Header 300×250 Mobile

गांवों में टीकाकरण के लिए वैन को हरी झंडी दिखकर डीएम ने किया रवाना

45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को उनके घर पर लगाया जायेगा टीका

- Sponsored -

422

- Sponsored -

- sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण अभियान को गति प्रदान करने के लिए टीका एक्सप्रेस को मंगलवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। प्रत्येक प्रखंड के लिए एक- एक वाहन का परिचालन किया जाना है। इस वाहन में नर्स एवं स्वास्थ्य कर्मी की तैनाती कर दूरस्थ गांव के 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को उनके घर के पास ही टीकाकृत करने का अभियान शुरू किया गया है। इसके लिए सिविल सर्जन ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा प्रखंडवार टीम गठित कर कार्य योजना बनाई है।

वैन से रोज 200 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य

इस अभियान के तहत प्रतिदिन प्रति वाहन 200 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके अनुरूप एएनएम, आशा, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक, प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक और जीविका को सक्रिय किया गया है। साथ ही स्वास्थ्य कर्मियों की समुचित ब्रीफिंग की गई है। जिलाधिकारी ने सभी वाहनों को झंडी दिखाते हुए मोबाइल टीम को लक्ष्य के अनुरूप प्रतिदिन उपलब्धि हासिल करने का निर्देश दिया। साथ ही सिविल सर्जन एवं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को मोबाइल टीम द्वारा किए जा रहे टीकाकरण कार्य की प्रतिदिन मॉनिटरिंग करने तथा कार्य में प्रगति लाने का निर्देश दिया।

लक्ष्य के 89 फीसद लोगों का हुआ टीकाकरण

इस बीच मंगलवार को पटना जिले में कुल 20741 लोगों को टीके लगाये गये। इनमें 18 से 44 साल आयु तक के 13585 लोगों को प्रथम डोज लगाये गये। हालांकि लक्ष्य 15290 लोगों को प्रथम डोज लगाने का था। यानि लक्ष्य के अनुरूप 89 फीसद लोगों का टीकाकरण हो पाया।  इसके अलावा 45 से 59 साल उम्र वाले 1817 लोगों को प्रथम डोज और 3086 लोगों को दूसरा डोज जबकि 60 साल से अधिक उम्र वाले 411 लोगों को प्रथम और 1008 लोगों को दूसरा डोज लगाया गया।

विज्ञापन

बेऊर जेल में टीकाकरण के विशेष सत्र में मौजूद चिकित्सा पदाधिकारी।

2611 कैदियों का भी हो चुका है टीकाकरण

यानि 25 मई को 16181 लोगों को प्रथम और 4560 लोगों को द्वितीय सहित कुल 20741 लोगों को कोरोना से बचाव के टीके लगाये गये। इनमें जेल में बंद कैदियों को लगाया गया टीका भी शामिल है। जिले के विभिन्न जेलों में चलाये गये टीकाकरण अभियान में मंगलवार को कुल 700 केदियों को टीके लगाये गये। इस प्रकार अब तक पटना की जेलों में कुल 4438 कैदियों में से 2611 को टीके लगाये जा चुके हैं।

राज्य के साढ़े 19 लाख लोगों का हो चुका है पूर्ण टीकाकरण

राज्य में 25 मई तक कुल 19,50,932 लोगों को कोरोना टीका के दोनों डोज लगाये जा चुके हैं जबिक 81,68,594 लोगों को टीके का एकमात्र खुराक लगाया गया है। 25 मई को 1,02,544 लोगों को टीके लगाये गये। इनमें 96,330 लोगों को पहला जबकि 6,214 लोगों को दूसरा डोज लगाया गया। पहला डोज लेने वालों में 87,258 लोग 18 से 44 वर्ष आयु, 6,402 लोग 45 से 59 साल आयु और 1,599 लोग 60 साल से ऊपर के लोग हैं। 25 मई को दूसरा डोज लेने वालों में 45 से 59 साल आयु के 4220 और 60 साल से ऊपर के 1438 लोग हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored