Header 300×250 Mobile

वेलेंटाइन डे पर प्यार का इजहार पड़ा महंगा, चप्पल से हुई डॉक्टर की पिटाई

अपनी ही क्लिनिक में नाबालिग स्टाफ से कर रहा था जबरदस्ती

- Sponsored -

307

- sponsored -

- Sponsored -

  1. रिटायरमेंट के करीब पहुंचे डॉ ने नहीं किया उम्र का लिहाज, वेलेंटाइन डे पर कर रहा जबरदस्ती
  2. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र केवटी में नेत्र रोग विभाग में कार्यरत हैं डॉ रंजन, कैमरे के सामने लड़की ने पीटा

दरभंगा (voice4bihar desk)| वैलेंटाइन डे मनाने के पीछे वजह चाहे जो हो, लेकिन आम प्रचलन यही है कि इस दिन हम उम्र के युवा अपने प्यार का इजहार करते हैं। यह प्यार का इजहार अगर मर्यादा लांघने वाला हो तो मुसीबत खड़ी होना लाजिमी है। ऐसी ही एक घटना दरभंगा में सामने आई है, जहां एक अधेड़ उम्र के डॉक्टर साहब को इस वैलेंटाइन डे पर अपने से आधी उम्र की नाबालिक लड़की को प्रपोज करना महंगा पड़ गया।

दरअसल केवटी प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में कार्यरत नेत्र रोग विभाग के डॉ रंजन को वेलेंटाइन डे के अवसर पर सहायिका को प्रपोज करना महंगा पड़ा। जैसे ही डॉ साहेब ने प्यार का इजहार किया, वैसे ही सहायिका आग बबूला हो गई और डॉक्टर को खरी खोटी सुनते हुए चप्पल से पिटाई शुरू कर दी। इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि डॉ रंजन की सहायिका कैसे छेड़खानी का आरोप लगाते हुए डॉक्टर साहब की चप्पल से पिटाई कर रही है।

विज्ञापन

दरअसल डॉ रंजन केवटी प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में नेत्र रोग विभाग में काम करने के साथ ही दरभंगा हवाई अड्डा के पास अपना निजी क्लिनिक वीणा नेत्रालय चलाते हैं। उसी क्लिनिक में काम करने वाली उनकी सहायिका ने डॉक्टर साहेब पर छेड़खानी का आरोप लगाते हुए कहा कि डॉक्टर पिछले दो महीने से नौकरी का झांसा देकर हमसे काम करवा रहा है। लेकिन आज तक उन्हें हमे नौकरी नहीं दिलवा सके।

वहीं पीड़िता ने कहा कि आज डॉक्टर साहब ने उसे अपने कमरे में बुलाया और कमरे का दरवाजा बंद कर लड़की के साथ अश्लील हरकत करने लगे। जिसका लड़की ने विरोध किया। लड़की का कहना है कि उन्होंने हमारे विरोध की परवाह ना करते हुए जबरदस्ती करते रहे। जिसके बाद हमने शोर मचाना शुरू कर दिया। चिल्लाने की आवाज सुनकर आसपास की भीड़ इकट्ठा हो गई। जिसके बाद इज्जत बचा सकी।

वही डॉ रंजन ने छेड़खानी के आरोप बेबुनियाद बताते हुए कहा कि मैंने नौकरी दिलाने के नाम पर तीस हजार रुपये लिये थे लेकिन मैंने इसके साथ किसी प्रकार की छेड़खानी नहीं की है। उधर पिटाई के दौरान आरोपित डॉक्टर उस लड़की को बेटी बता रहा था।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT