Header 300×250 Mobile

जेल अधीक्षक के यहां से बरामद नोट गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन

मुजफ्फरपुर में जेल अधीक्षक व आईएएस अफसर समेत तीन अधिकारियों के यहां छापा

- Sponsored -

433

- sponsored -

- Sponsored -

आर्थिक अपराध इकाई और एसवीयू टीम की छापेमारी, करोड़ों की चल-अचल संपत्ति मिली

आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले को लेकर की गयी कार्रवाई

मुजफ्फरपुर/सहरसा (voice4bihar news)। बिहार के मुजफ्फरपुर में तीन अलग-अलग स्थानों पर शुक्रवार को एक आईएएस अफसर समेत तीन पदाधिकारियों के ठिकानों पर आर्थिक अपराध इकाई व स्पेशल विजिलेंस यूनिट टीम ने गहन छापेमारी की। इस दौरान सहरसा मंडलकारा के अधीक्षक सुरेश चौधरी के सरकारी कार्यालय में भारी मात्रा में कैश कैश बरामद हुए हैं। इन्हें गिनने के लिए मशीन मंगानी पड़ी। इसके अलावा झारखंड की वरीय आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल और बिहटा में तैनात पुलिस अवर निरीक्षक अवधेश झा के आवास को भी आर्थिक अपराध इकाई की टीम ने खंगाला

जेल सुपरिटेंडेंट के दो ठिकानों पर हुई छापेमारी

आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने शुक्रवार की सुबह सहरसा जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी के सहरसा सहित मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र के कृष्णटोली मोहल्ला स्थित दो ठिकानों पर छापेमारी शुरू की। मुजफ्फरपुर और सहरसा दोनों जगह एक साथ शुरू हुई कार्रवाई शाम को खत्म हुई। बताया जाता है कि मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा, गली नम्बर 5, कृष्ना टोली, वार्ड 2 में सहरसा जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी का आवास है। जहां स्पेशल विजिलेंस यूनिट की टीम सुबह 7 बजे ही पहुंची। जेल सुपरिटेंडेंट के घर को सुरक्षा घेरा में लेकर टीम के सदस्य कार्रवाई शुरू की। इस दौरान जेल सुपरिटेंडेंट के घर से मिले एक-एक कागजात को खंगाला।

सुरेश चौधरी की अर्जित संपत्ति डेढ़ करोड़ से अधिक

सूत्रों के अनुसार, स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने सहरसा के वर्तमान जेल सुपरिटेंडेंट सुरेश चौधरी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में केस दर्ज किया था। जिसमें उक्त अधिकारी के पास करीब 1 करोड़ 59 लाख 07,928 रुपए की संपत्ति होने का अनुमान व्यक्त किया गया है। हालांकि छापेमारी के दौरान सुरेश चौधरी के ब्रह्मपुरा कृष्णटोली मोहल्ला स्थित आवास से क्या कुछ बरामद हुआ, इस मामले में एसवीयू की टीम ने स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बताया है।

विज्ञापन

सहरसा में जेल अधीक्षक के सरकारी आवास पर छापेमारी को पहुंची आर्थिक अपराध इकाई की टीम।

छापेमारी में बरामद नोटों की मशीन से हो रही गिनती

अपुष्ट खबर के अनुसार सुरेश चौधरी के सहरसा स्थित सरकारी आवास से नगद मोटी रकम बरामद की गई है, विभागीय अधिकारी मशीन से बरामद नोटों की गिनती करने में जुटे हैं। बताया गया है कि सहरसा जेल अधीक्षक ने अपने कार्यकाल में पद का दुरुपयोग करते हुए अवैध तरीके से करोड़ो रूपये की काली कमाई की है। उनके पास कैश के अलावा, जेवरात, जमीन और उनके पास कैश के अलावा, जेवरात, जमीन और कई जगहों पर मकान होने का भी पता चला है। एसयूवी की टीम सुरेश चौधरी की पूरी चल-अचल संपत्ति का डिटेल्स खंगालने में जुट गई है। टीम में शामिल अधिकारियों ने बताया कि कार्रवाई पूरी होने के पश्चात पटना में विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल के कई ठिकानों पर छापे

मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा मोहल्ले में झारखंड की वरीय आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल के ठिकाने पर प्रवर्तन निदेशालय की टीम सुबह से ही छापेमारी कर रही है। आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में विजिलेंस यूनिट की टीम ने पूजा सिंघल के  मिठनपुरा में स्थित उनके ससुर कामेश्वर झा के मकान में गहन पड़ताल की।

पुलिस अवर निरीक्षक अवधेश झा के आवास की भी तलाशी

बिहटा में तैनात पुलिस अवर निरीक्षक अवधेश झा के सकरा कालेज के समीप स्थित आवास पर आर्थिक अपराध इकाई की टीम छापेमारी कर रही है। जानकारी के अनुसार अवधेश के पिता प्रखंड कृषि पदाधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हैं। हालांकि तीनों पदाधिकारियों के ठिकानों पर घंटों से जारी छापेमारी में क्या कुछ बरामदगी और जब्ती की गई है, इस मामले में दोपहर तक विभागीय टीम ने कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored