Header 300×250 Mobile

निगरानी के हत्थे चढ़ा घूसखोर लिपिक

पहली किस्त के 15 हजार रुपये लेते रंगे हाथ धराया

- Sponsored -

419

- sponsored -

- Sponsored -

नवादा (voice4bihar desk)। पटना से आई निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने जिला के संयुक्त औषधालय के प्रधान लिपिक रमेश चौधरी को मंगलवार को 15000 रु रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। घूसखोर कर्मी की गिरफ्तारी नवादा स्थित उसके कार्यालय कक्ष से की गई।

विज्ञापन

डॉ. नित्यानंद प्रसाद ने 12 मार्च को निगरानी अन्वेषण ब्यूरो में इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें प्रधान लिपिक रमेश चौधरी पर डीएसीपी का भुगतान करने के लिए 35 हजार रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। सत्यापन में मामला सही पाया गया। पहली किश्त के रूप में 15000 रिश्वत लेते प्रधान लिपिक को गिरफ्तार किया गया । पूछताछ के बाद उसे पटना की निगरानी कोर्ट में पेश करने के लिए ले जाया गया है। पटना से निगरानी के डीएसपी अरुण पासवान के नेतृत्व में आयी टीम ने यह कार्रवाई की है।

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने कहा है कि रिश्वत मांगे जाने से संबंधित कोई भी शिकायत कार्यालय अवधि में ब्यूरो के दूरभाष संख्या 0612 2215344 एवं मोबाइन नंबर 7765953261 पर की जा सकती है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT