Header 300×250 Mobile

राघोपुर पहुंचे तेजस्वी, सरकार पर किया वार

करीब दो माह बाद दिल्ली से लौटे नेता प्रतिपक्ष दिख रहे सक्रिय

- Sponsored -

584

- Sponsored -

- sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। करीब दो माह बाद दिल्ली से लौटे नेता प्रतिपक्ष और राघोपुर के विधायक तेजस्वी यादव इन दिनों राजनीति में अति सक्रिय दिख रहे हैं। श्री यादव बुधवार को पटना पहुंचे हैं। बृहस्पतिवार को पटना स्थित राजद मुख्यालय पहुंचे। वहां उन्होंने पार्टी के प्रदेश प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, महासचिव श्याम रजक और पूर्व विधानसभाध्यक्ष उदय नारायण चौधरी समेत वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की।

नाराज लोगों ने काले झंडे भी दिखाये

शुक्रवार को वे बाढ़ प्रभावित अपने चुनाव क्षेत्र राघोपुर पहुंच गये। राघोपुर भ्रमण के दौरान उन्होंने अधिकारियों से राहत और वचाव कार्यों के बारे में जानकारी हासिल की। वहां उन्होंने बाढ़ से बेहाल इलाकों का जायजा लिया, लोगों से बात की और सरकार पर बरसे। हालांकि इस दौरान इलाके के कुछ युवाओं ने उन्हें काले झंडे भी दिखाये। लोगों का आरोप था कि कोरोना में जब लोगों को अपने जनप्रतिनिधि की जरूरत थी तो वे लापता थे।

तेजस्वी यादव को अपना दुखड़ा सुनाते ग्रामीण।

सरकार पर लगाया लूट मचाने का आरोप

इस दौरान नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आज उन्होंने वैशाली ज़िला अंतर्गत कटाव स्थलों का दौरा कर क्षेत्रवासियों के साथ वस्तुस्थिति का निरीक्षण किया। बारिश शुरू होते ही बढ़ते जलस्तर के कारण खेतों में लहलहाती फसल व किसानों की सैंकड़ों एकड़ जमीन कटाव के कारण गंगा में समा रही है तथा सरकार कटाव और बाढ़ राहत के नाम पर लूट मचाए हुए है।

विज्ञापन

उन्होंने कहा कि कुंभकर्णी नींद में लीन पूंजीपतियों की पार्टी भाजपा और जनता द्वारा नकारे हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार किसानों और ग्रामीणों की सुध नहीं ले रहे हैं। भाजपा-जेडीयू मिलकर कभी कोरोना तो कभी बाढ़ के नाम पर बिहार के खजाने को लूट रहीं हैं। इन्हें जनसरोकार से कोई मतलब नहीं।

राजद नेता ने कहा कि चारों तरफ से गंगा नदी के बढ़े जलस्तर से घिरे राघोपुर विधानसभा की कृषि योग्य भूमि का चारों तरफ़ से कटाव जारी है, रिहायशी। इलाकों में बाढ़ का ख़तरा बना हुआ है। पूरे उत्तरी बिहार में जलस्तर बढ़ रहा है। आम जनजीवन प्रभावित हो रहा है पर सरकार हर वर्ष की तरह बिल्कुल गम्भीर नहीं दिख रही है।

राघोपुर से लगातार दूसरी बार विधायक चुने गये हैं तेजस्वी

बता दें कि चारों तरफ से गंगा के पानी से घिरे राघोपुर में इन दिनों बाढ़ के कारण लोगों का हाल बुरा है। लोगों की फसल बाढ़ के पानी में बह गयी है। नदी की तेज धार के कारण कटाव जारी है। इस बार जून महीने में ही गंगा का रौद्र रूप देखकर लोग सहमे हुए हैं। लोगों का कहना है कि जब जेठ महीने में ही यह हाल है तो अभी सावन-भादो बाकी ही है। तेजस्वी इस दफा दूसरी बार लगातार यहां से विधायक चुने गये हैं। इसके पहले यहां से उनकी मां राबड़ी देवी भी चुनाव जीतकर बिहार की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं। 2010 में राबड़ी देवी भाजपा के सतीश यादव से चुनाव हार गयी थीं।

2015 में जब यहां से तेजस्वी यादव खड़े हुए तो मतदाताओं ने उन पर भरोया किया और वे विजयी हुए। 2015 का चुनाव तेजस्वी की पार्टी राजद ने नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के साथ मिलकर लड़ा। चुनाव जीतने पर नीतीश सरकार में वे उप मुख्यमंत्री भी बने। 2020 में तेजस्वी के खिलाफ भाजपा और लोजपा उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे, दप मतदाताओं ने उन्हें जिताकर विधानसभा भेजा। तेजस्वी फिलहाल नेता प्रतिपक्ष हैं और क्षेत्र को लोगों को उम्मीद है कि वे इस इलाके के विकास को गति दे सकते हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT