Header 300×250 Mobile

अधिकारी का बोर्ड लगे वाहन से भारी मात्रा में शराब बरामद

स्कोर्पियो पर लगा था उद्योग विभाग के महाप्रबंधक का नेमप्लेट

- Sponsored -

460

- Sponsored -

- sponsored -

अररिया नगर थाना की बड़ी कार्रवाई, शराब की बड़ी खेप बरामद

दो शराब तस्कर गिरफ्तार, मधेपुरा जिले के रहने वाले हैं दोनों

Voice4bihar news. इस वक़्त अररिया जिले से एक बड़ी ख़बर सामने आ रही है, जहां एक आला अधिकारी का नेमप्लेट लगी स्कोर्पियो से भारी मात्रा में विदेशी शराब जब्त करते हुए दो शराब तस्करों को भी पकड़ा गया है।

बताया जाता है कि गुप्त सूचना के आधार पर नगर थाना अध्यक्ष सुनील कुमार ने बेलवा पूल के पास से वाहन चेकिंग अभियान चलाकर विदेश शराब की बड़ी खेप पकड़ी। साथ ही दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया है। सबसे बड़ी बात यह है कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी का मख़ौल किस तरह शराब माफियाओं द्वारा उड़ाया जा रहा है, मानों क़ानून का खौफ़ ही नहीं है।

विज्ञापन

शराब के साथ पकड़ा गया वाहन।

सरकार चाहे शराब को लेकर जितने भी दावे कर ले पर उसकी ज़मीनी हक़ीक़त आपको हैरान कर देगी। कुछ ऐसा ही एक वाक़या पेश आया है। बिहार के सीमावर्ती ज़िले अररिया से जहां एक सरकारी अधिकारी की बोर्ड लगी गाड़ी से भारी मात्रा में विदेशी शराब की खेप के साथ दो शराब तस्कर को गिरफ्तार किया गया है। यह शराब तस्करी कर वेस्ट बंगाल के दालकोला से मधेपुरा की ओर ले जा रहे थे, जिसमें मधेपुरा ज़िले के किसी सरकारी अधिकारी का विभागीय बोर्ड भी लगा हुआ था।

स्कार्पियो गाड़ी BR 43, P 3046 मैकडोनाल्ड 20 कार्टन 180 लीटर और रॉयल स्टैग 7 कार्टन 63 लीटर कुल 243 लीटर विदेशी शराब है। होली पर्व को लेकर इतनी बड़ी शराब की खेप लाई जा रही थी जिसे नगर थाना की तत्परता से नाकाम कर दिया गया। गिरफ्तार दोनों शराब तस्कर मधेपुरा ज़िले के ही रहने वाले हैं। इनमें एक मो. उस्मान पिता हुसैन तो दूसरा प्रमोद पासवान पिता महेंद्र पासवान है।

जब्त की गई शराब।

वहीं, एसडीपीओ सदर पुष्कर कुमार ने बताया कि ये लोग दालकोला से शराब लोड कर ला रहे थे, जिसकी सूचना प्राप्त होने पर नगर थानाध्यक्ष दलबल के साथ वाहन जांच लगाया जिसके बाद यह गिरफ्तारी हुई है। यह सारी जानकारी गिरफ्तार तस्कर से पूछताछ के बाद पता चली है। इसके साथ ही शराब तस्कर पर नकेल कसने के लिए जितने भी सख़्त कदम उठाने पड़ेंगे वे इसके लिए तैयार हैं। गिरफ्तार शराब तस्करों को कठोर सज़ा दिलाई जाए इसके लिए भी पूरी कोशिश की जाएगी। इस मामले के सारे लिंक पता चल चुके हैं एवं इस गिरफ्तारी में लगी पुलिस टीम को पुरस्कृत करने के लिए ज़िला एसपी से अनुशंसा की गई है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT