Header 300×250 Mobile

थानाध्यक्ष पर गोली चलाने वाले लुटेरा गिरोह का तीसरा शातिर भी दबोचा गया

गिरोह के सरगना समेत 2 अपराधी पहले ही भेजे जा चुके हैं जेल

- Sponsored -

502

- sponsored -

- Sponsored -

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। फोरलेन पर अहले सुबह लूट कांड की घटनाओं को ताबड़तोड़ अंजाम से हरकत में आयी पुलिस ने अपराधियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पिछले दिनों एनएच-2 पर गश्ती के दौरान संदिग्ध अपराधियों को दबोचने के प्रयास में दरिगांव थानाध्यक्ष दिवाकर प्रसाद पर गोली चलाने वाले दुस्साहसी लूटेरा गिरोह का तीसरा अपराधी भी पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है।

पुलिस ने पुलिस कप्तान आशीष भारती के निर्देश पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो अपराधियों को पहले ही धर दबोचा है। गिरफ्तार तीसरा अपराधी चेनारी थाना क्षेत्र के चमरकैथी गांव निवासी रंगलाल पासवान का पुत्र सन्नी देओल है। पुलिस कप्तान आशीष भारती ने जानकारी देते हुए बताया कि लगातार लूट में तीन की संख्या में अपराधी चिन्हित किये गये थे ।

आपराधिक गिरोह के बारे में जानकारी देते एसपी आशीष भारती
आपराधिक गिरोह के बारे में जानकारी देते एसपी आशीष भारती

यह भी देखें :  थानाध्यक्ष को गोली मारने वाले गिरोह के दो शातिर लुटेरे गिरफ्तार, जुर्म कबूला

लुटेरों की गिरफ्तारी से पुलिस को मिली राहत

विज्ञापन

फोरलेन पर ताबड़तोड़ लूट की घटनाओं से दहशत का माहौल कायम हो चुका था दर्जनों नगदी लूट की घटनाओं में पीडीत चालकों के द्वारा पुलिस को सूचना नही दिये जाने के कारण प्राथमिकी तक दर्ज नहीं हो पाती थी बावजूद इसके स्थानीय फुटपाथी चाय पान नाश्ता वाले दुकानदारों के बीच होने वाली घटनाओं की चर्चा देर सबेरे पुलिस के कानों तक पहुंच जाती थी। घटनाओं को लेकर पुलिस विशेष चौकसी बरत रही थी।

इस गिरोह की सक्रियता तब पुलिस के लिए सिरदर्द बन गयी जब इस गिरोह ने लूटपाट के दौरान फोरलेन पर ट्रक पिछले 29 दिसम्बर को ट्रक चालक सह मालिक के भाई सुदामा पटेल की गोली मार लुटेरों ने हत्या कर दी और खलासी जगमोहन पटेल को भी अपराधियों ने गोली मार जख्मी करार दिया । सुदामा पटेल को लूटेरों ने सीने में गोली मारकर थी जबकि जगमोहन पटेल को गोली बांह में लगी थी।

फोरलेन पर हुयी लूट के दौरान चालक की हत्या के बाद से हीं रोहतास पुलिस फोरलेन पर चौकस थी। चौकसी के कारण लूट की घटना को पुलिस ने तीन फरवरी को नाकाम किया जिसमें थानाध्यक्ष दिवाकर प्रसाद लूटेरों की गोलियों का निशाना बनते बनते बचे। लुटेरों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है ।

सम्बंधित खबर :  मेड इन यूएसए पिस्टल के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ चुका है सुभाष

गश्ती और चौकसी में नहीं होगी कोताही : कप्तान

फोरलेन पर चारपहिया वाहन लूटने सहित ट्रक चालकों से लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले आधा दर्जन से अधिक गिरोह पुलिस रिकार्ड में चिन्हित है यह गिरोह पूर्व के चिन्हित गिरोह से अलग था, जिसे चिन्हित करने में थोडा समय लगा लेकिन चिन्हित होने के साथ हीं ताबड़तोड़ छापामारी कर दबोचने में पुलिस कामयाब रही।

गिरफ्तारी के बाद भी पुलिस गश्ती और चौकसी में कोई लापारवाही बर्दाश्त नहीं करने का संकेत पुलिस कप्तान ने दिए हैं। चेनारी शिवसागर दरिगांव धौडाँड और डेहरी मुफस्सिल सहित डेहरी पुलिस को हाईवे पर पूर्ववत सतर्कता बरतने का निर्देश जारी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored