हुई पहचान

विज्ञापन

सट्‌टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार नेपाली नागरिकों की पहचान कैलाली जिले के धनगढी के 31 वर्षीय अशोक सिंह, रौतहट जिले के गौर के 28 वर्षीय राहुल कुमार जायसवाल, विराटनगर वार्ड संख्या तीन के 30 वर्षीय सन्दीप कुमार मंडल, काभ्रेपलानचोक चौरीदेउराली के 36 वर्षीय राजु थापा, धादिग गल्छी के 38 वर्षीय सन्तोष खतिवडा के रूप में पहचान होने की बात पुलिस ने कही है।

आईपीएल में सट्टेबाजी का ऐसे हुआ खुलासा

नेपाल में महानगरीय अपराध महाशाखा को आईपीएल में सट्‌टेबाजी की गुप्त सूचना मिल रही थी। सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने काठमांडू के झोंछे से हिमाचल प्रदेश निवासी सुशील को हिरासत में लेते हुए जब जांच की तो सट्टेबाजी के तार परत दर परत खुलते चले गए। सुशील के झोले से मिले सट्टेबाजी में प्रयोग हो रहे दो मोबाइल, हिसाब किताब की डायरी मिलने के बाद जब पूछताछ की गई तो सुशील के बयान के आधार पर काठमांडू के लाजिम्पाट स्थित खोलागल मार्ग में रहे रमेश हमाल के अपार्टमेन्ट से सुचित अग्रवाल, पवन कुमार शर्मा को हिरासत लिया गया।

आईपीएल में सट्‌टेबाजी करते पकड़े गए लोग।

जब इनकी तलाशी ली गई तो इनके पास से सट्टेबाजी का हिसाब किये गए कागज के टुकड़े, रुपये के लेनदेन का विवरण व कोड बरामद किया गया। इन लोगों के बयान के आधार पर काठमांडू के जमल स्थित एक घर में सट्टा के खेल का संचालन कर रहे मुकेश जायसवाल को गिरफ्तार किया गया। वही इसके बयान के आधार पर ठमेल से धनगढी निवासी अशोक सिंह को गिरफ्तार करने की बात महाशाखा ने कही है।

इसके बयान के आधार पर एक होटल से अन्य को गिरफ्तार करने की बात पुलिस ने कही। इन सभी के पास से विभिन्न ब्यक्ति के नाम से उल्लेखित कोर्ड हिसाब लेन देन सहित अन्य सामग्री बरामद किया गया है। गिरफ्तार सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस आईपीएल में सट्‌टेबाजी के अन्य तार को खंगालने में लगी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT