Header 300×250 Mobile

पार्किंग में खड़ी कार में बंद थी तीन बच्चों की सड़ी-गली लाशें

नेपाल के तुलसीपुर में पिछले तीन महीने से पार्किंग में खड़ी थी भारत की कार

- Sponsored -

296

- sponsored -

- Sponsored -

पूरी तरह से सड़ चुकी हैं लाशें, पहचान करना भी हो रहा मुश्किल

अररिया से राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

जोगबनी (voice4bihar news)। नेपाल के प्रदेश संख्या पांच के दांग जिले के तुलसीपुर में एक पार्किंग में खड़ी भारतीय नंबर प्लेट की कार के भीतर बंद तीन लाशें मिलने से सनसनी फैल गयी। माना जा रहा है यह कार करीब तीन माह से इसी पार्किंग में खड़ी है और इसमें बंद लाशें पूरी तरह से सड़ चुकी हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या तीन लाशों की सड़ांध वहां मौजूद किसी भी सख्श की नाक तक नहीं पहुंची?

नेपाल में खड़ी थी भारतीय नंबर प्लेट वाली कार

मिली जानकारी के अनुसार नेपाल के तुलसीपुर उपमहानगरपालिका अंतर्गत वार्ड संख्या छह स्थित स्याउली बजार में यह पार्किंग है, जहां भारतीय नम्बर प्लेट जे 01660885 नम्बर वाली निशान कार खड़ी थी। इसी के अंदर तीन शव बरामद किये गए हैं।
इस संबंध में इलाका पुलिस कार्यालय तुलसीपुर के प्रमुख डीएसपी शिवबहादुर सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि तीन महिना से पार्किंग में खड़ी गाड़ी के अंदर शव मिले हैं। मामला काफी जटिल लगता है, लेकिन पुलिस इसकी तह तक जाने की पूरी कोशिश करेगी।

विज्ञापन

गाड़ी किसकी है और किसने पार्क की, यह भी नहीं पता चला

डीएसपी सिंह के अनुसार उक्त गाड़ी स्याउली बाजार में पिछले तीन महीने से पार्किंग में खड़ी थी। मृतक कौन हैं?, गाड़ी के अंदर पहले से थे या फिर बाद में पहुंचे? जैसे सवालों के जवाब तलाशने के लिए अनुसंधान किया जा रहा है। वही इस घटना को सुलझाने के लिए स्थानीय स्रोत से जानकारी जुटाई जा रही है। गाड़ी किसकी है, यहां किसने पार्क की… यह भी अभी स्पस्ट नहीं हो पाया है ।

बस पार्किंग के दरमियान मामला हुआ उजागर

डीएसपी सिंह के अनुसार शनिवार की संध्या एक बस कार के नजदीक पार्किंग के समीप जाने के बाद बस के स्टाफ ने दुर्गन्ध आने व लाइट में कुछ दिखने की बात कही। पुलिस को इसकी जानकारी देने के बाद शव होने की बात सामने आयी। वही शव पूरी तरह से सड़ चुके हैं।

खेल-खेल में कार में घुसे थे तीन बच्चे, गाड़ी लॉक होने के कारण निकल नहीं पाये

काफी तहकीकात के बाद इस रहस्यमयी घटना में एक अलग ही कहानी सामने आती दिख रही है। बताया जाता है कि पार्किंग में खड़ी कार के पास खेलने के दौरान तीन बच्चे उसमें घुस गये। इसी दौरान ऑटोमेटिक लॉक के कारण कार के सारे दरवाजे बंद हो गए और बच्चों ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। मरने वाले तीनों बच्चे स्थानीय बताये जाते हैं। यह भी आशंका व्यक्त की जा रही है कि किसी भारतीय ड्राइवर ने यहां गाड़ी खड़ी की थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण शायद वह इसे लेने वापस नहीं आया। पूरी घटना का पटाक्षेप पुलिस के अनुसंधान के बाद ही हो सकेगा।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT