Header 300×250 Mobile

मुजफ्फरपुर में बेलगाम टाटा सुमो ने 10 लोगों को रौंदा, 5 की दर्दनाक हुई मौत

सड़क के किनारे होटल में चाय-नाश्ता कर रहे लोगों पर टूटा कहर

- Sponsored -

287

- sponsored -

- Sponsored -

आधा दर्जन लोग अब भी एसकेएमसीएच में लड़ रहे जिंदगी की जंग

दुर्घटनाग्रस्त सूमो पर लगा था पुलिस का स्टिकर, चालक हुआ गायब

मुजफ्फरपुर (voice4bihar news)। मुजफ्फरपुर जिले के मीनापुर थाना क्षेत्र में मंगलवार की देर शाम को एक दर्दनाक सड़क हादसा हुआ है। मीनापुर थाना क्षेत्र के पानापुर ओपी अंतर्गत शिवराहां में एक सूमो अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे एक होटल में घुस गयी। उस वक्त काफी लोग होटल में चाय-नाश्ता कर रहे थे। सूमो ने करीब 10 लोगों को रौंद दिया। इस हादसे में पांच लोगों की तत्काल मौत हो गयी, जबकि पांच अन्य लोग जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं।

दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि होटल तहस-नहस हो गया। वहां मची अफरातफरी के बीच काफी संख्या में लोग जुट गए। आनन-फानन में घायलों को होटल से निकाल कर नजदीक के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। हालांकि, सभी घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टर ने उन्हें श्रीकृष्ण मेमोरियल मेडिकल कॉलेज अस्पताल (SKMCH) रेफर कर दिया। यहां डॉक्टरों ने पांच लोगों को मृत घोषित कर दिया। वहीं अन्य पांच लोग जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। मृतकों व घायलों की पहचान की जा रही है।

गुस्साये लोगों ने एनएच-28 को जाम किया

विज्ञापन

इधर, घटना से गुस्साए लोगों ने एनएच-28 को जाम कर दिया। आक्रोशित लोग जमकर हंगामा और प्रदर्शन करने लगे। सूचना मिलने पर कांटी, मीनापुर और पानापुर पुलिस मौके पर पहुंची और उग्र लोगों को समझाने की कोशिश की। हालांकि भीड़ इतने गुस्से में थी कि कुछ भी समझने को तैयार नहीं थी। पुलिस के साथ भी जमकर नोकझोंक हुई। स्थिति के मद्देनजर काफी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गई। काफी मशक्कत के बाद देर शाम आक्रोशितों को उचित कार्रवाई और मुआवजा का आश्वासन देकर शांत कराया गया। तब जाकर सड़क जाम समाप्त हुआ।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मंगलवार की शाम एक टाटा सूमो मोतिहारी की तरफ से तेज रफ्तार में आ रही थी। पानापुर ओपी अंतर्गत शिवराहां में अचानक चालक का स्टेयरिंग पर से संतुलन बिगड़ा और सूमो होटल में जा घुसी। अंदर बैठे लोगों को न समझने का समय मिला और न संभलने का मौका। तेज रफ्तार गाड़ी वहां बैठे लोगों को रौंदते हुए होटल में जाकर रुक गई। 10 लोग वाहन के नीचे आ गए जबकि कई लोग इसके भीतर फंसे हुए थे। होटल में जहां-तहां बेसुध गिरे लोगों व दर्द से कराह रहे लोगों को स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचाया। हालांकि ज्यादार की हालत काफी गंभीर होने के कारण इन्हें मुजफ्फरपुर स्थित मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया।

तीन घायलों की हुई पहचान, अन्य की शिनाख्त जारी

घायलों में तीन की पहचान पखनहा के कृष्णा दास, अकुराहां के नागेश पंडित और पिपराही के मोहम्मद निसार के रूप में हुई है। इन्हें भी इलाज के लिए एसकेएमसीएच भेजा गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार जिस वाहन से हादसा हुआ, उसके आगे छोटे आकार में स्टिकर लगा था। यह स्टिकर अमूनन पुलिस के लोगो में प्रयोग किया जाता है। हालांकि गाड़ी में कोई पुलिस वाला नहीं बैठा था। स्थानीय लोगों के अनुसार इसमें सिर्फ चालक था, लेकिन अभी वह कहां है, इसका किसी को पता नहीं।

घटना के बाद कई तरह की चर्चाएं हो रही है। लोगों का कहना है कि चालक नशे की हालत में था। इसी कारण हादसा हुआ। वहीं डीएसपी पूर्वी मनोज पांडेय ने पांच लोगों की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने कहा है कि जब्त सूमो के नम्बर से इसके ऑनर का पता किया जा रहा है। लोगों ने आशंका जताई है कि या तो घायलों में चालक भी शामिल हो सकता है या घटना के समय वह गाड़ी से कूदकर भाग गया होगा। दूसरी ओर देर रात तक एसकेएमसीएच में भागम-भाग व अफरातफरी की स्थिति मची रही।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored