Header 300×250 Mobile

ताऊ ते तूफान में डूबे जहाज में बिहार का युवक भी लापता

 समुद्री जहाज पर वायरल के रूप में काम करता था दरभंगा का राकेश कुमार

- Sponsored -

267

- Sponsored -

- sponsored -

17 मई की सुबह ताऊ ते तूफान में डूब गया था ओएनजीसी का समुद्री जहाज

पटना/दरभंगा (voice4bihar news)। पिछले दिनों आये समुद्री तूफान ताऊ ते की चपेट में आने से डूबे ओएनजीसी के जहाज में बिहार का भी एक युवक भी लापता है। दरभंगा जिले के जाले विधानसभा क्षेत्र के मुरैठा गांव निवासी तेजेंद्र ठाकुर का 28 वर्षीय पुत्र राकेश कुमार उर्फ बैजू का कोई अता पता नहीं है। वह लॉरी शिपिंग के मालवाहक जहाज पर वायरल के रूप में काम करता था। यह ओएनजीसी के अंतर्गत कांटेक्ट जहाज है।

बता दें कि ताऊ ते तूफान में डूबे ओएनजीसी के बार्ज पी305 में अब तक 51 लोगों की मौत हो चुकी है। साथ ही इसमें सवार 188 कर्मियों को बचा लिया गया है। अब भी इस जहाज के 22 कर्मचारी लापता हैं। हादसे में लापता लोगों की तलाश के लिए इंडियन नेवी और कोस्ट गार्ड की मदद से अरब सागर में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

विज्ञापन

ताऊ ते की चपेट में आकर जहाज डूबने के बाद मुंबई हाई में जारी रेस्क्यू।
ताऊ ते की चपेट में आकर जहाज डूबने के बाद मुंबई हाई में जारी रेस्क्यू।

पांच दिन बाद भी राकेश कुमार का कोई पता नहीं

मिली जानकारी के अनुसार ताऊ ते तूफान के बाद राकेश कुमार उर्फ बैजू से संपर्क नहीं होने से परिजन घबरा गए। राकेश की मां, पिता, भाई ,पत्नी और बच्चे ने कंपनी वालों से संपर्क किया तो बताया गया कि जहाज 17 मई को डूब गया जिसमें मात्र दो युवक साहिब बुनिया जो पश्चिम बंगाल निवासी है और फ्रांसिस जो केरला निवासी है की बरामदगी हुई है, बाकी13 लापता हैं।

बरामद युवक बुनिया ने बताया कि 16मई की रात जहाज में स्वेलिंग होने लगा था 5 नॉटिकल माइल्स से परमिशन नहीं मिलने के कारण जहाज अंदर नहीं प्रवेश कर सका और सुबह साढ़े पांच-छ: बजे के करीब 17 मई को दुर्घटनाग्रस्त हो गया। यह जहाज मुंबई हाई से संचालित होता है। कई दिनों से ना उसकी लाश मिली ना उससे संपर्क हो पाया परिणाम स्वरूप परिजन काफी परेशान हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT